Monday, Oct 25, 2021
-->
du-issued-circular-to-fill-the-posts-of-college-principal-and-teachers

डीयू ने कॉलेज प्रिंसिपल व टीचर्स के पदों को भरने का सर्कुलर जारी किया

  • Updated on 10/14/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।  दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू)  के असिस्टेंट रजिस्ट्रार ( कॉलेजिज ) ने कॉलेजों के चेयरपर्सन और गवर्निंग बॉडी को सर्कुलर जारी करते हुए डीयू से संबद्ध कॉलेजों में प्रिंसिपल सहित शैक्षणिक व गैरशैक्षणिक पदों की नियुक्ति हेतु एक सर्कुलर जारी किया है । जिसमें कहा गया है कि इस संबंध में विश्वविद्यालय द्वारा मान्य  आरक्षण रोस्टर ओर विज्ञापनों को तुरंत जारी करने की कार्यवाही करें । कॉलेजों को विज्ञापन ओर  पदों को भरे जाने संबंधी दिशा निर्देश पहले ही दिए जा चुके है । प्रिंसिपल व टीचर्स के पदों को भरे जाने संबंधी सर्कुलर का आम आदमी पार्टी के शिक्षक संगठन दिल्ली  टीचर्स एसोसिएशन ( डीटीए ) के अध्यक्ष डॉ. हंसराज सुमन ने स्वागत किया है । इस सर्कुलर को लेकर विश्वविद्यालय के  एडहॉक टीचर्स व शोधार्थियों में खुशी का माहौल है । उनका कहना है कि पिछले एक दशक से इन पदों को भरने की मांग की जा रही थीं ।

दो कटऑफ में ही कुल सीटों से ज्यादा हो गए दाखिला आवेदन

बैकलॉग पदों को भरने व ओबीस सेकेंड ट्रांच के पदों को भरने का सर्कुलर पहले ही हो चुका जारी
डीटीए  अध्यक्ष डॉ.हंसराज सुमन ने बताया है कि शिक्षकों की स्थायी नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू करने व कॉलेजों को विज्ञापन और पदों को भरने संबंधी  दिशा निर्देश पहले ही दिए जा चुके है । उनका कहना है कि बैकलॉग पदों को भरने व ओबीसी सेकेंड ट्रांच के पदों को भरने के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन ने पिछले सप्ताह कॉलेजों को सर्कुलर जारी कर पदों को भरने के लिए रोस्टर पास कराकर पदों को विज्ञापित करने के निर्देश दिए थे । कॉलेजों को भेजे गए सर्कुलर में कहा गया है कि शैक्षणिक पदों का रोस्टर रजिस्टर तैयार कर उसे पास कराकर विज्ञापन की प्रक्रिया को पूर्ण करने के बाद कॉलेज विश्वविद्यालय को औपचारिक तौर पर नियुक्ति संबंधी एक्सपर्ट पैनल के लिए विश्वविद्यालय में आवेदन करें जो कि विश्वविद्यालय में नियुक्ति प्रक्रिया के नियमों के लिए जरूरी कार्यवाही है ।

कैंपस खोलने की मांग को लेकर एसएफआई का वीसी कार्यालय पर प्रदर्शन

प्रिंसिपल पदों को नियमित आधार पर भरने हेतु आवश्यक कदम उठाए
 विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा कॉलेजों को भेजे गए सर्कुलर में कहा गया है कि अगर कहीं भी किसी कॉलेज में एक्टिंग या ऑफिससिएटिंग प्रिंसिपल कार्यरत्त हो तो उन पदों को नियमित आधार पर भरने हेतु जल्द से जल्द आवश्यक   कदम उठाए । हालांकि इन पदों को  भरने की प्रक्रिया के दिशा निर्देश विश्वविद्यालय द्वारा पहले ही दिए जा चुके है ।  

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.