Sunday, Dec 04, 2022
-->
republic-day-celebrations-will-be-held-in-delhi-secretariat-today

दिल्ली सचिवालय में आज होगा गणतंत्र दिवस समारोह

  • Updated on 1/25/2022

 

नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस के उपलक्ष्य में दिल्ली सरकार की ओर से राज्य स्तरीय समारोह दिल्ली सचिवालय के प्रांगण में मंगलवार को आयोजित किया जाएगा। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जनता को डिजिटल माध्यम से सरकार की उपलब्धियां बताएंगे। कार्यक्रम में आमंत्रित सभी शामिल लोगों को कोविड-19 से संबंधित सभी नियमों व शारीरिक दूरी का पालन करना होगा। सभी के लिए मास्क लगाना अनिवार्य होगा। साथ ही, लोगों से कार्यक्रम में शामिल होने से पहले स्वयं सुनिश्चित करने को कहा गया है कि वह कोविड-19 से संक्रमित नहीं हैं। कार्यक्रम में आमंत्रण सूची के लोगों को ही शामिल होने की अनुमति होगी। इस बार भी कोरोना संक्रमण की वजह से किसी प्रकार का सांस्कृतिक कार्यक्रम नहीं होगा। स्कूली बच्चों को भी कार्यक्रम में आमंत्रित नहीं किया गया है। साथ ही, कार्यक्रम में शामिल होने वाले लोगों की संख्या भी सीमित रहेगी।
-----
आजादी का अमृत महोत्सव साझा करने को कहा
 दिल्ली सरकार ने अपने सभी विभागों, स्वायत्त संस्थानों और स्थानीय निकायों को आजादी का अमृत महोत्सव के आधिकारिक इंटरनेट मीडिया हैंडल का अनुसरण करने और इसकी सामग्री को व्यापक रूप से रीट्वीट करने का निर्देश दिया है। आजादी का अमृत महोत्सव प्रगतिशील भारत के 75 साल और इसके लोगों,संस्कृति और उपलब्धियों के गौरवशाली इतिहास को मनाने के लिए केंद्र की एक पहल है। दिल्ली सरकार के सामान्य प्रशासन विभाग ने सभी विभागों, स्वायत्त संस्थानों और स्थानीय निकायों के प्रमुखों को सभी इंटरनेट  मीडिया पोस्ट में अमृत महोत्सव के आधिकारिक हैंडल का पालन करने और टैग करने के लिए कहा है।
-----
राष्ट्रपति भवन के सामने स्वतंत्रता सेनानियों का स्मारक बनाने की अपील की
 दिल्ली के कैबिनेट मंत्री गोपाल राय ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से देश के स्वतंत्रता आंदोलन के शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए राष्ट्रपति भवन के सामने एक स्मारक बनाने का आग्रह किया। राय ने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो संदेश पोस्ट किया और कहा कि देश की आजादी के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले स्वतंत्रता सेनानियों के लिए कोई समर्पित स्मारक नहीं है। उन्होंने कहा कि इंडिया गेट प्रथम विश्व युद्ध के दौरान शहीद हुए सैनिकों की याद में अंग्रेजों द्वारा बनवाया गया था और इंडिया गेट पर देश के स्वतंत्रता आंदोलन के एक भी शहीद का नाम नहीं है। देश आजादी की 75वीं वर्षगांठ मना रहा है लेकिन इतने सालों में हम स्वतंत्रता संग्राम के अपने शहीदों को समर्पित स्मारक भी नहीं बना सके। उन्होंने कहा कि मैं आपसे शहीद स्वतंत्रता सेनानियों के लिए एक राष्ट्रीय स्मारक बनाने का अनुरोध करता हूं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.