Saturday, Jun 23, 2018

महिला IAS अधिकारी ने लगाया अपने सीनियर अधिकारी पर लगाए यौन उत्पीड़न का आरोप

  • Updated on 6/12/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।तमाम सरकारों के महिला सुरक्षा पर किये गए बड़े बड़े वादों के बावजूद महिलाओं के खिलाफ यौन हमले कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं। महिला चाहे वह घरेलू कामकाजी हो या किसी बड़े अहौदे पर  बैठी हो सभी यौन उत्पीड़न का दंश झेल रही हैं।

इसकी बानगी है हरियाणा की यह खबर जहां एक महिला आईएएस ने अपने पशुपालन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी पर यौन शौषण का आरोप लगाया है। महिला आईएएस ने कहा कि वरिष्ठ अफसर द्वारा छह जून को कंप्यूटर कार्य के बहाने अपने दफ्तर में बुलाया गया और फाइलों के नोटिंग आदि के बहाने करीब दो घंटे रोककर शोषण किया। हालांकि अतिरिक्त मुख्य सचिव ने महिला अधिकारी द्वारा लगाए गए आरोपों का खंडन किया है।

28 वर्षीय महिला आईएएस हरियाणा पशुपालन विभाग में तैनात हैं। उन्होंने एक वरिष्ठ आईएएस अधिकारी और विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पर गंभीर आरोप लगाए। महिला आईएएस अधिकारी ने रविवार शाम करीब पांच बजे गाजियाबाद के नेहरूनगर तृतीय में अपने भाई के आवास पर पत्रकारों से बातचीत की। उन्होंने कहा कि वह 9 मई 2018 से वह हरियाणा सरकार के पशुपालन विभाग में चंडीगढ़ में तैनात हैं।

उन्होंने पशुपालन विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पर आरोप लगाते हुए कहा कि 18 मई, 21, 31 मई और 6 जून को उच्चाधिकारी ने उसे अपने दफ्तर में बुलाया। कंप्यूटर कार्य के साथ कुछ फाइलों पर नोटिंग के बारे में अनावश्यक डांटा और घंटों बैठाकर शोषण किया। हालांकि यौन शोषण संबंधी किसी भी घटना विशेष का उन्होंने उल्लेख नहीं किया।

फेसबुक पर भी उन्होंने गंभीर आरोप लगाते हुए पोस्ट डाला। उधर, अतिरिक्त मुख्य सचिव ने फोन पर बातचीत में सभी आरोपों को निराधार बताया। उन्होंने कहा कि महिला आईएएस अधिकारी उनकी बेटी की उम्र की है। जूनियर होने के नाते कार्यालय में कामकाज के सिलसिले में उसे समझाया था। इससे ज्यादा कुछ नहीं कहा था। 
  

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.