Wednesday, Sep 27, 2023
-->
aap-mlas-hearing-today-in-court

दिल्ली CM के घर पहुंची पुलिस, 21 कैमरों के CCTV फुटेज को किया सीज

  • Updated on 2/23/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली मुख्य सचिव विवाद का सिलसिला लगातार बढ़ता ही जा रहा है। दिल्ली के तीस हजारी कोर्ट ने जहां इस मामले के अंदर आप के दो विधायकों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा है। तो वहीं, कोर्ट आज भी आप विधायक प्रकाश जारवाल और अमानतुल्ला खान की जमानत पर सुनवाई कर सकता है। इसके साथ ही आप ने  दिल्ली पुलिस पर वीके जैन पर बयान बदलने का आरोप लगाया है।

साथ ही मुख्य सचिव विवाद को लेकर जांच के लिए केजरीवाल के घर दिल्ली पुलिस पहुंची है। इसी को लेकर अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट करते हुए विपक्ष पर निशाना साधा है उन्होंने लिखा कि पुलिस मेरे घर भेजी है। मेरे घर की छानबीन चल रही है। बहुत अच्छी बात है। पर जज लोया के क़त्ल के मामले में अमित शाह से पूछताछ कब होगी? साथ ही केजरीवाल ने  कहा है कि दिल्ली के मंत्र‍ियों ने आज LG से मिलने का मांगा है समय। 

Live Updates:

  • हम राजनीति करना नहीं जानते, सिर्फ काम कर रहे हैं: केजरीवाल
  • सीएम दफ्तर का आरोप, दिल्ली पुलिस ने नहीं दिखाया सर्च वारंट 
  • दिल्ली पुलिस ने CCTV की मरम्मत करने वालों से बातचीत की CCTV कैमरों से छेड़छाड़ की जांच की जाएगी: दिल्ली पुलिस
  • दिल्ली पुलिस ने केजरीवाल के आवास के 21 कैमरों के CCTV फुटेज सीज किए
  • CM अरविंद केजरीवाल के घर से बाहर निकली दिल्ली पुलिस

सूत्रों के मुताबिक इसके बाद आम आदमी पार्टी के विधायकों की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं। वीके जैन ने कोर्ट में जो बयान दर्ज कराया है, उसके मुताबिक वह वारदात की रात जब केजरीवाल के आवास पर पहुंचे तो वहां पर मुख्य सचिव अंशु प्रकाश मौजूद थे। ऐसे में उनके साथ बदसलूकी और मारपीट हो रही थी।

कमल हासन के बाद यशवंत सिन्हा से मिले केजरीवाल, भाजपा को घेरने की तैयारी

बयान में यह भी कहा गया है कि इस मारपीट में अंशु प्रकाश का चश्मा भी जमीन पर गिर पड़ा। यह सब मुख्यमंत्री केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की मौजूदगी में हुआ। बता दें कि विधायक अमानतुल्ला खान और प्रकाश जारवाल को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। 

मुरली मनोहर जोशी ने कानपुर सोलर लाइट पैनल के उद्घाटन मौके पर अधिकारियों को लगाई डांट

दोनों ने ही अब जमानत के लिए गुहार लगाई है। अमानतुल्ला और प्रकाश जारवाल ने मुख्यसचिव से मारपीट से इनकार किया है। उन्होंने कहा कि मारपीट के आरोप किसी साजिश के तहत लगाए जा रहे हैं। इस बीच, दिल्ली पुलिस ने दोनों को जमानत नहीं देने की अपील की।

चाइल्ड पोर्नोग्राफी को लेकर CBI के निशाने पर वट्सऐप ग्रुप, 114 लोगों के खिलाफ FIR

दिल्ली पुलिस की ओर से पेश वकील ने कहा कि मुख्य सचिव के खिलाफ पूरी सोची समझी साजिश के तहत हमला किया गया। पुलिस ने दलील दी कि आखिर आधी रात को मुख्यमंत्री के घर पर किस मकसद से बुलाया गया? जबकि ऐसी कोई इमरजेंसी भी नहीं थी। इसके अलावा इस बैठक में 11 ऐसे लोग भी मौजूद थे जिनका वहां होने का मतलब ही नहीं था। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.