Saturday, Jan 28, 2023
-->
the first police commissioner of ghaziabad commissionerate took charge

गाजियाबाद कमिश्नरेट के पहले पुलिस कमिश्नर ने संभाला चार्ज, क्राइम और जाम के खिलाफ होगी जंग

  • Updated on 11/30/2022

नई दिल्ली/टीम डिजीटल। कमिश्नरेट व्यवस्था लागू होने के बाद जनपद गाजियाबाद के पहले पुलिस कमिश्नर अजय मिश्रा ने बुधवार को कार्यभार संभाल लिया। चार्ज संभालने के बाद उन्होंने अपनी प्राथमिकताओं को बताया। उन्होंने कहा कि पुलिस को ज्यादा जिम्मेदार बनाया जाएगा। 

अपराधों पर प्रभावी नियंत्रण, शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने, महिला सुरक्षा के अलावा यातायात व्यवस्था की बेहतरी के लिए काम किया जाएगा। पुलिस कमिश्नर ने क्राइम के साथ ट्रैफिक जाम को भी गंभीर समस्या माना है। चूंकि जाम का असर ज्यादा नागरिकों पर पड़ता है। 

नवनियुक्त पुलिस कमिश्नर अजय मिश्रा बुधवार को हरसांव पुलिस लाइन पहुंचे। वहां चार्ज संभालने के उपरांत उन्होंने पत्रकारों से वार्ता में काम की प्राथमिकताओं पर प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि जनपद में कमिश्नरेट प्रणाली को विधिवत रूप से लागू करने में अभी 15 दिन लग जाएंगे। तदुपरांत उप्र शासन की मंशा के अनुरूप कार्य किया जाएगा। 

कानून व्यवस्था को सुदृढ़ करने के साथ अपराधियों पर अंकुश लगाया जाएगा। उन्होंने बताया कि गाजियाबाद को निकट भविष्य में एक हजार पुलिस जवान मिल जाएंगे। अतिरिक्त फोर्स का इस्तेमाल सुरक्षा व्यवस्था की बेहतरी में होगा। उन्होंने उम्मीद जताई कि अगले 3 से 4 माह के भीतर जिले में व्यापक एवं सकारात्मक परिवर्तन दिखाई देंगे। 

प्रबुद्ध नागरिकों से विचार-विमर्श कर पुलिसिंग की जाएगी। अपराधों की रोकथाम के लिए विभिन्न जागरूकता अभियान चलाए जाएंगे। पुलिस फोर्स में इजाफा होने पर पेट्रोलिंग भी बढ़ाई जाएगी। पुलिस आयुक्त अजय मिश्रा ने कहा कि अपराध की भांति यातायात जाम भी कम गंभीर समस्या नहीं है। इसे दूर करने के भी भरसक प्रयास होंगे। 

2003 बैच के अधिकारी अजय मिश्रा मूल रूप से यूपी के जनपद बलिया के रहने वाले हैं। पिछले कई साल से वह वाराणसी में रह रहे हैं। काफी समय तक केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर रहने के बाद करीब 2 माह पूर्व वह यूपी में लौटे हैं। वाराणसी, सुल्तानपुर, प्रतापगढ़, बागपत, महोबा, इटावा, कानपुर और मैनपुरी में वह तैनात रहे हैं।
 

comments

.
.
.
.
.