Wednesday, Oct 05, 2022
-->
Government should announce urban employment guarantee scheme on Labor Day: Ch Anil Kumar

मजदूर दिवस पर सरकार शहरी रोजगार गारंटी योजना की घोषणा करें: चौधरी अनिल कुमार

  • Updated on 5/1/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। मजदूर दिवस के मौके पर दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार ने कहा कि भारत के मजदूरों ने ही हिंदुस्तान को बनाया है। किसी भी देश का विकास श्रमिकों के बिना असंभव है। उन्होंने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस के मौके को केवल शुभकामनाएं तक समेट कर नहीं रखा जाना चाहिए। इस मौके का इस्तेमाल मजदूरों से जुड़ी समस्या तथा उनको मिलने वाले सामाजिक सुरक्षा के विषयों पर चर्चा होनी चाहिए। 
      उन्होंने रोजगार गारंटी कानून बनाने की मांग करते हुए बुलडोजर राजनीति बंद करने की अपील की और  अरिवंद केजरीवाल व भाजपा की सरकार को मजदूर विरोधी बताया। हालांकि सरकारों को हमेशा श्रमिकों  का विशेष ध्यान  देने चाहिए लेकिन पिछले कुछ वर्षों के दौरान जिस प्रकार से मंहगाई बेरोजगारी बढ़ी है उसने मजदूरों को बेरोजगार बना दिया हैए जो मजदूरी कर रहे है उन्हें सम्मानजनक वेतन भत्ता नहीं मिलता और भीषण गर्मी में लेबर चौक पर खुले आसमान के नीचे खड़े रहते है। उन्होंने कहा कि  ट्रांसपोर्ट की स्थिति दयनीय होने के कारण घंटों यात्रियों को बस के लिए काभी देर तक इंतजार करना पड़ता है, हद तो यह है कि इस भीषण गर्मी में बस स्टॉप पर भी बस क्यू शेल्टर नहीं है।
       चौधरी अनिल कुमार ने कहा कि भाजपा के द्वारा जो बुलडोजर राजनीति की जा रही है, यह हमारे लोकतंत्र के लिए खतरा है। उन्होंने भाजपा से गरीब मजदूरों के रोजगार पर बुलडोजर चलाना बंद करने की मांग करते हुए कहा कि मंहगाई ने ऐसा विकराल रूप धारण किया हुआ है कि भीषण गर्मी में काम कर रहे मजदूरों को निंबू पानी तक नसीब नहीं हो रहा है। भाजपा तथा केजरीवाल सरकार के मजदूर विरोधी नीतियों के बारे में बताते हुए कहा कि  भाजपा सरकार ने तीन लेबर कोड के जरिए मजदूरों को बंधुआ मजदूर बनाने का काम किया हैए मजदूर संगठन इसका विरोध कर रहे है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल सरकार न्युनतम मजदूरी दर की घोषणा तो करते हैए लेकिन मजदूरों को उनकी न्यूनतम मजदूरी मिलती नहीं है। 

comments

.
.
.
.
.