Sunday, Jan 23, 2022
-->
then-dwarka-began-to-resonate-with-the-flurry-of-bullets

फिर गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंजने लगी द्वारका

  • Updated on 1/15/2022

फिर गोलियों की तड़तड़ाहट से गूंजने लगी द्वारका

- 11 व 12 जनवरी को अलग-अलग स्थानों पर हुई फायरिंग की तीन वारदातें

- एक मे रंगदारी, दूसरे में डराने के लिए व तीसरे मामले में रुपए देने के बहाने में दरवाजा खुलवा कारोबारी पर चलाई गोलियां

नई दिल्ली/मुकेश ठाकुर

राजधानी दिल्ली की द्वारका उपनगरी फिर से गोलियों की तड़तड़ाहट गूंजने लगी है। स्थिति यह है कि 11 से 12 जनवरी के बीच दो दिनों में ही इलाके के सक्रिय बदमाशों द्वारा फायरिंग की तीन वारदातों को अंजाम दिया गया। इसमें एक में बाबा हरिदास नगर में एक कस्टम कर्मी से रंगदारी के लिए उसके दरवाजे पर, दूसरे में एक प्रोपर्टी कारोबारी को डराने के लिए उसके ऑफिस के बाहर और तीसरे मामले में रुपए देने के बहाने दरवाजा खुलवा कारोबारी पर गोलियां चलाई गई है। 

दो मामलों में मिली सफलता

वैसे पहले दो मामलों में जिला पुलिस ने सफलता हासिल की है, इसमें पुलिस ने आरोपी को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया है। पर इस दौरान भी बेखौफ बदमाश पुलिस कर्मियों पर भी गोलियां चलाने से नहीं हिचके। 

रुपये लौटाने वाला बन हमलावर ने खुलवाया दरवाजा

 तीसरा मामला 12 जनवरी रात करीब पौने 10 बजे का है। जानकारी के अनुसार पीड़ित 38 वर्षीय दुर्गा सिंह का उत्तम नगर इलाके में फर्नीचर का कारोबार है। वह परिवार के साथ जय विहार, नजफगढ़ में रहते हैं।

घटना की रात उनके घर के दरवाजे को किसी ने खटखटाया। जब उन्होंने दरवाजा खोला तो बाहर दो लोग खड़े मिले। उन्होंने कहा कि वह जग्गी के कहने पर उन्हें रुपए देने आए हैं। रुपए देने के लिए उन्हें घर के अंदर ले चलने के लिए कहा। पीड़ित ने किसी जग्गी नाम के शख्स को नहीं जानने और ऐसे किसी शख्स से रुपए नहीं लेने हैं कहते हुए उन्हें अंदर आने से मन कर दिया। इतना सुनते ही दोनो ने पिस्टल निकाल ली और पीड़ित पर तान दी। इससे पहले की वे गोली चलाते पीड़ित ने घर का दरवाजा बंद कर लिया। जिससे बदमाशों द्वारा चलाई गोली दरवाजे में जा लगी और उनकी जान बच गई। फायरिंग के बाद आरोपी उन्हें जान से मारने की धमकी देते हुए वहां से फरार हो गए। घटना के बाद पीड़ित ने मामले की सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची नजफगढ़ थाने की पुलिस ने घटनास्थल से एक खोखा भी बरामद किया है। फिलहाल पीड़ित के बयान पर केस दर्ज कर पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। फिलहाल पुलिस आसपास मौजूद सीसीटीवी कैमरों की फुटेज के आधार पर आरोपियों की पहचान करने का प्रयास कर रही है। साथ हमले का कारण जानने का भी प्रयास कर रही है, ताकि उससे भी हमलावर के बारे में जानकारी जुटाया जा सके।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.