Friday, Jan 21, 2022
-->
ration-of-non-pds-is-taking-place-in-schools-djsgnt

स्कूलों में पडा सड रहा है नॉन पीडीएस का राशन

  • Updated on 3/14/2021

नई दिल्ली/अनामिका सिंह। लॉकडाउन के एक साल बीत गए हैं, उस दौरान हुई परेशानियों को भूल पाना बेहद मुश्किल लगता है। केंद्र सरकार व राज्य सरकार द्वारा लोगों की तकलीफों को कम करने के लिए कई प्रकार की योजनाओं को लॉकडाउन के दौरान लागू किया गया था। जिनमें नॉन पीडीएस प्वाइंट बनाकर गैर राशनकार्डधारी जरूरतमंदों को राशन वितरित करना भी था। लेकिन दुःख की बात यह है कि जुलाई में बंद कर दिए गए इन नॉन पीडीएस से राशन वितरण के बाद यहां पडा अनाज कई महीनों से सड रहा है।

बता दें कि दिल्ली सरकार द्वारा राजधानी के दिल्ली सरकार, नगर निगम व एनडीएमसी के स्कूलों में करीब 400 नॉन पीडीएस प्वाइंट बनाकर राशन वितरित लॉकडाउन के दौरान किया गया था। जिनके पास राशनकार्ड नहीं था वो लोग कूपन के लिए ऑनलाइन आवेदन कर राशन प्राप्त कर सकते थे। तकरीबन 3 महीने तक स्कूलों से राशन बांटने के बाद इस योजना को जुलाई 2020 के बाद बंद कर दिया गया। लेकिन दिल्ली के दर्जनों स्कूलों में बनाए गए प्वाइंट में आज भी गेंहू-चावल ही नहीं बल्कि मुख्यमंत्री कोरोना राहत किट पडी सड रही है।

जिससे स्कूल प्रशासन के पसीने छूटे हुए हैं क्योंकि यदि अनाज खराब होता है, चूहे नुकसान करते हैं या कीडे लग जाते हैं तो जवाबदेही मुश्किल होगी जबकि खाद्य एवं आपूर्ति विभाग को यह राशन जल्द से जल्द लिफ्ट कर उठवा लेना चाहिए था। हाल यह है कि नगर निगम दक्षिणी जोन के मसूदपुर गांव के स्कूल में पहले से पडा राशन बेकार हो रहा था और उसमें 28 बोरी और लाकर रख दिया गया है, जिसमें कीडे पडे हुए हैं।

ऐसा ही हाल ईस्ट दिल्ली नगर निगम के मुस्तफाबाद स्कूल का भी है। सेंट्रल जोन के लालकुंआ के एमसीडी स्कूल में भी बचा हुआ राशन लिफ्ट नहीं किया गया, जिससे राशन सड रहा है। सीलमपुर, गमरी एक्सटेंशन, खानपुर सहित निगम के सैंकडों स्कूलों में हजारों बोरियों में भरा गेंहू-चावल खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के उदासीन रवैए के चलते बर्बाद हो रहा है। ये हाल सिर्फ निगम नहीं बल्कि कुछ दिल्ली सरकार के स्कूलों जैसे पंजाबी बाग व सुभाष नगर में भी है जहां अनाज को चूहों द्वारा बर्बाद किया जा रहा है। ये एक बहुत बडी प्रशासनिक लापरवाही है, जिससे हजारों क्विंटल अनाज बर्बाद हो रहा है। वहीं इस बाबत खाद्य एवं आपूर्ति विभाग की आयुक्त पद्मिनी सिंगला से कई बार बात करने की कोशिश की गई लेकिन संपर्क नहीं हो पाया।

स्कूलों की बिल्डिंग व संपत्ति को हो रहा है नुकसान
कई स्कूलों में चूहों व कीडे अनाज में लगने से स्कूलों की बिल्डिंग व संपत्ति को नुकसान पहुंच रहा है। चूहे अनाज के लालच में स्कूलों में डेरा जमाकर बैठे हैं और दस्तावेजों को भी नुकसान पहुंचा रहे हैं। यही नहीं कई जगह अनाज में थक्के व फफूंदी तक लग रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.