Wednesday, Sep 18, 2019
do not do these things in hartalika teej

हरतालिका तीज पर भूलकर भी ना करें ये काम, नहीं तो होगा ऐसा परिणाम

  • Updated on 8/31/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। सुहागन महिलाओं (Married women) का त्यौहार हरतालिका तीज में अब सिर्फ 3 दिन शेष रह गए हैं। इस बार हरतालिका तीज को 1 सितंबर 2019 में मनाया जाने वाला है। यह पर्व हिंदू धर्म (Hindu Religion) के लिए बेहद खास माना जाता है और सुहागन महिलाएं इस दिन अपने पति की लंबी उम्र के लिए उपवास रखती हैं।

Hartalika Teej 2019: जानिए कब से मनायी जाएगी तीज और क्या होगा शुभ मुहूर्त

हरतालिका तीज (Hartalika Teej) का त्यौहार भगवान शिव (Lord Shiva) और माता पार्वती (Goddess Parvati) को समर्पित है, साथ ही इस दिन महिलाएं उन्हें प्रसन्न करने के लिए व्रत रखती हैं और पूजा करती हैं। वैसे तो भगवान शिव और माता पार्वती का यह व्रत हर किसी के लिए फलदायी होता है लेकिन इनके कुछ नियम भी होते हैं जिनका ध्यान रखना बेहद जरूरी होता है और अगर सही रूप से इनका पालन ना किया जाए तो इसका परिणाम बुरा भी हो सकता है। 

Ganesha Chaturthi 2019: गणेश चतुर्थी के दिन इस शुभ मुहूर्त में पूजा करने से होगी सभी इच्छाएं पूरी

क्रोध पर रखें काबू

इस दिन महिलाओं को ज्यादा क्रोध नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे उनके व्रत पर इसका असर पड़ सकता है। क्रोध को शांत करने के लिए महिलाएं अपने हाथों में मेहंदी का उपयोग कर सकती हैं क्योंकि इससे दिमाग शांत और ठंडा रहता है।

दूध के सेवन से बचें 

हरतालिका तीज के दिन महिलाओं को निर्जला उपवास रखना होता है। इस दिन महिलाएं भोजन के साथ-साथ पानी का भी त्याग करती है। यदि महिलाएं इस दिन उपवास के दौरान दूध का सेवन कर लेती हैं तो उनके लिए ये नुकसानदेह हो सकता है। पौराणिक कथाओं की मानें तो तीज के पर्व पर महिलाओं द्वारा दूध का सेवन उन्हें अगले जन्म में सर्प का योनि दिला सकता है।

Janmashtami 2019: ये है जन्माष्टमी की सही तारीख, शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

इस दिन पति के साथ झगड़े से बचें

हरतालिका तीज में पति के लिए रखे गए उपवास में महिलाओं को इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए कि इस दिन वह अपने पति के साथ किसी तरह का झगड़ा ना करें, क्योंकि इससे जो वे व्रत रख रही हैं वो विफल हो जाता है और भगवान शिव और माता पार्वती उनसे रूष्ट हो जाते हैं। 

बुर्जगों का करें सम्मान 

इस दिन महिलाओं को इस बात का जरूर ध्यान रखना चाहिए की वे बुर्जगों का अपमान ना करें। ऐसा कहा जाता है कि अगर महिलाएं इस दिन बुर्जगों के साथ दुर्व्यवहार करती हैं तो इसका परिणाम खतरनाक हो सकता हैं।

भादो के महीने में अगर बचना चाहते हैं बुरे अंजाम से तो भूलकर भी ना करें ये काम

बता दें कि, हरतालिका तीज सुहागन महिलाओं के लिए एक वरदान है। इस दिन सभी सुहागन महिलाएं सजति व सवंरती है और पति के लंबी उम्र की कामना करती है। साथ ही इस पर्व को उत्तर भारत और महाराष्ट्र (Maharashtra) जैसे कई राज्यों में इस बड़े ही धुमधाम के साथ मनाया जाता है वहीं दक्षिण भारत के कुछ राज्यों में इसे गौरी हब्बा के नाम से बुलाया जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.