Monday, May 16, 2022
-->
jamia-vc-emphasizes-on-extensive-research-to-control-metal-pollution

जामिया वीसी ने मेटल प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए व्यापक शोध पर जोर दिया

  • Updated on 12/1/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। जामिया मिल्लिया इस्लामिया (जेएमआई) की कुलपति प्रो नजमा अख्तर ने जीव विज्ञान और चिकित्सा की 16 वीं अंतर्राष्ट्रीय मेटल इओन्स संगोष्ठी (ऑनलाइन) में एक विशेष वक्तव्य दिया, जिसका उद्घाटन महाराष्ट्र के  राज्यपाल बीएस कोश्यारी के एक संदेश के साथ नेहरू साइंस सेंटर, वर्ली, मुंबई में किया गया था। प्रो अख्तर ने अपने आभासी संबोधन में सार्वजनिक स्वास्थ्य और अन्य क्षेत्रों पर जोर देने के साथ जीव विज्ञान और चिकित्सा में मेटल इओन्स  के महत्व पर प्रकाश डाला।उन्होंने जोर देकर कहा कि हमें धातु प्रदूषण को नियंत्रित करने और पर्यावरण को सभी जीवन रूपों के लिए स्वच्छ और सुरक्षित रखने के तरीके पर व्यापक शोध करने की आवश्यकता है। कुलपति ने देश के युवाओं से आगे आने और निर्णायक भूमिका निभाने की अपील की क्योंकि वे ऊर्जा से भरे हुए हैं और उन्हें लंबी पारी खेलनी है। साथ ही, उन्हें कई चीजों को ठीक करना होगा, जिसमें उनके बुजुर्ग सफल नहीं रहे हैं।

नीदरलैंड ब्रिटेन से आए चार ऑमिक्रॉन संदिग्ध मरीज एलएनजेपी में भर्ती कराए

विशेषरूप से लड़कियों से आगे आने की अपील की
प्रो.अख्तर  ने विशेष रूप से लड़कियों से आगे आने और विशेष रूप से चिकित्सा और स्वास्थ्य क्षेत्र में आगे आने व नेतृत्व करने की अपील की, जिसमें अधिक समर्पण और देखभाल करने वाले स्वभाव की आवश्यकता होती है। उन्होंने कहा कि मुझे आप सभी को यह बताते हुए बहुत खुशी हो रही है कि हमारे विश्वविद्यालय में कुलाधिपति, कुलपति, प्रो कुलपति और वित्त अधिकारी सभी महिलाएं हैं। कई डीन और अध्यक्ष भी महिलाएं हैं जो जामिया को हर रोज़ बेहतर शिक्षा की जगह बनाने का प्रयास कर रही हैं। संगोष्ठी के दौरान विशेष रूप से मेटल आधारित टोक्सिकोलोजी और नैनो प्रौद्योगिकी पर विश्व स्तर के ज्वलंत विषयों पर 50 से अधिक वैज्ञानिक शोध पत्र प्रस्तुत किए गए, जिसमें राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय विशेषज्ञों ने भाग लिया।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.