do not do this things in bhadprada read the story

श्री कृष्ण जन्माष्टमी: भादो के महीने में अगर बचना चाहते हैं बुरे अंजाम से तो भूलकर भी ना करें ये काम

  • Updated on 8/23/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। सावन के खत्म होने के साथ ही भादो के महीने का भी आगाज हो गया है। इस महीने के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को भगवान श्रीकृष्ण (Lord Krishna) ने जन्म लिया था जिसके बाद हर साल इस महीने में जन्माष्टमी का पर्व (Janamashtami Festival) मनाया जाता है। ऐसा कहा जाता है कि जिस प्रकार भगवान शिव (Lord Shiva) को सावन का महीना प्रिय है उसी प्रकार भादो का महीना श्रीकृष्ण को बेहद पसंद है।

जानिए, महामृत्युंजय मंत्र का जाप करने वालों से यमराज भी हो जाते हैं भयभीत

हिंदू धर्म (Hindu Religion) के मान्यता के मुताबिक इस महीने में जो भी भक्त निस्वार्थ भाव से श्रीकृष्ण की पूजा करता है उसे धन, धान्य व सुख संपत्ति का वरदान प्राप्त होता है। बता दें कि, भाद्रपद के शुक्ल पक्ष में गणेश भगवान (Lord Ganesha) का भी जन्म हुआ था इसलिए हर साल उनके इस जन्म दिवस पर गणेश चतुर्थी (Ganesh Chaturthi) मनाया जाता है। भाद्रपद में जहां श्रीकृष्ण की भक्ति करने वालों को वे फल देते हैं वहीं इस महीने में कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना भी जरुरी होता है।

उत्तराखंड में स्थित इस मंदिर में शिव का छिपा एक ऐसा रहस्य जिससे हर कोई है अंजान

इस महीने में इन बातो पर करें गौर

  • भाद्रपद के महीने में पलंग पर सोना वर्जित है। नियम के मुताबिक इस महीने में चटाई या फिर दरी बिछाकर ही सोना चाहिए। ऐसा करने से कृष्ण भगवान की कृपा बनी रहती है।
  • ये महीना ऐसा है जिसमें मांस, गुड़, हरि सब्जी, मूली, बैंगन आदि का सेवन नहीं करना चाहिए। धर्म की दृष्टि में भगवान इससे नाखुश होते हैं और भविष्य में स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का सामना भी करना पड़ सकता है।

अगर आपको भी दिखते हैं ऐसे सपने तो ये हो सकते हैं इनके संकेत

  • इस महीने में इंसान को झूठ नहीं बोलना चाहिए क्योंकि इससे आपके जीवन पर बुरा प्रभाव पड़ता है और धन संबंधी कई दिक्कतें आ सकती हैं।
  • भाद्रपद में नशे का सेवन जैसे, शराब, तंबाकु, भांग आदि जैसी चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे धार्मिक दृष्टि में भगवान क्रोधित हो जाते हैं और स्वास्थ्य की दृष्टि में ये इंसान के लिए हानिकारक साबित हो सकता है।


 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.