Friday, Jun 25, 2021
-->
up firing in chitrakoot district jail killing two including mukhtar close suiter killed prshnt

UP: चित्रकूट जेल में फायरिंग, मुख्तार के करीबी समेत दो की हत्या, मारा गया शूटर

  • Updated on 5/14/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। उत्तर प्रदेश में अम्बेडकरनगर जिला जेल में एक बार फिर शुक्रवार यानी आज बवाल हो गया यहां जिला जेल चित्रकूट में गैंगवार हुआ है। यहां कैदियों के दो गुट आपस में भिड़ गए। जिसमें दोनों तरफ से कई राउंड फायरिंग भी हुई है और इससे दो लोगों की मौत हो गई है। मरने वाले कैदियों की पहचान मेराजुद्दीन और मुकीम उर्फ काला से की गई है। मारा गया मुकीम काला पश्चिम उत्तर प्रदेश का बड़ा बदमाश था बताया जा रहा है कि शु दीक्षित नामक बंदी ने फायरिंग की। गैंगवॉर के दौरान दर्जनों राउंड गोलियां चलीं। जानकारी है कि गैंगवॉर के बाद भारी पुलिस बल ने जेल के अंदर ही अंशु दीक्षित का एनकाउंटर कर दिया। 

कोरोना की दूसरी लहर पर बोले PM मोदी- हम लड़ेंगे और जीतेंगे

पुलिस पर फायरिंग करने के प्रयास में मारा गया अंशु दीक्षित 
बता दें कि बागपत जिला जेल में माफिया मुन्ना बजरंगी की हत्या के बाद ये दूसरा सबसे बड़ा मामला सामने आया है। बता दें कि हाल ही में अंशु दीक्षित को सुल्तानपुर जेल से चित्रकूट जेल में शिफ्ट किया गया था। इसका नाम पूर्वांचल के बड़े गैंगस्टर में शामिल है। जानकारी के मुताबिक जेल में झड़प के बाद इसने मुकीम काला और मेराजुद्दीन पर फायरिंग की। इस फायरिंग में चित्रकूट जेल में बंद मेराजुद्दीन और मुकीम काला की मौके पर ही मौत हो गई। जेल में फायरिंग की सूचना जब पुलिस को लगी तो भारी पुलिस ने जेल को छावनी बना दिया और पुलिस पर फायरिंग करने के प्रयास में अंशु दीक्षित मारा गया।

बता दें कि अंशु दीक्षित सीतापुर का निवासी था और मुकीम के साथ मारा गया मेराज अली जेतपुरा वाराणसी का रहने वाला था। मुकीम काला को पश्चिमी उत्तर में बड़े गेंगस्टर के तौर पर जाना जाता था। 

PM-KISAN की आठवीं किश्त जारी, 9.5 करोड़ किसान परिवार को मिला लाभ

पांच अन्य को भीबनाया बंदी
डीजी जेल के कार्यालय से घटना की जो जानकारी मिली है उसके अनुसार जिला जेल चित्रकूट की उच्च सुरक्षा बैरक में अंशु दीक्षित जिला जेल सुल्तानपुर से प्रशासनिक आधार पर स्थानांतरित होकर चित्रकूट लाया गाय था इसने आज सुबह लगभग दस बजे सहारनपुर से प्रशासनिक आधार पर आए बंदी मुकीम काला तथा बनारस जिला जेल से प्रशासनिक आधार पर आए मेराज अली को असलहे से मार दिया तथा पांच अन्य बंदियों को अपने कब्जे में कर लिया। वह उन्हें मार देने की धमकी देता रहा। इसके बाद पुलिस ने उसके जिद्द देखते हुए फायरिंग की, जिसमें अंशु दीक्षित भी मारा गया। चित्रकूट जिला जेल में इस प्रकार कुल तीन बंदी मारे गए हैं।

मेराजुद्दीन उर्फ मेराज अली 20 मार्च 2021 को जिला जेल बनारस से प्रशासनिक आधार पर स्थानांतरित करके चित्रकूट जेल लाया गया था। दूसरा मृत बंदी मुकीम काला सात मई 2021 को जिला जेल सहारनपुर से प्रशासनिक आधार पर  चित्रकूट जेल लाया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.