Saturday, May 08, 2021
-->
vishva hindu mahasabha president ranjit bachchan shot dead up police start probe

विश्व हिंदू महासभा के अध्यक्ष की गोली मारकर हत्या, यूपी पुलिस की जांच शुरू

  • Updated on 2/2/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। विश्व हिंदू महासभा (Vishva Hindu Mahasabha) के अध्यक्ष व समाजवादी पार्टी के नेता रंजीत बच्चन की रविवार सुबह अज्ञात व्यक्ति ने गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस सूत्रों ने यहां बताया कि रंजीत श्रीवास्तव उर्फ रंजीत बच्चन (40) (Ranjit Bachchan) हजरतगंज क्षेत्र में सुबह सैर के लिए निकले थे, तभी अज्ञात व्यक्ति ने उन्हें गोली मार दी जिससे उनकी मौत हो गई।   शुरुआती जांच में पारिवारिक रंजिश का मामला सामने आया है। हालांकि पुलिस सभी कोणों से मामले की जांच कर रही है। 

निर्भया मामला: फांसी पर लगी रोक को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई शुरू

रंजीत बच्चन की मौके पर ही मौत 

संयुक्त पुलिस आयुक्त नवीन अरोड़ा ने संवाददाताओं को बताया कि रविवार की सुबह आदित्य श्रीवास्तव नामक एक व्यक्ति ने पुलिस को सूचना दी कि वह अपने भाई रंजीत के साथ सैर के लिए गया था। वे शहर के र्बिलंगटन चौराहे के पास से निकल कर परिवर्तन चौक की तरफ जा रहे थे तभी शॉल से अपना चेहरा छुपाए एक व्यक्ति ने उन्हें रोका और उनके मोबाइल फोन छीनने की कोशिश की।  

जामिया के बाद अब शाहीन बाग में गोलीकांड, केजरीवाल के निशाने पर अमित शाह

उन्होंने बताया कि छीना झपटी के दौरान उस व्यक्ति ने गोली चला दी जो रंजीत को लगी और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। आदित्य के बाएं हाथ में गोली लगी है। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अरोड़ा ने बताया कि शुरुआती जांच में पता चला है कि रंजीत बच्चन अपनी पत्नी काङ्क्षलदी शर्मा बच्चन के साथ ओसीआर बिल्डिंग में रहते थे। 

बजट में ‘रोजगार सृजन योजनाओं’ के लिए आवंटन 42 फीसदी घटा, विपक्ष गर्म

सीसीटीवी फुटेज खंगाली जा रही हैं

कालिंदी के मुताबिक वर्ष 2002 से 2009 के बीच रंजीत ने समाजवादी पार्टी की विभिन्न साइकिल रैलियों में हिस्सा लिया था। बाद में उसके पति ने विश्व हिंदू महासभा नामक संगठन बनाया था। अरोड़ा ने बताया कि रंजीत और उसकी पत्नी के बीच झगड़ा था और इस सिलसिले में गोरखपुर में एक मुकदमा भी दर्ज है। जांच में इस बात को भी ध्यान में रखा जा रहा है। उन्होंने बताया कि मौका-ए-वारदात की सीसीटीवी फुटेज खंगाली जा रही हैं। मामले की जांच के लिए अपराध शाखा की आठ टीमें बनाई गई हैं।  

कांग्रेस बोलीं- ‘दो राष्ट्र के सिद्धांत वाली’ BJP ने करदाताओं का भी किया विभाजन

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.