Saturday, Apr 21, 2018

HC ने लगाई MCD को फटकार, कहा- बिना डांट के काम नहीं होता

  • Updated on 1/11/2017

Navodayatimes

नई दिल्ली (टीम डिजिटल): शहर में कचरा साफ करने के काम में दिल्ली के नगर निकायों के नाकाम रहने पर आज दिल्ली उच्च न्यायालय ने इन नगर निगमों को निष्क्रिय करार देते हुए कहा कि वे सिर्फ तभी काम करते हैं जब उन्हें फटकार लगाई जाती है। 

न्यायमूर्ति बदर दुरेज अहमद और न्यायमूर्ति आशुतोष कुमार की सदस्यता वाली एक पीठ ने नगर निगमों और अन्य नगर निकायों को शहर में प्रथम अभियान की तरह ही सफाई का दूसरा अभियान चलाने का निर्देश दिया। दिसंबर में पखवाड़े भर लंबा अभियान चलाया गया था। लेकिन वह वांछित नतीजे देने में नाकाम रहा था। 

अदालत ने कहा सार्वजनिक निकायों और सरकार को कदम उठाने के लिए आगे बढऩे में क्या दिक्कत है? आप सभी निष्क्रिय हैं। जब तक हम आपको फटकार नहीं लगाते, आपके बीच दौड़ में कोई विजेता नहीं हो सकता। अदालत ने कहा कि आप क्यों चाहते हैं कि आदलतें आप पर हुक्म चलाएं। दरअसल, निगमों ने उसे बताया कि कचरा अलग करने के लिए डब्बे नहीं लगाए गए हैं। अदालत एक जनहित याचिका पर सुनवाई के दौरान यह टिप्पणी की। 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.