Wednesday, Oct 27, 2021
-->
yogi-s-minister-was-not-even-spared-the-minister-had-to-go-to-the-police-know-why

योगी के मंत्री को भी नहीं बख्शा, मंत्री को जाना पड़ा पुलिस की शरण, जानिए क्यों

  • Updated on 9/27/2021

नई दिल्ली, (टीम डिजीटल): उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार है। यह आप जानते हैं। आप यह भी जानते होंगे कि योगी के मंत्रिमंडल में सिद्धार्थ नाथ सिंह के एक कैबिनेट मंत्री भी हैं। इन्हीं कैबिनेट मंत्री के साथ एक बहुत बड़ा फर्जीवाड़ा हो गया है। दरअसल, दिल्ली से सटे नोएडा में कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह के फर्जी हस्ताक्षर कर उन्हें एक कम्पनी में शेयर होल्डर बना दिया। मंत्री जी को जब इसका पता चला तो उन्होंने थाना सेक्टर 39 में मुकदमा दर्ज कराया है। इस मामले की जांच साइबर क्राइम टीम को सौंपी गई है। पुलिस का दावा है कि जल्द ही इस मामले का खुलासा करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा। 

पुलिस के मुताबिक पुलिस को दी शिकायत में बताया गया कि उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने बताया कि एक मीडिया हाउस के सीनियर एडिटर की ओर से उन्हें एक ई-मेल प्राप्त हुआ था। ई-मेल के माध्यम से पता चला कि दिल्ली स्थित कम्पनी परमहंस टेक्नोलोजीस के हरिमोहन सर्राफ ने सिद्धार्थ नाथ सिंह को कंपनी का होल्डर बना रखा है। इस मामले को लेकर जब कैबिनेट मंत्री से हरिमोहन सर्राफ और परमहंस टेक्नोलोजीस के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने बताया इस कंपनी से उनका कोई लेना नहीं है। मंत्री ने कहा कि और वह कभी इस कंपनी के शेयर होल्डर नहीं रहे हैं। हरिमोहन सर्राफ भारतीय मूल के ब्रिटिश नागरिक हैं।  कैबिनेट मंत्री ने अपने स्तर पर जांच की तो पता चला कि उनके फर्जी हस्ताक्षर बनाकर उन्हें कंपनी का शेयर होल्डर बनाया गया है। इस कंपनी का शेयर होल्डर बनने की जानकारी कैबिनेट मंत्री को मेल आने के बाद हुई। इसके बाद पीडि़त की तरफ से पुलिस को शिकायत दी गई। पुलिस ने आरोपी को नामजद कर धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं में एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इस संबंध में थाना प्रभारी राजीव बालियान ने बताया कि साइबर क्राइम टीम और पुलिस दोनों ही मामले की जांच कर रहे हैं। जांच में काफी क्लू मिले हैं। जल्द ही मामले का खुलासा कर दिया जाएगा। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.