Wednesday, Aug 04, 2021
-->
vikas dubey encounter former ias officer raised questions on inquiry commission rkdsnt

विकास दुबे एनकाउंटर : गठित जांच आयोग पर पूर्व IAS अफसर ने उठाए सवाल

  • Updated on 7/22/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों की हत्या और इसके बाद मुठभेड़ में विकास दुबे और उसके पांच सहयोगियों की मौत की घटनाओं की जांच के लिए शीर्ष अदालत के पूर्व न्यायाधीश डॉ. बलबीर सिंह चौहान की अध्यक्षता में 3 सदस्यीय जांच आयोग के गठन के मसौदे को सुप्रीम कोर्ट ने मंजूरी दे दी है। लेकिन, इसको जांच आयोग के सदस्यों को लेकर यूपी के पूर्व आईएएस अधिकारी सूर्य प्रताप सिंह ने सवाल उठाए हैं। 

प्रशांत भूषण के खिलाफ अवमानना कार्यवाही: योगेंद्र यादव बोले- हम देखेंगे!

सूर्य प्रताप सिंह ने अपने ट्वीट में लिखा है, 'मोदी सरकार द्वारा नियुक्त भारतीय विधि आयोग के अध्यक्ष हैं जस्टिस बी एस चौंहान। इनके दो भाई यशवीर सिंह व वीरेंद्र सिंह भाजपा के सक्रिय सदस्य हैं। क्या इनसे निष्पक्षता की उम्मीद की जा सकती है? इस सवाल का जवाब मैं जनता से जानना चाहता हूँ।'

विकास दुबे एनकाउंटर : पूर्व जज होंगे आयोग के अध्यक्ष, जांच के लिए 2 माह - सुप्रीम कोर्ट

अपने एक और ट्वीट में उन्होंने लिखा है, 'शायद भाजपा सरकार ने ठान लिया है कि विकास दुबे मामले की निष्पक्ष जाँच करनी ही नहीं है। टीवी पर एनकाउंटर की वकालत करने वाले पूर्व DGP KL गुप्ता जी IG कानपुर मोहित अग्रवाल के करीबी रिश्तेदार हैं। अगर मामले की जाँच नहीं करनी तो सीधे सीधे बता दीजिए @myogiadityanath जी घुमा कर क्यूँ?'

भ्रष्ट अधिकारियों को दंडित करने की सलाह पर अमल नहीं होने पर CVC हुआ सक्रिय

इसके साथ ही उन्होंने अमेठी में हत्याकांड को लेकर अपने ट्वीट में लिखा है, 'रोज वोट के लिए सेना सेना चिल्लाते हैं, लोग l #अमेठी में गुंडों द्वारा की गयी निर्मम हत्या पर अपने पिता सूर्यप्रकाश मिश्र की लाश पर रोता बिलखता बेबस  सैनिक न्याय मांग रहा है l जंगलराज से उठती चीखें सरकार के कानों तक क्यों नहीं पहुँच रही ?  योगी जी, कुछ करिए, कहीं देर न हो जाये l'

बाबरी मामला खारिज होना मंदिर के ‘शहीदों’ को सच्ची श्रद्धांजलि होगी : शिवसेना

इसी तरह पत्रकार विक्रम जोशी हत्या को लेकर वह लिखते हैं, 'विक्रम जोशी पत्रकार की बेबस बहिन की जीख सुनाई नहीं दे रही, योगी सरकार को l मीडिया चुप, अफसर चुप,नेता चुप है, किसके पैरों में गिरें रोते बिलखते लोग?  कौन न्याय दिलाये,सारा सिस्टम तो बचाने में लगा है, चीर हरण करने वाले #सेंगरों, व #चिन्मयानन्दों को।'

BCCI से जुड़े मुद्दों की याचिकाओं पर जल्द सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट

पत्रकार हत्याकांड : केजरीवाल के बाद ममता ने यूपी की कानून व्यवस्था पर उठाए सवाल

बता दें कि यूपी में कोरोना और अन्य मसलों पर सवाल उठाने वाले सूर्य प्रताप सिंह के खिलाफ योगी सरकार ने केस दर्ज किए हैं। इसके साथ ही उनकी पेंशन और अन्य भत्तों को भी रोक दिया गया है। इसको लेकर भी सिंह अपनी लड़ाई जारी रखे हुए हैं। 

 

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.