Friday, Jul 01, 2022
-->
reached-shaheen-bagh-but-the-bulldozer-did-not-run

शाहीन बाग में पहुंचा लेकिन नहीं चला बुलडोजर 

  • Updated on 5/9/2022

नई दिल्ली/अनिल सागर। दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में अतिक्रमण हटाने गए बुलडोजर के सामने दो घंटे तक हंगामा, नारेबाजी हुई और उसके बाद तोडफ़ोड़ दस्ता बिना कार्रवाई के बैरंग लौट गया। बुलडोजर जैसे ही एक शो रूम के बाहर लगे स्काफफोल्डिंग को हटाने के लिए बढ़ा महिलाएं उस पर चढ़ गईं, नेताओं ने नारेबाजी शुरू कर दी और आखिरकार संपत्ति मालिक ने खुद यह स्काफफोल्डिंग हटा दी। इलाके में बुलडोजर से तनाव हो गया, नेता पूरे दिन बयानबाजी करते रहे तो मामला सर्वोच्च न्यायालय तक पहुंच गया। 
       माकपा ने याचिका दायर राहत मांगी, इस पर न्यायमूॢत एल. नागेश्वर राव और न्यायमूॢत बीआर गवई की पीठ ने राहत से इनकार कर दिया और राजनीतिक दल से सवाल किया, माकपा क्यों याचिका दायर कर रही है? किस मौलिक अधिकार का हनन हो रहा है? राजनीतिक दलों के कहने पर नहीं। यह मंच नहीं है। आप उच्च न्यायालय जाएं।     
     दरअसल, सुबह 11 बजे करीबन दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के अतिक्रमण हटाओ दस्ते का बुलडोजर आता दिखा तो लोग सड़क पर बैठकर नारेबाजी करने लगे। जी-77/ए के बाहर पाइप वाला स्काफफोल्डिंग लगी थी इस अस्थायी ढांचे को गिराने के लिए जैसे ही बुलडोजर आगे बढ़ा तो तभी लोगों ने खुद ही उसे गिराना शुरू कर दिया। कांग्रेस के नेता पहुंचे बुलडोजर के सामने लेट गए तो उन्हें पुलिस ने हिरासत में ले लिया। इलाके के विधायक अमानतउल्लाह खान ने कहा कि अतिक्रमण हमने हटा लिया है। एमसीडी डर का माहौल पैदा कर रही है। इस मसले पर राजनीति न की जाए। 
        शाहीनबाग की महिलाएं पहुंच गई और नारे लगे कि बुलडोजर नहीं चलने देंगे, केवल मुसलमानों को टारगेट किया जा रहा है। कुछ बुलडोजर तक जा पहुंची। बड़ी संख्या में बुजुर्ग महिलाओं को देख तनावपूर्ण हालात बन गए। पुलिस, पैरा मिलिट्री फोर्स के महिला दस्ते ने मोर्चा संभाला 
और महिला, पुरुष प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया गया। दक्षिण दिल्ली नगर निगम का शाहीन बाग के जी-ब्लॉक से जसोला तक अतिक्रमण हटाने का अभियान था लेकिन हालात देखते हुए बिना कार्रवाई किए बुलडोजर बैरंग लौट गया। हां, मामले में निगम ने इलाके के विधायक अमानुतउल्लाह खान के खिलाफ काम में खलल डालने की शिकायत दर्ज करवाई है। पूरे दिन कालिंदी कुंज होते हुए नोएडा, ओखला की ओर आवजााही करने वालों को जाम से जूझना पड़ा। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.