Tuesday, Aug 21, 2018

दिल्ली: इन 21 सड़कों पर चलने का देना होगा टैक्स, नहीं तो होंगी वन-वे

  • Updated on 3/13/2018

नई दिल्ली/ब्यूरो। दिल्ली में लगातार आबादी बढ़ रही है, लोगों के साथ-साथ वाहनों की संख्या में भी इजाफा हर दिन जाम से जूझते हुए मंजिल तय करने का साक्षी बनता है। अब सरकार इस समस्या के निदान के लिए चुनिंदा 21 सड़कों पर वाहनों को चलाने वालों से कंजेशन शुल्क वसूलने अथवा मार्ग को वन-वे करने की योजना का खाका तैयार कर रही है।

SSC घोटाला : जनहित याचिका पर SC ने उठाया सख्त कदम, केंद्र से मांगा जवाब

पार्किंग नीति के तहत दिल्लीवालों को पार्किंग की समस्या से मुक्त कराने के लिए एरिया के आधार पर शुल्क तय किया जा सकता है। बताया जाता है कि इस योजना में लोगों से भी सुझाव मांगे जा चुके हैं। अब यह तय करना है कि किस तरह के प्रस्ताव से लोगों को पार्किंग की समस्या व जाम से बचने में अधिक राहत मिलेगी और प्रदूषण रोकथाम की जा सकेगी।

दिल्ली में कंजेशन शुल्क लगाने के लिये एक अध्ययन भी कराया जा रहा है। इसके तहत सड़क विशेष पर व्यस्ततम समय में चलने पर शुल्क लगाया जा सकता है। इससे लोग उस सड़क पर जाने से बचेंगे। अध्ययन में इस मॉडल की व्यवहारिकता परखने के साथ शुल्क का ढांचा व अन्य मानकों का आकलन भी किया जा रहा है। दोनों रिपोर्ट मिलने के बाद सरकार इस पर अंतिम फैसला करेगी।

प्रदूषण पर रोकथाम के लिए बन रही पार्किंग नीति

एलजी अनिल बैजल ने बताया कि विदेशों में इस तरह की व्यवस्था है। सिंगापुर में व्यस्त सड़कों पर वाहन चलाने पर टैक्स देना पड़ता है। इसके अलावा कई स्थान पर यह भी व्यवस्था है कि जैसे ही व्यस्त सड़कों पर वाहन लेकर जाते हैं, स्वत: ही निर्धारित शुल्क कट जाता है। यह पहले से ही टोल कार्ड की तर्ज पर आपके खाते में होता है। 

एलजी ने कहा कि इस नीति के संबंध में विशेषज्ञों से भी अध्ययन रिपोर्ट ली जा रही है। बताया जाता है कि नई नीति में एरिया के आधार पर शुल्क तय करने तथा मकानों के बाहर वाहन खड़े करने पर भी शुल्क लगाया जा सकता है। एलजी के मुताबिक जनवरी में दिल्ली परिवहन विभाग की ओर से नई पार्किंग नीति पर लोगों से राय मांगी गई थी।

पॉलिसी तैयार होने के अगले चार माह के भीतर इसे पूरी तरह से मूर्त रूप दिया जा सकता है। किस सड़क पर वाहन चलाने अथवा वाहन पार्किंग के लिए शुल्क कितना वसूला जाएगा, यह जिम्मेवारी बेस फेयर कमेटी के ऊपर होगा। परिवहन आयुक्त की अध्यक्षता में गठित दस सदस्यीय कमेटी इस पर निगाह रखेगी। गौरतलब है कि नई पार्किंग नीति में पार्किंग क्षेत्र में इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज करने की सुविधा होगी। एलजी के अनुसार यह योजना है कि लोगों को लास्ट माइल कनेक्टीविटी उपलब्ध कराई जाए, ताकि वह निजी वाहनों के प्रयोग को स्वत:छोड़ें। 

सीलिंग के खिलाफ लाखों कारोबारी उतरे सड़कों पर, BJP ने किया बैठक का बहिष्कार

इन सड़कों पर ट्रायल की योजना

  • दक्षिणी दिल्ली के अंधेरिया मोड़ से अरबिंदो मार्ग के बीच
  • नेहरू प्लेस से मोदी फ्लाइओवर तक
  • हौज खास इलाके में रिंग रोड पर भी
  • महरौली-गुडग़ांव रोड पर
  • आनंदमयी मार्ग पर
  • कश्मीरी गेट व अप्सरा बार्डर तक
  • आईटीओ से कड़कड़ी मोड़ विकास मार्ग पर
  • उत्तरी व पश्चिमी दिल्ली में-हनुमान सेतु से चंदगी राम अखाड़ा तक
  • ईदगाह क्रासिंग से न्यू रोहतक रोड टी प्वाइंट तक
  • शालीमार बाग और पूसा रोड पर

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.