Friday, May 27, 2022
-->
two friends clashed during a party at a friend''''''''s house, one thrashed and killed the other

दोस्त के घर पार्टी के दौरान भिड़े दो दोस्त, एक ने पीट-पीटकर की दूसरे की हत्या

  • Updated on 1/19/2022

दोस्त के घर पार्टी के दौरान भिड़े दो दोस्त, एक ने पीट-पीटकर की दूसरे की हत्या

 

- मृतक ख्याला इलाके का प्रोपर्टी डीलर 

 

- हत्या के बाद आरोपी फरार, मौजूद दो अन्य दोस्त ने पहुंचाया था अस्पताल

-  हत्या के बाद फरार हुए आरोपी की तलाश कर पुलिस ने किया गिरफ्तार

 

नई दिल्ली/टीम डिजिटल

 

पश्चिमी दिल्ली के ख्याला इलाके में एक दोस्त ने ही दूसरे की बेरहमी से पीट-पीटकर हत्या कर दी है। जबकि आरोपी दोस्त खुद ही दोपहर में अपने घर पार्टी करने के लिए उसके घर से लेकर आया था। हत्या को अंजाम देने के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया। उधर, वारदात के बाद मौके पर मौजूद दो अन्य दोस्तों की सूचना पर वहां पहुंची मृतक की पत्नी उसे घायल अवस्था में इलाज के लिए नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। शख्स के मृत पाए जाने के बाद अस्पताल से ही स्थानीय ख्याला थाने की पुलिस को घटना की सूचना दी गई। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में ले लिया। मृतक 54 वर्षीय संदीप सिंह अहुलवालिया की पत्नी मंजीत कौर की शिकायत पर आरोपी मंगल सिंह के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया और कुछ ही घंटों की तलाश के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया। 

 डीसीपी उर्विजा गोयल ने बताया कि मृतक संदीप सिंह आहुलवालिया विष्णु गार्डन इलाके के रहने वाले थे और वहीं प्रॉपर्टी डीलर का काम करते थे। मंगलवार शाम करीब 6.30 बजे के पुलिस को अस्पताल एक शख्स को मृत हालात में लाये जाने की सूचना मिली थी। मौके पर पहुंची पुलिस को मृत अवस्था में संदीप का शव बरामद हुआ। पुलिस ने सबसे पहले उसकी पहचान की तो पता चला कि उसका नाम संदीप सिंह है, जो प्रॉपर्टी डीलर था। डॉक्टरों ने बताया कि मृतक के शरीर के सिर, मुंह, नाक पर चोट के कई सारे निशान मौजूद थे, जोकि संभवतः बेरहमी से किये गए पिटाई के कारण आये होंगे। बेरहमी से की गई पिटाई से लगे जख्मों के कारण ही उसकी मौत हुई होगी।

 

  संदीप को अस्पताल लेकर पहुंची पत्नी व उसके दो दोस्तों ने पुलिस को बताया कि मंगलवार दोपहर करीब 2 बजे आरोपी मंगल सिंह उनके घर पहुंचा था। पार्टी करने लिए संदीप को अपने साथ ले गया था। शाम तक नहीं लौटा तो उसने फोन किया पर संदीप ने नही उठाया। फिर मंगल सिंह को फोन किया पर उसने भी नहीं उठाया। इसी दौरान उन्हें फोन आया कि जल्द ख्याला के एस-ब्लॉक स्थित मंगल सिंह के घर पहुच जाए। वहां पहुंचने पर उन्हें संदीप घायल स्थिति में मकान के सीढ़ी पर मिला। इसके वह अन्य लोगों की सहायता से उन्हें अस्पताल ले गयी, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

इधर शिकायत मिलते ही पुलिस ने फरार आरोपी दोस्त की तलाश शुरू कर दी और कुछ ही घंटों में उसे गिरफ्तार कर लिया।

शराब के नशे में देने लगा था गंदी गालियां - मंगल सिंह

 गिरफ्तारी के बाद आरोपी ने पैसा को बताया कि वे लो पार्टी कर रहे थे। इस दौरान उन लोगो ने काफी शराब पी ली थी। नशे की की हालत में संदीप ने उसे गालियां देनी शुरू कर दी। जब उसने रोक तो वह धक्कामुक्की करने लगा। थोड़ी ही देर में धक्कामुक्की हाथापाई में बदल गई। इसके बाद उसे भी गुस्सा आ गया खुद नशे में होने के कारण  उसने संदीप की पिटाई शुरू कर दी, जो उसके हाथ आया उसी से उसपर वॉर करने लगा। तब तक मरता रहा जब तक कि संदीप बेहोश होकर जमीन पर नहीं गिर गया। इसके बाद उसने उसे धक्का देकर सीढ़ी से नीचे गिरा दिया।

फिर वह मौके से फरार हो गया। इसके बाद दोनों दोस्तों ने संदीप की पत्नी को फोन कर सूचना दी। उनके पहुंचने पर घायल अवस्था में अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.