Monday, Dec 06, 2021
-->
the-girl-woke-up-the-father-was-hanging-from-the-fan-in-front-the-mother-was-dead-in-the-room

बच्ची सोकर उठी,सामने पिता पंखे से लटका हुआ था,कमरे में मां मरी पड़ी थी

  • Updated on 9/14/2021

  
 
नई दिल्ली। टीम डिजिटल। छोटी छोटी बातें पारिवारिक कलह में छोटी छोटी बातें कभी कभार जान पर भी बन आती है। जब पछतावा होता है तो खुद को भी सामने वाला खत्म कर लेता है। ऐसा ही मामला राजपार्क इलाके में हुआ। जब एक पति ने पत्नी से हुए विवाद में उसकी गला घोटकर हत्या कर दी और दूसरे कमरे में जाकर सो रहे बच्चों के बीच पंखे से फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया।

लेकिन प्रश्न अब यहीं उठ रहा है कि दंपत्ति के मरने के बाद उनके छोटे बेटा बेटी का पालन पोषण कौन और कैसे करेगा। जिन्होंन अपने माता पिता को सबसे पहले मृतावस्था में देखा था। पुलिस मकान मालिक और चश्मदीद बेटी से पूछताछ कर रही है। पुलिस को मौके पर से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।
पुलिस अधिकारियों ने बताया कि मृतक दंपति की पहचान हेमंत और लक्ष्मी के रूप में हुई है। उनके साल साल का बेटा और 14 साल की बेटी है। पिछले कुछ ही महीने से वह रत्न विहार इलाके में किराए के मकान पर रह रहे थे। हेमंत सुल्तानपुर माजरा इलाके में स्थित एक फैक्टरी में लकड़ी पॉलिश का काम करता था।

दंपति पिछले काफी समय से दिल्ली में ही रह रहे थे। वह शराब पीने का आदी था। जिसके बाद वह अपनी पत्नी के साथ छोटी छोटी बातों पर झगड़ा व मारपीट करता था। वह कई बार अपनी बेटी व बच्चों को डांट दिया करता था। हेमंत से परेशान होकर स्थानीय थाने में उसके खिलाफ मारपीट करने आदी की लिखित शिकायत भी दे रखी थी।

पुलिस ने हेमंत को वार्निंग भी दी थी। लेकिन वह सुधारा नहीं था। रविवार शाम को भी हेमंत ने खाना खाने के बाद पत्नी से काफी झगड़ा व हाथापाई की थी। दोनों अपने कमरे में सोने चले गए थे। जबकि दोनों बच्चे अपने कमरे में रोज की तरह सो गए थे। रात को हेमंत की बेटी की आंख खुली थी। जिसने सामने देखा,उसका पिता पंखे से चुन्नी से फंदा लगाकर लटका हुआ था। वह जोर से चिल्लाई,तुरंत अपनी मां को बताने उनके कमरे में गई।

कमरे का दरवाजा खुला हुआ था। बिस्तर पर उसने अपनी मां को देखा,उनकी आंखे खुली थी। वह मृतावस्था में पड़ी थी। बच्ची चिल्लाती हुई,नीचे बने मकान में मकान मालिक के पास पहुुंची,जिनको मामले की जानकारी दी। मकान मालिक ने दोनों को देखकर तुरंत पीसीआर को वारदात की जानकारी दी थी। पुलिस ने तुरंत मौके पर पहुंचकर शवों को संजय गांधी अस्पताल पहुंचा। उनको परिवार वालों को मामले की जानकारी दी। पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.