ncert suggests schools to play songs according to age in lunch

NCERT ने स्कूलों को भोजनावकाश में उम्र के मुताबिक गीत बजाने का दिया सुझाव

  • Updated on 10/9/2019

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसन्धान और प्रशिक्षण परिषद (एनसीईआरटी) ने सकारात्मक और र्हिषत माहौल बनाने के लिए स्कूलों को मध्याह्न भोजन बांटते समय या भोजनावकाश में उम्र के मुताबिक गीत बजाने का सुझाव दिया है।

अगर आप भी कर रहे हैं सरकारी नौकरी की तैयारी तो इन 10 सवालों को जरूर कर लें तैयार

एनसीईआरटी (NCERT) द्वारा विद्यालयों के कला शिक्षकों के लिये तैयार किये गए 84 पन्नों वाले ‘आर्ट इंटीग्रेटेड र्लिनंग’ (एआईएल) दिशानिर्देश में कहा, ‘‘ अध्ययन में पाया गया है कि संगीत से बच्चों की ग्रहणशीलता बेहतर होती है।

World Teachers Day 2019: शिक्षक दिवस के दिन उन गुरुओं का करें सम्मान जो दिखाते हैं जीवन की राह

इससे ठहराव और शांति की भावना भी विकसित होती है।’’ उसने कहा,‘‘ स्कूलों को मध्याह्न भोजन बांटते समय या भोजनावकाश में सकारात्मक और र्हिषत माहौल बनाने के लिए स्कूलों को उम्र के मुताबिक गीत बजाने चाहिए।’’

दिशा-निर्देश 34 नगर निगम स्कूलों में किए गए एक साल के अध्ययन के आधार पर जामिया मिलिया इस्लामिया के साथ मिलकर शिक्षकों के एक दल ने तैयार किए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.