Friday, May 20, 2022
-->
forgery-appointment-letter-given-only-for-the-post-which-was-not-in-aiims

फर्जीवाड़ा : एम्स में जो पद ही नहीं उसका ही दे दिया नियुक्ति पत्र

  • Updated on 11/15/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, (एम्स) नई दिल्ली में नौकरी लगवाने के नाम पर फर्जीवाडा सामने आया है। इस फर्जीवाड़े का पता तब चला जब फर्जीवाड़े के पीडि़त का एम्स के डॉक्टर से सम्पर्क हुआ। डॉक्टर ने जानकारी जुटाई तो पता चला सारा मामला ही फर्जी है। जिस पद के लिए पीडि़त को नियुक्ति पद दिया गया उस नाम का कोई पद ही नहीं होता है।

एनसीवेब : तीसरी कटऑफ में एक से छह प्रतिशत तक की कटौती

डॉक्टर की जानकारी में आया मामला तो खुला फर्जीवाड़ा
एम्स दिल्ली के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉक्टर विजय गुर्जर ने बताया कि उनकी जानकारी में एम्स में नौकरी लगवाने के नाम पर फर्जीवाड़ा सामने आया है। जिसमें पीडि़त से एल लाख रूपए में एम्स में नौकरी लगवाने का झांसा दिया गया और फर्जी नियुक्ति पत्र भी दे दिया गया। डॉ.विजय गुर्जर ने बताया कि जिस पद डॉक्टर असिस्टेंट के पद का नियुक्ति पत्र दिया गया है उस नाम का कोई पद ही नहीं है। साथ ही बताया कि नियुक्ति पत्र में जिस मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया का जिक्र किया गया है वह भंग हो चुकी है। फर्जी नियुक्ति पत्र की फोटो उन्होंने अपने ट्वीटर पर भी शेयर की है। ऐसे फर्जीवाड़ो से बचने के लिए उन्होंने आग्रह किया है कि अनाधिकृत व्यक्ति की बातों में नहीं आने और सहीं नियुक्ति प्रक्रिया अपनाते हुए नौकरी पाने की कोशिश करनी चाहिए। साथ ही पीडि़त से उन्होंने पुलिस में जाने और एफआईआर कराने के लिए कहा है।

 

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.