Wednesday, Jun 19, 2019

मॉब लिंचिग की बलि चढ़ा चोर, लोगों ने बंधक बना कर दी हत्या

  • Updated on 4/13/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। चोर को पकड़कर खुद ही दे डाली मौत की सजा। नरेला इलाके में स्थित एक फॉर्म हाउस के कर्मचारियों ने चोर को पकड़ लिया। जिसको करीब 11 घंटे तक कमरे में हाथ पैर बांधकर बंधक बना लिया।

उसकी बुरी तरह से पिटाई की। अधमरी हालत में उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव की पहचान के लिए बाबू जगजीवन राम अस्पताल की मोर्चरी में सुरक्षित रखवा दिया है।

पुलिस ने मामला दर्ज कर नाबालिग समेत तीन को पकड़ा है। दो आरोपियों की पहचान विनोद और राहुल के रूप में हुई है। पुलिस अधिकारियों ने मामले में मॉब लिंचिग की आशंका से इनकार नहीं किया है।

उनका कहना है कि मृतक के फरार साथी की तलाश की जा रही है। जिसके पकड़े जाने के बाद ही साफ हो पाएगा कि वह चोरी की वारदात करने आए थे या नहीं। पुलिस को फॉर्म हाउस में सीसीटीवी कैमरा भी लगा मिला। लेकिन उसका डीवीआर गायब मिला पाया।

जानकारी के मुताबिक नरेला स्थित घोघा मोड़ पेट्रोल पंप के पास एक फॉर्म हाउस है। जिसका मालिक योगेश मित्तल है। योगेश परिवार के साथ पीतमपुरा में रहता है। उसका अपना कारोबार है। वीरवार दोपहर राजा हरिश चन्द्र अस्पताल से नरेला पुलिस को सूचना मिली। एक युवक को अधमरी हालत में लाया गया था। जिसकी मौत हो गई।

पुलिस मौके पर पहुंची। जिसकी उम्र करीब 20 साल थी। उसके हाथ और पैर पर रस्सी से बांधने के निशान थे। उसके शरीर पर डंडों आदि के चोट के दर्जनों निशान थे। पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। पुलिस को मौके पर पता लगा कि फॉर्म हाउस के कर्मचारियों ने उसे भर्ती कराया था। 

माफी मांगने पर और ज्यादा पीटा युवक को
चोर ने जब कर्मचारियों से माफी मांगने की कोशिश की। कर्मचारियों ने उसको उतना ही ज्यादा बुरी तरह से पीटा, चोर को पूरी रात सोने नहीं दिया। उसको समय समय पर जो भी कमरे में आता। वहीं डंडा उठाकर बुरी तरह से पीटता।

उसको अधमरी हालत में भी पीटा गया था। चोर से उसके साथी के बारे में पूछने पर उसने उनको कहा था कि वह उसके बारे में बता देगा। इसके बावजूद उसकी बुरी तरह से पिटाई की गई थी। उसके पूरे शरीर पर चोर के निशान थे। 

बुधवार की रात साथी के साथ आया चोरी करने
उन्होंने बताया कि बुधवार की रात करीब साढ़े 12 बजे युवक अपने एक अन्य साथी के साथ फॉर्म हाउस में चोरी करने के इरादे से आया था। जिनको पकडऩे के लिए फॉर्म हाउस के कर्मचारी पहले से घेराबंदी कर पेड़ों के पीछे छुपे बैठे थे। दोनों आरोपी जैसे ही दीवार फांदकर फॉर्म हाउस में आए। उनको पकड़ लिया।

एक साथी कर्मचारियों से बचकर फरार हो गया। जबकि एक फरार होने में कामयाब नहीं हो पाया। उसे कमरे में बंद कर हाथ पैर बांध दिये। कर्मचारियों ने चोर के पकड़े जाने की सूचना अपने मालिक को दी। वीरवार सुबह करीब साढ़े 11 बजे तक जो भी कमरे आया। उसने उसकी डंडों और लात घुसों से बुरी तरह से पिटाई की। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.