Friday, May 14, 2021
-->
eco friendly bag launch on 2nd october

महात्मा गांधी की 150 वीं वर्षगांठ पर राष्ट्रीय स्वच्छता दिवस का आयोजन, ईको- फ्रेंडली बैग हुए लॉन्च

  • Updated on 10/3/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। ONGC (ऑयल एंड नेचुरल गैस कॉरपोरेशन) द्वारा 'महात्मा गांधी (mahatma gandhi) की 150वीं जयंती पर राष्ट्रीय स्वच्छता दिवस' के उपलक्ष्य में सेफ एप्रोच के संयुक्त सहयोग से एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में ONGC के प्रमुख समन्वय श्री एच.पी.सिंह मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद थे। दिल्ली के मंडी हाउस के पास एलटीजी ऑडिटोरियम, कोपरनिकस मार्ग में इस कार्यक्रम का आयोजन किया गया था।

ईको- फ्रेंडली बैग लॉन्च
इस आयोजन का उद्देश्य 'सिंगल यूज प्लास्टिक' का उपयोग खत्म करने के लिए जागरूकता फैलाना था। मेहमानों के स्वागत के साथ कार्यक्रम सुबह 10.30 बजे शुरू हुआ। इस आयोजन का उद्घाटन दीप प्रज्ज्वलित करके किया गया, फिर सभी अतिथियों के साथ-साथ दर्शकों द्वारा प्लास्टिक के सिंगल उपयोग को रोकने के लिए प्रतिज्ञा ली गई। 

इसके बाद गांधी जी के सम्मान में एक नाटक का आयोजन किया गया जिसमे उनके संघर्ष और स्वच्छता के बारे में उनके विचारों को दिखाया गया क्योंकि उस समय केवल एक वही थे जिन्होंने स्वच्छ भारत का सपना देखा था। महात्मा गांधी के अनुसार 'जब तक आप झाड़ू और बाल्टी अपने हाथों में नहीं लेते हैं, तब तक आप अपने शहर को स्वच्छ नहीं बना सकते हैं।'

आज के गोडसे गांधी के हिंदुस्तान को खत्म कर कर रहे हैं, वतन-ए-अजीज को बचा लो- ओवैसी

सिंगल यूज प्लास्टिक को कहें ना
इस कार्यक्रम में ईको-फ्रेंडली स्टेशनरी किट लान्च किया गया जो की पर्यावरण के हित में है। विकलांग बच्चों को उनके प्रयोग के लिए उपकरण प्रदान किये गए। से नो टू सिंगल यूज प्लास्टिक और स्वच्छता पर नुक्कड़ नाटक दिखाया गया जिसके द्वारा दर्शको को प्लास्टिक के हानिकारण प्रभावों के बारे में बताया गया और यह आग्रह किया गया की प्लास्टिक की जगह ईको-फ्रेंडली सामग्रियों की ओर अग्रसर हो। कार्यक्रम को ONGC के प्रमुख समन्वय श्री एच.पी.सिंह ने वहा उपस्थित दर्शको को सम्बोधित किया और सिंगल यूज़ प्लास्टिक का उपयोग न करने का आग्रह किया। कार्यक्रम में ONGC के अन्य वरीष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे। जनता को प्लास्टिक का उपयोग न करने पर जागरूक करने के लिए हस्ताक्षर अभियान चलाया गया।

गुजरात में बोले PM मोदी, 2022 तक सिंगल यूज प्लास्टिक से भारत को मुक्त करने का लक्ष्य 

नुक्कड़ नाटक का आयोजन
इस कार्यक्रम में दिल्ली CSR की इंचार्ज श्रीमती शशि प्रसाद ने ONGC  द्वारा दिल्ली और NCR में ONGC के माध्यम से कार्यान्वित प्रोजेक्ट के बारे में अपने विचार व्यक्त किये। कुली कैंप वसंत विहार के प्रधान ने लोगो को ONGC के कार्य के माध्यम से हुए सकारात्मक बदलाव के बारे में लोगो को बताया व ONGC को धन्यवाद ज्ञापन किया। जनसंदेश हेतु नुक्कड़ नाटक "से नो तो सिंगल यूज प्लास्टिक' और स्वच्छता पे किया गया। साथ ही ONGC के सहयोग से किये गए प्रोजेक्ट्स के बारे में कुली कैम्प के प्रधान ने लोगो को अवगत कराया। अंत में स्वच्छता का सन्देश देते हुए वॉकथॉन का आयोजन किया गया जिसका फ्लैग ऑफ ONGC  के वरिष्ठ अधिकारी ने किया। कार्यक्रम का समापन संतोष झा एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर, सेफ एप्रोच के वोट ऑफ़ थैंक्स द्वारा किया गया।

ट्रंप ने जब राष्ट्र के पिता कहा तभी मोदी को जतानी थी आपत्ति : सिद्धरमैया 

स्वच्छ भारत अभियान के बारे में
स्वच्छ भारत अभियान में 2014 से 2019 की अवधि के लिए एक नेशनवाइड अभियान है जिसका उद्देश्य भारतीय शहरों, कस्बों अथवा ग्रामीण क्षेत्रों की सड़कों और इंफ्रास्ट्रक्चर को साफ करना है। अभियान का ऑफिशियल नाम हिंदी में है अंग्रेजी में जिसका अनुवाद 'नीट एंड टाइडी इंडिया मिशन' है। स्वच्छ भारत अभियान के उद्देश्यों 'खुले में शौच को समाप्त करना और शौचालय के उपयोग की निगरानी में एक जिम्मेदार तंत्र को स्थापित करना शामिल है'। भारत सरकार द्वारा चलाया गया यह मिशन 2 अक्टूबर 2019 तक भारत कें ग्रामीण क्षेत्रों में 100 मिलियन शौचालयों का निर्माण करके भारत को 'खुले में शौच मुक्त' (ओडीएफ) भारत बनाने का लक्ष्य रखता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.