Thursday, Feb 09, 2023
-->
fake-news-of-migrant-workers-normal-movement-at-station-bus-stand

मजदूरों के पलायन की खबरें फर्जी, स्टेशन, बस अड्डे पर सामान्य है आवाजाही 

  • Updated on 1/9/2022


नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली में लॉकडाउन की आशंकाओं के बीच मजदूरों के पलायन की खबरें सोशल मीडिया पर जब सामने आईं तो पड़ताल से पता चला कि रेलवे स्टेशन से लेकर बस अड्डों पर आवाजाही सामान्य है। न तो भारी भीड़ दिखी और न ही लेागों ने कहा कि वे पलायन कर रहे हैं। हां, बीमारी का डर जरूर है। 
        पलायन होने की खबर पर सोशल मीडिया में दावा किया जा रहा है कि पूर्वी दिल्ली के आनंद विहार बस अड्डा, रेलवे स्टेशन से भारी संख्या में लोग पलायन कर रहे हैं। सोशल मीडिया के इस दावे को पूर्वी दिल्ली डीसीपी प्रियंका कश्यप ने हालंाकि फर्जी बताया है। उन्होने कहा कि पूर्वी दिल्ली के आनंद विहार इलाके से भारी तादाद में लोग पलायन जैसा कुछ नहीं है। कुछ पुराने फोटोग्राफ का इस्तेमाल कर इस तरीके का दावा किया जा रहा है जो बिल्कुल झूठा है। प्रियंका कश्यप ने कहा कि ऐसे किसी भी पलायन की कोई सूचना नहीं है और वीकेंड कर्फ्यू पूरी तरह से लागू है व डीडीएमए के निर्देशों का पालन किया जा रहा है। 

          नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से आवाजाही पर दिल्ली रेल मंडल मंडल प्रबंधक डिम्पी गर्ग कहते हैं-रेलगाडिय़ों में कोरोना निर्देशों के पालन के साथ ही यात्रियों की आवाजाही हो रही है और सामान्य से कम लोग जा रहे हैं। आज या कल अप्रत्याशित भीड़ नहीं देखी गई है। वहीं एक अन्य अधिकारी मानते हैं कि ये सामान्य तौर पर होता है कि वीकेंड पर चलने वाली रेलगाडिय़ों व दिल्ली के आसपास वाले इलाकों में रहने वाले लेाग अपने घर चले जाते हैं और सप्ताह की शुरूआत में आ जाते हैं। वीकेंड कफ्र्यू के दौरान लोग संभव है घर चले गए हों लेकिन स्टेशनों पर सामान्य से कम भीड़ीााड़ ही है। इसी तरह निजामुद्दीन, पुरानी दिल्ली, दिल्ली छावनी स्टेशनेां पर भी सामान्य यात्रियों की आवाजाही है। 
        सराय काले खां, अंतर्राज्यीय बस अड्डा कश्मीरी गेट में भी बसों से आवाजाही को कम बताते हुए अधिकारियों ने बताया कि यह गलत अफवाह है। वीकेंड पर सामान्य तौर पर लोगों की आवजााही हो रही है। एक निजी ऑपरेटर ने माना कि शुक्रवार, शनिवार, रविवार को लोगों ने रवानगी
की है लेकिन इसे पलायन जैसा नहीं कह सकते क्येांकि बहुत सीमित संख्या में ही लोग जा रहे हैं, पिछले साल जैसा पलायन जैसा कुछ नहीं है। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.