Monday, Nov 29, 2021
-->
three-including-asi-imprisoned-for-trying-to-bribe-judge

जज को रिश्वत देने के कोशिश एएसआई समेत तीन को कैद

  • Updated on 9/28/2021

जज को रिश्वत देने के कोशिश एएसआई समेत तीन को कैद
चपरासी की नौकरी के लिये रिश्वत देने का किया था प्रयास
नई दिल्ली, टीम डिजिटल। राउज एवेन्यू स्थित विशेष न्यायाधीश किरण बंसल की अदालत ने एक न्यायाधीश को रिश्वत की पेशकश करने के मामले में दिल्ली पुलिस के एक एएसआई सहित तीन आरोपियों को  दोषी करार देते हुए तीन-तीन साल कैद की सजा सुनाई है। 

आरोपियों ने अदालत में तृतिय श्रेणी के पदों पर भर्ती के लिए न्यायाधीश को रिश्वत देने का प्रयास किया था। दोषियों में एएसआई तारा दत्त, मुकुल कुमार और रमेश कुमार को सजा सुनाई गई है। एक अन्य आरोपी दयानंद शर्मा की मुकदमे के दौरान मौत हो गई मृतक, दयानंद शर्मा दिल्ली नगर निगम में स्पेशल मजिस्ट्रेट था।

अदालत ने आरोपियों को भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के प्रावधानों और आपराधिक साजिश रचने के आरोप में दोषी माना है। अदालत ने अपने फैसले में कहा है कि अभियोजन पक्ष पुख्ता साक्ष्य देकर बिना किसी संदेह के आरोपियों का अपराध साबित करने में सफल रहा है। 

दोषी एएसआई तारा दत्त, मुकुल कुमार और रमेश कुमार ने न्यायाधीश चंद्र शेखर को 50 हजार रुपये देने की आपराधिक साजिश रची थी। दाषियों ने नायाब कोर्ट सुरेंद्र कुमार को रुपये से भरा लिफाफा न्यायाधीश को देने के लिए दिया था। दोषी मुकुल ने अदालत में तृतिय श्रेणी (चपरासी) की नौकरी के लिए रिश्वत की पेशकश की थी। अदालत ने मामले में नायब कोर्ट की गवाही को अहम माना । तीस हजारी अदालत में एएसआई तारा दत्त की उपस्थिति, सीसीटीवी फुटेज और उसकी मोबाइल फोन लोकेशन के माध्यम से पता चला कि सभी षड्यंत्र में शामिल थे।
 

चपरासी की नियुक्ती के किया था रिश्वत देने का प्रयास
2017 में अदालत में तृतिय श्रेणी (चपरासी) की भर्ती चल रही थी। न्यायिक अधिकारी चंद्रशेखर नियुक्ति समिति में सदस्य थे। अभियोजन के अनुसार, सहायक पुलिस उपनिरीक्षक तारा दत्त ने न्यायाधीश चंद्रशेखर को उनके कोर्ट के नायब कोर्ट के जरिए 50 हजार रुपये से भरा लिफाफा देने का प्रयास किया, ताकि न्यायाधीश मुकुल को चपरासी नियुक्त करने में मदद करें। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.