Tuesday, Jun 28, 2022
-->
ngt adarsh kumar goyal ncr pollution sobhnt

NGT का प्रदूषण को देखते हुए दिल्ली में सड़कों की सफाई के पहले पानी छिड़कने का निर्देश

  • Updated on 12/4/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राष्ट्रीय हरित अधिकरण (NGT) ने एनसीआर तथा ‘खराब’ वायु गुणवत्ता वाले अन्य शहरों के नगर निगमों और स्थानीय निकायों को सड़कों की सफाई से पहले उनपर पानी का छिड़काव सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है। एनजीटी के अध्यक्ष न्ययामूर्ति आदर्श कुमार गोयल (Adarsh kumar Goyal) की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि छिड़काव के लिये जलशोधक संयंत्र के पानी का इस्तेमाल किया जाए न कि स्वच्छ पानी का।     

ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है Diljit vs Kangana, मजे लेती पब्लिक ने बना डाले ऐसे Memes और Jokes

पानी का छिड़काव को सुनिश्चित
पीठ ने कहा कि हम प्रतिकूल वायु गुणवत्ता स्तर वाले राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (NCR) तथा ‘खराब’ या उससे भी बुरी वायु गुणवत्ता वाले अन्य शहरों के नगर निगमों/स्थानीय निकायों को सड़कों की सफाई से पहले उन पर पानी का छिड़काव सुनिश्चित करने के लिये जरूरी कदम उठाने का निर्देश देते हैं।   

बिहार में कॉमन मिनिमम प्रोग्राम पर एनडीए में जल्द बनेगी सहमति,दिये संकेत  

फुटपाथ को अच्छी तरह छका जाए
पीठ ने उन्हें फुटपाथ तथा सड़क के किनारों और धूल भरे खुले इलाकों में घास या छोटे-छोटे पेड़-पौधे उगाने का भी निर्देश दिया है। एनजीटी ने कहा कि धूल पैदा न होने देने के लिये फुटपाथों को अच्छी तरह ढका भी जा सकता है। साथ ही बायोमास/अपशिष्ट को जलाए जाने से रोकने तथा निर्माण एवं विध्वंस गतिविधियों को नियंत्रित करने पर भी ध्यान दिया जाना चाहिये।      

अधिकरण ने यह निर्देश आर एस विर्क की याचिका पर दिए हैं। याचिका में महानगरों में सड़कों की सफाई के दौरान धूल उडने से होने वाले प्रदूषण के प्रभाव को कम करने के लिये कदम उठाने की अपील की गई थी। 

 

यहां पढ़े 10 अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.