Wednesday, Nov 30, 2022
-->
unemployed-across-the-country-were-being-cheated-by-opening-a-call-center-in-noida

नोएडा में कॉल सेंटर खोलकर देशभर के बेरोजगारों के कर रहे थे ठगी

  • Updated on 9/2/2022

पश्चिमी दिल्ली पुलिस ने ट्रै कर कॉल सेंटर में की छापेमारी
- पांच महिलाओं सहित नौ आरोपी को किया गिरफ्तार

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।


पश्चिमी दिल्ली जिला पुलिस ने एक ऐसे फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़ किया है, जो नौकरी दिलाने का झांसा देकर बेरोजगार लोगों से ठगी किया करता था। पुलिस ने नोएडा सेक्टर 63 स्थित काल सेंटर में छापेमारी कर पांच महिलाओं सहित नौ आरोपी को गिरफ्तार किया है। कॉल सेंटर से पुलिस ने 12 हार्ड डिस्क, 15 सिम कार्ड, 13 हैंडसेट, एक लैपटॉप, एक पेन ड्राइव व एक राउटर बरामद किया है। आरोपियों में रवि जैन, नितिन पाल, रोहित त्यागी, शालिनी, मोनिका, पूजा, पूनम, सुतीक्षा व यशवंत प्रकाश शामिल है।
डीसीपी घनश्याम बंसल ने बताया कि जिले के साइबर थाना को 20 जुलाई को एक ईमेल प्राप्त हुआ, जिसमें शिकायतकर्ता ने बताया कि उन्हें सूचना दी गई कि उनका चयन अमूल इंडिया लिमिटेड में सुपरवाइजर के पद पर हुआ है। नियुक्ति पत्र से पहले उनसे अलग अलग मदों में रुपये की मांग की गई। कुल मिलाकर 102191 रुपये उनसे जमा करवाए गए, लेकिन नियुक्ति पत्र नहीं मिला।
तकनीकी छानबीन, इंटरनेट लॉगइन व फोन लोकेशन के आधार पर पुलिस ने पता लगा लिया कि नोएडा सेक्टर 63 से ठगी की जा रही है। पुलिस ने सेक्टर 63 में मिली लोकेशन पर छापेमारी की तो पता चला कि यहां कॉल सेंटर है।  कॉल सेंटर में पांच महिलाएं व चार पुरुष कार्य करते मिले। ये सभी यहां से लोगों को काल कर रहे थे। पुलिस टीम ने जब इनसे पूछताछ की तो इन्होंने बताया कि अलग-अलग वेबसाइट से ये शिकार की तलाश करते थे। शिकार की तलाश होने के बाद उन्हें काल कर नौकरी दिलाने की बात कही जाती थी। इसके बाद अलग-अलग मदों में इनसे पैसे की मांग कर अलग अलग खातों में रकम जमा करवाई जाती थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.