Wednesday, Jun 19, 2019

खुद को क्राइम ब्रांच का अधिकारी बताकर युवक को ठगा, जांच में जुटी पुलिस

  • Updated on 4/13/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बिजनौर यूपी के रहने वाले मोहम्मद फहीम अपने गांव जाने के लिए गाड़ी का इंतजार कर रहे थे। तभी एक कार सवार आया और उन्हें रास्ते में छोड़ देने की बात कह,दो लोगों के साथ गाड़ी में बैठा लिया। फिर खुद को क्राइम ब्रांच का अधिकारी बता।

जांच की बात कह उनके सारे पैसे एक लिफाफे में रख दिया। फिर उतरते समय दूसरा लिफाफा पीड़ित को देकर फरार हो गए। पीड़ित के शिकायत पर निजामुद्दीन पुलिस मामला दर्जकर आगे की कार्रवाई कर रही है। 

पति-पत्नी का झगड़ा सास पर पड़ा भारी, बेवजह हुई मौत

पुलिस अधिकारी के मुताबिक मोहम्मद फहीम मूलरूप से यूपी के बिजनौर के रहने वाले हैं और दिल्ली में दिलदार बस्ती हजरत निजामुद्दीन इलाके में रहते हैं। वीरवार को वह अपने गांव जाने के लिए निकलते थे।

निजामुद्दीन से बस पकड़कर उन्हें जामिया जाना था,जहां से उनके गांव का बस मिलता था। पहले एक ऑटो पर बैठे, लेकिन किराए की बात को लेकर कुछ दूर आगे जाने के बाद पेट्रोल पंप के पास उतर गये। वहां पर दो लोग पहले से खड़े थे। 

 राजधानी में बेखौफ हुए बदमाश, शख्स को गोलियों से भून फरार हुए आरोपी, दो महिलाएं घायल

बातचीत में पूछा कि कहा जाना है,तो पीड़ित ने ओखला जाने की बात की। तब उन्होंने भी कहा कि उन्हें भी ओखला जाना है। तभी एक सफेद रंग की गाड़ी आई और पूछने लगा कि कहां चलना है।

दोनों ने ओखला जाने की बात कह गाड़ी में बैठ गए। फिर पीड़ित को भी छोडऩे की बात कह गाड़ी में बैठा लिया। कुछ दूर आगे जाने पर कार में आगे की सीट पर बैठे शख्स ने खुद को क्राइम ब्रांच का अधिकारी बताया और कहा कि आगे जांच हो सकती है,इसलिए जो है वह इस लिफाफे में रख दो। पुलिस वाले पूछे तो बोल देना कि शादी के लिए पैसे ले जा रहा हूं। 

मॉब लिंचिग की बलि चढ़ा चोर, लोगों ने बंधक बना कर दी हत्या

पीड़ित ने उस लिफाफे में अपने पास रखे करीब साढ़ 27 हजार रुपये लिफाफे में रख दिया। फिर कुछ दूरी जाने के बाद उन्होंने पीड़ित को नीचे उतार दिया और दूसरा लिफाफा बदल दे दिया। उनके जाने के बाद पीड़ित को ठगी का अहसास हुआ। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.