Wednesday, Oct 16, 2019
unnao-rape-case-cross-examination-victim-sister-rape-survivor-father-death-judicial-custody

उन्नाव रेप केस: पीड़िता के पिता की न्यायिक हिरासत में मौत मामले में बहन से हो रही पूछताछ

  • Updated on 10/10/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। उन्नाव रेप केस  (Unnao Rape case) की पीड़िता के पिता की न्यायिक हिरासत (Judicial Custody) में मौत के केस में दिल्ली के तीस हजारी (Tis Hazari Court) कोर्ट में पीड़िता की बहन से पूछताछ की जा रही है। यूपी पुलिस ने आर्म्स एक्ट के तहत पीड़िता के पिता को गिरफ्तार किया था। पुलिस हिरासत में कथित तौर पर पिटाई के बाद पीड़िता के पिता की मृत्यु हो गई थी। 

बता दें कि 4 जून, 2017 को बीजेपी विधायक (BJP MLA) कुलदीप सिंह सेंगर (Kuldeep Singh Sengar) पर रेप का आरोप लगाया गया, लेकिन पुलिस (Police) ने विधायक के खिलाफ कोई केस दर्ज नहीं किया। 8 अप्रैल, 2018 में उसी शिकायत करने वाली लड़की के पिता के खिलाफ आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज कर उनको तुरंत गिरफ्तार कर लिया। ठीक एक दिन बाद पुलिस की पिटाई की वजह से कस्टडी में ही पीड़िता के पिता की मौत हो गई।  

उन्नाव रेप मामला: वकील ने कोर्ट कार्यवाही सोशल मीडिया पर डाली, पड़ी फटकार

कार्यवाही की जानकारी सोशल मीडिया पर
दिल्ली की एक अदालत ने इस मुकदमे की बंद कमरे में चल रही कार्यवाही की जानकारी सोशल मीडिया पर पोस्ट करने के लिए एक पक्ष के वकील को फटकार लगाई थी। जिला न्यायाधीश धर्मेश शर्मा ने वकील को मामले की कार्यवाही ऑनलाइन करने के खिलाफ चेतावनी दी। मुकदमे में अभी अभियोजन पक्ष की गवाही दर्ज की जा रही है।

उन्नाव सामूहिक दुष्कर्म मामले में सीबीआई ने दायर किया आरोपपत्र

दर्ज की गयी गवाही का विवरण भी डाला था सोशल मीडिया पर
इस घटनाक्रम से अवगत एक वकील ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर बताया कि अदालत ने यह चेतावनी तब दी जब बंद कमरे में चल रही कार्यवाही के दौरान दूसरे पक्ष के वकील ने दावा किया कि उनके प्रतिद्वंद्वी पक्ष के वकील ने मुकदमे का विवरण सोशल मीडिया पर डाल दिया है। इसमें दर्ज की गयी गवाही का विवरण भी शामिल है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.