Thursday, Feb 09, 2023
-->
bms-will-agitate-against-privatization

निजीकरण के खिलाफ बीएमएस करेगी आंदोलन 

  • Updated on 11/14/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारतीय मजदूर संघ ने पब्लिक सेक्टर का निजीकरण, सरकारी क्षेत्रों में कॉर्पोरेट का बोलबाला, ठेका प्रथा और पीएसयू संपत्ति का मुद्रीकरण जैसे गंभीर मुद्दों सहित कई अन्य मामलों को लेकर आंदोलन का आह्वान किया है। 
         संघ ने ऐलान किया कि वह सरकार के खिलाफ  17 नवम्बर को दिल्ली में धरना और प्रदर्शन करेगी और इसमें देश भर के प्रतिनिधि हिस्सा लेंगे। इसके सााि ही निजीकरण, मुद्रीकरण, रणनीतिक बिक्री और सार्वजनिक और सरकारी क्षेत्रों के निगमीकरण की नीति के खिलाफ एक विशाल रैली विरोध प्रदर्शन भी किया जाएगा। 
    भारतीय मजदूर संघ के नेताओं ने कहा कि सरकार रेलवे, रक्षा, डाक में निजीकरण का सहारा ले रही है। उन्होने कहा कि अगर सरकार गरीब समर्थक योजनाओं के रखरखाव के लिए धन जुटाने का इरादा रखती है, तो उसे भ्रष्ट अधिकारियों, नेताओं, उद्योगपतियों से वसूली करनी चाहिए क्योंकि वह गरीब आदमी का पैसा है जो भ्रष्ट लोगों की सेवा कर रहा है जबकि पीएसयू सार्वजनिक धन की सेवा कर रहे हैं। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.