Tuesday, Nov 30, 2021
-->
ddma committee recommended to open schools from 6th to 8th

DDMA की समिति ने 6वीं से 8वीं तक के स्कूलों को खोलने की सिफरिश की

  • Updated on 10/27/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की ओर से गठित समिति ने दिल्ली में कक्षा 6वीं से 8वीं तक के लिए 50 प्रतिशत की क्षमता के साथ फिर से स्कूलों खोलने की सिफारिश की है। डीडीएमए की बुधवार को होने वाली बैठक में कक्षा 6वीं से 8वीं तक के स्कूलों को फिर से खोलने पर निर्णय आ सकता है। क्योंकि कक्षा नौ से 12 वीं तक के छात्रों के लिए स्कूलों को फिर से खोलने के कारण कोरोना वायरस संक्रमण के मामले में वृद्धि की कोई घटना सामने नहीं आई है। इसके साथ ही सार्वजनिक स्थानों पर छठ पूजा मनाने पर रोक लगाने के फैसले पर भी पुर्निवचार होगा।

डीडीएमए की ओर से गठित समिति ने 6वीं से 8वीं तक के स्कूलों को फिर खोलने के लिए एक विस्तृत योजना और मानक संचालन प्रक्रिया भी तैयार की है। समिति ने कहा कि सीनियर कक्षाओं में छात्रों की उपस्थिति 80 प्रतिशत तक बढ़ी है और लगभग 95 फीसदी शिक्षकों और स्कूल कर्मचारियों ने कोविड-19 टीका लगवा लिया है।

हालांकि डीडीएमए की 29 सितंबर की बैठक की उपराज्यपाल अनिल बैजल ने अध्यक्षता  करते हुए कहा था कि कक्षा छह से आठ के लिए स्कूलों को फिर से खोलने पर निर्णय त्योहारी सीजन के बाद लिया जाएगा। वहीं, छठ को लेकर डीडीएमए ने 30 सितंबर को जारी आदेश में महामारी के चलते दिल्ली में यमुना नदी के घाटों,जलाशय और मंदिरों सहित सार्वजनिक स्थानों पर छठ पूजा मनाने पर रोक लगा दी थी। वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने बताया कि डीडीएमए 27 अक्तूबर की बैठक में सार्वजनिक स्थानों पर छठ पूजा करने पर लगाई गई रोक के अपने फैसले पर भी पुर्निवचार करेगा।

बता दें कि छठ पूजा पर प्रतिबंध के मुद्दे को लेकर भाजपा और कांग्रेस के विरोध की पृष्ठभूमि में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पिछले सप्ताह दिल्ली में कोविड-19 की स्थिति को नियंत्रण में बताते हुए उपराज्यपाल अनिल बैजल से डीडीएमए की यथाशीघ्र बैठक बुलाने और छठ पूजा की अनुमति देने की मांग की थी।

इसके बाद बैजल ने मुख्य सचिव को इस मुद्दे पर चर्चा के लिए डीडीएमए की बैठक बुलाने का निर्देश दिया था। उल्लेखनीय है कि उपराज्यपाल डीडीएमए के अध्यक्ष हैं, जबकि मुख्यमंत्री उपाध्यक्ष। इससे पहले दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया को पत्र लिखकर कोविड-19 को देखते हुए छठ पूजा पर स्थिति स्पष्ट करने और त्योहार के लिए दिशा-निर्देश जारी करने की मांग की थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.