Wednesday, Jan 27, 2021

Live Updates: Unlock 8- Day 26

Last Updated: Tue Jan 26 2021 10:47 AM

corona virus

Total Cases

10,677,710

Recovered

10,345,278

Deaths

153,624

  • INDIA10,677,710
  • MAHARASTRA2,009,106
  • ANDHRA PRADESH1,648,665
  • KARNATAKA936,051
  • KERALA911,382
  • TAMIL NADU834,740
  • NEW DELHI633,924
  • UTTAR PRADESH598,713
  • WEST BENGAL568,103
  • ODISHA334,300
  • ARUNACHAL PRADESH325,396
  • RAJASTHAN316,485
  • JHARKHAND310,675
  • CHHATTISGARH296,326
  • TELANGANA293,056
  • HARYANA267,203
  • BIHAR259,766
  • GUJARAT258,687
  • MADHYA PRADESH253,114
  • ASSAM216,976
  • CHANDIGARH183,588
  • PUNJAB171,930
  • JAMMU & KASHMIR123,946
  • UTTARAKHAND95,640
  • HIMACHAL PRADESH57,210
  • GOA49,362
  • PUDUCHERRY38,646
  • TRIPURA33,035
  • MANIPUR27,155
  • MEGHALAYA12,866
  • NAGALAND11,709
  • LADAKH9,155
  • SIKKIM6,068
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS4,993
  • MIZORAM4,351
  • DADRA AND NAGAR HAVELI3,377
  • DAMAN AND DIU1,381
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
know how the new year will be and which amount will get buried treasure pragnt

Horoscope 2021: जानिए कैसा रहेगा आपका नया साल और किस राशि को मिलेगा गड़ा हुआ खजाना

  • Updated on 12/31/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। बस चंद घटों के इंतजार के बाद हम सभी नए साल 2021 में प्रवेश करने वाले हैं। ऐसे में हर कोई जानना चाहता है कि ये साल कैसा गुजरेगा। ऐसे में हम आपको बताने वाले हैं कि आपका नया साल आपकी जिंदगी में कैसे मोड़ लाने जा रहा है।

कुंडली से जाने अपने जीवन की सफलताओं का राज, ऐसे बन सकती है मार्गदर्शक

मेष (चू, चे, चो, ल, ली, लू,ले,लो अ) 
मजबूत आम सितारा राजकीय कामों में कदम को बढ़त की तरफ रखेगा, बड़े लोग साफ्ट, कंसिडरेट रहेंगे मगर अपने क्रोध पर नियंत्रण रखना सही रहेगा। केतु की स्थिति सेहत को अपसैट रखने वाली है, एहतियात रखनी जरूरी। वर्ष की दूसरी-तीसरी तिमाही कारोबारी फ्रंट पर आपकी एक्टिविटी का बेहतर नतीजा देने वाली होगी।वर्ष के प्रारंभ से चला समय सरकारी कामों, इज्जत-मान के लिए अच्छा, शत्रु भी कमजोर रहेंगे। 22 फरवरी से 5 अप्रैल तक का समय अर्थ मोर्चा पर कुछ टाइटनैस रख सकता है, फिर 6 अप्रैल से कारोबारी यत्नों में कदम बढ़त की तरफ रहेगा, आगे 14 अप्रैल से कोई पेचीदा बना कार्य कुछ आगे बढ़ सकता है। 4 से 28 मई तक समय धन-लाभ वाला, कारोबारी सरगर्मी अच्छा रिजल्ट देगी, इसी तरह 7 से 24 जुलाई के बीच मित्र, कामकाजी साथी हर मौके पर आपका साथ देंगे, फिर आगे 5 सितम्बर तक का समय आम तौर पर कदम बढ़त की तरफ रखेगा। बीच में 26 अगस्त से 21 सितम्बर तक दुश्मनों को कमजोर समझने की भूल न करें। इसी तरह 6 सितम्बर से 1 अक्तूबर तक फैमिली फ्रंट पर तालमेल-सौहार्द बढ़ेगा, फिर 21 अक्तूबर तक शत्रु आपके सामने अपने आपको बेबस महसूस करेंगे, किन्तु 17 अक्तूबर से 15 नवम्बर तक घरेलू मोर्चा पर टैंशन-परेशानी बढ़ेगी, 16 नवम्बर से पांव के फिसलने तथा सेहत के बिगड़ने का खतरा रह सकता है, फिर 16 नवम्बर से वर्षांत तक समय आमदन वाला, कारोबारी मुश्किलें कंट्रोल में रहेंगी।

इन 5 राशियों के लिए शानदार रहेगा ये New Year, होगी पैसों की बरसात

वृष (इ,उ,ए,ओ,व/ब, वी/बी, वू/बू, वे/बे, वो/बो)
यह वर्ष सामान्य हालात को बेहतर रखने, मान-प्रतिष्ठा बनाए रखने वाला होगा मगर गिरने-फिसलने तथा राहू-केतु की कमजोर स्थिति के कारण दोनों पति-पत्नी की सेहत के बिगडऩे का डर बना रह सकता है। ध्यान रखें कि स्वभाव में क्रोध के कारण किसी के साथ झगड़ा न हो जाए। वर्ष के प्रारंभ से समय सेहत के लिए ढीला, कोई भी कार्य शुरू न करें; 13 जनवरी के बाद समय का चक्र बेहतर बनना शुरू होगा; 22 फरवरी से स्वभाव में क्रोध बढ़ेगा, घरेलू मोर्चा पर भी टैंशन-परेशानी बढ़ेगी; 17 मार्च  से 13 अप्रैल तक समय धन लाभ देने, कारोबारी कामों को संवारने तथा बेहतरी के हालात बनाने वाला होगा; 14 अप्रैल से 3 मई तक समय उलझनों, पेचीदगियों तथा खर्चों वाला होगा फिर 4 से 28 मई तक मूड में खुशदिली, स्वच्छंदता बढ़ेगी, सैर-सफर का मौका मिलेगा, आपके यत्न आपकी प्रोग्रामिंग को आगे बढ़ा सकते हैं। फिर 29 मई से 6 जुलाई तक भी आम हालात बेहतर बने रहेंगे; 7 से 24 जुलाई तक समय कारोबारी कामों को पुन: बेहतर बनाने वाला बनेगा। बीच में 21 जुलाई से 15 सितम्बर समय जायदादी कामों के लिए बेहतर बनेगा किन्तु 6 सितम्बर से 1 अक्तूबर तक किसी मजबूत शत्रु के साथ टकराव का खतरा बढ़ सकता है, अलबत्ता 17 अक्तूबर से 15 नवम्बर तक शत्रुओं पर आपका प्रैशर बढ़ जाएगा। फिर 21 नवम्बर से वर्षांत तक समय राजकीय कामों के लिए बेहतर रहेगा।

ग्रहों को Active करने के लिए करें ये छोटे-छोटे उपाय, बदल जाएगी किस्मत

मिथुन (क, की, कु, घ, छ, के, को, ह) 
वर्ष के दौरान आम सितारा ढीला दिखाई देता है। दुश्मनों के उभरने, सेहत के बिगडऩे तथा खर्चों के बढऩे का डर रहेगा, इसलिए तीनों मोर्चों पर चौकसी रखनी जरूरी मगर कामकाजी दशा बेहतर रहेगी, ढैया के कारण विपरीत हालात के साथ वास्ता रहेगा, इसलिए हर दम आपको प्रो-एक्टिव रहने की जरूरत होगी।14 जनवरी से 12 फरवरी तक सेहत के बिगडऩे तथा पांव के फिसलने का डर रहेगा, जल्दबाजी में न तो कोई एग्रीमैंट करें और न ही किसी पर जरूरत से ज्यादा भरोसा करें। फिर 22 फरवरी से 16 मार्च तक समय खर्चों, उलझनों, बाधाओं को बढ़ाने वाला बन जाएगा, जरा-सी भी लापरवाही परेशानियों को बढ़ाने वाली होगी।

17 मार्च से 3 मई तक का समय सरकारी मोर्चा पर कदम को बढ़त की तरफ रखने वाला, इज्जत-मान तथा धन-लाभ बढ़ाने वाला होगा, फिर 4 से 27 मई तक खर्चों का जोर। खर्च उचित तथा फिजूल दोनों तरह के होंगे, इसलिए जिन खर्चों को टाल सकें, टाल देना ठीक रहेगा, फिर 29 मई से समय का दौर पुन: बेहतर बनने लगेगा; 7 से 24 जुलाई तक की अवधि में यत्न करने पर आपका हर प्रोग्राम सुधरेगा, हर दाव सीधा पड़ेगा, सैर सफर का मौका भी लगेगा, फिर आगे समय भागदौड़ बढ़ाएगा, कामकाजी साथियों को अनुरूप रखेगा; 26 अगस्त से 21 सितम्बर तक कोर्ट-कचहरी के कामों में कामयाबी मिलेगी। फिर 17 अक्टूबर से 15 नवम्बर तक संतान की तरफ से टैंशन- परेशानी बढ़ेगी, शायद वह हर मौके पर आपका साथ न दे सकेगी, तदुपरांत वर्षांत तक समय अनुकूल हालात रखेगा।

गीता की जन्मस्थली है ज्योतिसर, जानिए इसके महत्व के बारे में

कर्क (ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो)
वर्ष के दौरान कारोबारी स्थिति प्राय: बेहतरी बनी रहेगी, सरकारी फ्रंट पर आपके यत्न अच्छा नतीजा देंगे, बड़े लोग आपके अनुकूल रहेंगे मगर शत्रु भी यदा-कदा उभरते-सिमटते रहेंगे, सेहत के मामले में भी लापरवाही न बरतनी चाहिए, खासकर दूसरी-तीसरी तिमाही में।वर्ष के प्रारंभ से शत्रु अपनी शरारतों में सरगर्म रह सकते हैं; 14 जनवरी से 12 फरवरी तक कामकाजी दशा संतोषजनक, फिर 13 फरवरी से 14 मार्च तक समय सेहत के लिए ढीला, पांव-फिसलने तथा चोट लगने का डर बना रहेगा, बीच में 22 फरवरी से कामकाजी कामों में बेहतरी होगी तथा लाभ बढ़ेगा; 17 मार्च से यत्न करने पर प्लानिंग कुछ आगे बढ़ेगी, अलबत्ता 6 अप्रैल से सेहत के मामले में अटैंटिव रहने की जरूरत होगी; 14 अप्रैल से 13 मई तक समय सरकारी कामों के लिए मजबूत बनेगा, अफसर तथा बड़े लोग मेहरबान रहेंगे, उनकी मदद तथा सहयोग से आपकी कोई समस्या हल हो सकती है।

4 से 28 मई तक कारोबारी कामों में कम बढ़त की तरफ। 29 मई से 24 जुलाई तक समय उलझनों, समस्याओं तथा खर्चों वाला बनेगा। फिर 25 जुलाई से 16 सितम्बर तक कारोबारी मोर्चा पर कदम बढ़त की तरफ, कामकाजी प्लाङ्क्षनग कुछ आगे बढ़ेगी। बीच में 26 अगस्त से 21 सितम्बर तक बड़े लोगों के नर्म रुख के कारण आपकी कोई समस्या सुलझेगी। वैसे 6 सितंबर से 16 अक्टूबर तक का समय कोर्ट-कचहरी तथा प्रापर्टी के कामों के लिए बेहतर, तदुपरांत 15 नवम्बर तक कोई अदालती काम हाथ में न लें। फिर 21 नवम्बर से सितारा मजबूत बनेगा।

विभिन्न प्रकार के भय से मुक्ति पाने के लिए लक्ष्मी मां से करें ऐसे उपासना, मिलेगा ये लाभ

सिंह : (म, मी, मू, मे, मो, ट, टी, टू, टे)
नए वर्ष में राजकीय, कोर्ट-कचहरी, प्रापर्टी के कामों के लिए सितारा कमजोर, इसलिए पूरी तैयारी के बगैर ऐसा कोई काम हाथ में न लें, शत्रु बेशक उभरते-सिमटते तो रहेंगे तो भी उनकी कोई खास पेश न चल सकेगी-वैसे वर्ष की दूसरी-तीसरी तिमाही की अवधि आपके कारोबारी कामों के लिए बेहतर सिद्ध होगी।वर्ष के प्रारंभ से समय का चक्र बेहतर समझें, न तो शत्रु आप पर कोई खास दबाव  बना सकेंगे और न ही परेशान कर सकेंगे, कामकाजी दशा भी संतोषजनक रहेगी, बेहतर समय का चक्र 14 मार्च तक रहेगा; 15 मार्च से 13 अप्रैल तक सेहत के बिगडऩे तथा पांव के फिसलने का खतरा बढ़ जाएगा, लेन-देन और लिखत-पढ़त के कामों में भी ओवर एक्टिव रहने की जरूरत होगी। बीच में 6 अप्रैल से शत्रु फिर उठाना शुरू कर सकते हैं। 

14 अप्रैल से यत्न करने पर प्लानिंग कुछ आगे बढ़ेगी, उद्देश्य-मनोरथ मैच्योर होंगे; 4 से 28 मई तक अफसरों के नर्म एवं अनुकूल रुख के कारण कोई पेचीदगी हल हो सकती है। फिर 29 मई से 15 जुलाई तक समय आमदन  तथा 16 जुलाई से 16 अगस्त तक नुक्सान वाला, ध्यान रखें कि आपकी कोई बनी बनाई प्लाङ्क्षनग न उखड़-बिगड़ जाए। फिर 17 अगस्त से 16 सितम्बर तक समय बेहतर, उद्देश्य-प्रोग्राम फलीभूत होंगे, कारोबारी दशा भी सुधरी रहेगी-बीच में 6 सितम्बर से 1 अक्तूबर तक बड़े लोगों की सहायता से कोई कठिनाई हल हो सकती है; 17 अक्तूबर से 16 नवम्बर के बीच  घटिया तथा नैगेटिव सोच वाले लोगों से सावधान रहें, तदुपरांत हर फ्रंट पर कामयाबी मिलेगी।

Vastu Dosh Remedies: सोते वक्त न करें ये गलतियां अन्‍यथा कभी नहीं होगी आपकी शादी

कन्या (टो, प, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो) 
सामान्य सितारा सुदृढ़, जमीनी अदालती कामों में कामयाबी मिलेगी, अफसरों के नर्म रुख के कारण कोई बाधा-मुश्किल हटेगी, मगर सेहत, खासकर पेट की संभाल रखनी चाहिए, लेन-देन के कामों में भी अलर्ट रहें। वैसे वर्ष की दूसरी-तीसरी तिमाही में शत्रु पेचीदगियां पैदा करते रह सकते हैं। वर्ष के प्रारंभ से समय बेहतर हालात रखेगा, अर्थ दशा भी संतोषजनक बनी रहेगी, शत्रु भी कमजोर-तेजहीन रहेंगे किन्तु सेहत के मामले में एहतियात रखनी जरूरी, फिर 22 फरवरी से सेहत को अपसैट रखने वाला ग्रह धीरे-धीरे कमजोर होना शुरू हो जाएगा; 17 मार्च से 9 अप्रैल तक घरेलू मोर्चे पर मधुरता, तालमेल, सहयोग बना रहेगा। घूमने-फिरने की इच्छा जागृत रहेगी।

14 अप्रैल से सितारा सेहत को अपसैट रखने तथा पांव को फिसलाने वाला है, जल्दबाजी में कोई एग्रीमैंट भी न करें। फिर 4 से 28 मई तक धार्मिक कामों, धार्मिक साहित्य के अध्ययन में जी लगेगा, यत्न करने पर प्लाङ्क्षनग कुछ आगे बढ़ेगी; 29 मई से समय कामयाबी देगा; 7 से 20 जुलाई तक यत्न करने पर कोई पेचीदा बना सरकारी काम हल हो सकता है; 21 जुलाई से उलझनें-मुश्किलें उभर सकती हैं, नुक्सान के हालात बन सकते हैं, किसी के झांसे में भी न फंसें, कमजोर समय का क्रम 16 सितम्बर तक चल सकता है। बीच में 6 सितम्बर से 1 अक्तूबर तक समय कारोबारी कामों को संवारने तथा बेहतरी करने वाला होगा फिर 17 अक्तूबर से अर्थ दशा कमजोर बनेगी, समय विपरीत हालात बनाने वाला होगा, 16 नवम्बर से आम हालात पुन: बेहतर बनने लगेंगे, 21 नवम्बर से अन्य हालात तो पहले जैसे बने रहेंगे, किन्तु किसी प्रबल शत्रु के साथ टकराव का खतरा जरूर बढ़ सकता है।

2021 में चाहते हैं हमेशा खुश रहना तो नए साल के पहले दिन घर लाए ये 5 चीजें

तुला (र, री, रू, र, रो, त, ती, तू, ते)
यह वर्ष उत्साह, हिम्मत, यत्न शक्ति तथा कामकाजी भागदौड़ की क्षमता बनाए रखेेगा। कोर्ट-कचहरी के कामों के लिए आपके यत्न अच्छा नतीजा देंगे, कारोबारी दशा भी ठीकठाक बनी रहेगी, मगर ढैया तथा राहू की मौजूदगी के कारण सेहत बिगड़ी रहेगी। वर्ष की दूसरी-तीसरी तिमाही में कोई समस्या अपने समाधान की तरफ बढ़ेगी।वर्ष के प्रारंभ से आम हालात बेहतर बने रहेंगे; 28 जनवरी से किसी जमीनी-अदालती काम के लिए आपके यत्न तथा भागदौड़ अच्छा नतीजा देंगे। फिर 17 मार्च से 9 अप्रैल तक समय ढीला तथा शत्रुओं को उभारने वाला होगा। शत्रु के साथ टकराव से बचना चाहिए क्योंकि किसी विरोधी के कारण आपको परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। बीच में 14 अप्रैल से कामकाजी मोर्चे पर दशा संतोषजनक बनेगी। 

फिर 4 मई से सेहत बिगड़ेगी, 15 मई से सितारा सेहत के लिए और अधिक कमजोर बनेगा, गिरने-फिसलने का खतरा, इसलिए पांव जमाकर चलना-फिरना सही रहेगा; 15 जून से सेहत को बिगाडऩे, पांव को फिसलाने वाला ग्रह हट जाएगा तथा आम हालात बेहतर बनेंगे। फिर 7 से 24 जुलाई तक यत्न करने पर कोई स्कीम सिरे चढ़ेगी, बीच में 21 जुलाई से 25 अगस्त तक समय आमदन के लिए बेहतर बनेगा; 26 अगस्त से खर्च बढ़ेंगे। 6 सितम्बर से 1 अक्तूबर तक कामकाजी कामों की दशा बेहतर रहेगी, मूड में खुशदिली रहेगी, सैर-सफर का मौका मिल सकता है। तदुपरांत 16 अक्तूबर तक आम हालात विपरीत बनेंगे, नुक्सान का डर रहेगा, उलझनें-बाधाएं जागेंगी, 17 अक्तूबर से 16 नवम्बर तक स्वभाव में क्रोध तथा चिड़चिड़ापन बढ़ेगा; 21 नवम्बर से आपकी पैठ, दनदनाहट में वृद्धि होगी।

किन वजहों से आपकी शादी में आ सकती है देरी, बाधाओं को दूर करने के लिए इन बातों का रखें ध्यान

वृश्चिक (तो, न, नी, नू, ने, नो, य, यी, यू)
नए वर्ष में बड़े लोगों की मदद से लटकती चली आ रही कोई समस्या हल हो सकती है, कामकाजी कामों में कदम बढ़त की तरफ, दुश्मनों की उछल-कूद भी आपको कोई विशेष नुक्सान न पहुंचा सकेगी मगर पति-पत्नी की सेहत में कुछ न कुछ गड़बड़ी रहने की आशंका रहेगी। वर्ष की दूसरी-तीसरी तिमाही प्रापर्टी तथा कोर्ट-कचहरी के किसी काम को संवार सकती है।वर्ष के प्रारंभ से अर्थ दशा बेहतर रहेगी; 14 जनवरी से कामकाजी भागदौड़ बनी रहेगी, 13 फरवरी से जमीनी कामों में कामयाबी मिलेगी। फिर 22 फरवरी से घरेलू मोर्र्चे पर परेशानी बढ़ेगी, पति-पत्नी की सेहत में खराबी जागने का डर रहेगा; 17 मार्च से सितारा संतान के लिए बेहतर बनेगा, यत्न करने पर प्लानिंग कुछ आगे बढ़ेगी; 5 अप्रैल के उपरांत प्रापर्टी या कोर्ट-कचहरी के किसी काम के लिए आपकी भागदौड़ अच्छा रिजल्ट देगी।

14 अप्रैल से सितारा दुश्मनों को कमजोर करेगा मगर सेहत को भी बिगाड़ेगा, इसलिए खान-पान में मर्यादा बरतनी चाहिए; 4 से 28 मई तक समय पारिवारिक जीवन में मधुरता, साफ्टनैस, तालमेल बनाए रखेगा; 15 जून से सेहत के बिगडऩे तथा पांव के फिसलने का डर रहेगा; 21 जुलाई से 5 सितम्बर तक सरकारी, गैर सरकारी कामों के लिए ग्रह बेहतर बनेगा, बड़े लोग मेहरबान रहेंगे; 17 अक्टूबर से 15 नवम्बर तक समय कमजोर होगा, न तो कोई नया यत्न शुरू करें और न ही किसी पर ज्यादा भरोसा करें, फिर 21 नवम्बर से वर्षांत तक समय जमीनी कामों के लिए बेहतर होगा।

धनु (चे, चो, भ, भी, भू, ध, फ, ढ, भे)
वर्ष के दौरान शत्रु कमजोर रहेंगे, कारोबारी मोर्चा पर कदम बढ़त की तरफ रहेगा, संतान के सकारात्मक सहयोग के साथ आपको अपनी किसी समस्या को संवारने में मदद मिल सकती है, मगर साढ़ेसाती के कारण खर्चों तथा पेचीदगियों का जोर बना रहेगा। शुरू वर्ष से आम हालात सामान्य बने रहेंगे, मगर 28 जनवरी से आॢथक मोर्चे पर कदम बढ़त की तरफ रह सकता है; 22 फरवरी से संतान की तरफ से अस्थायी तौर पर कोई टैंशन-परेशानी उभर सकती है; 17 मार्च से 9 अप्रैल तक की अवधि में कोर्ट-कचहरी या प्रापर्टी के किसी काम में कुछ न कुछ पेशकदमी जरूर होगी। बीच में 6 अप्रैल से मित्रों, सज्जन-साथियों, बड़े लोगों के सकारात्मक रुख के कारण सफलता की कोई न कोई राह खुल सकती है तथा 13 अप्रैल के बाद ग्रह संतान की तरफ से राहत देने वाला बन जाएगा।

4 से 28 मई के बीच किसी प्रबल शत्रु के उभरने का डर रहेगा इसलिए उसके साथ किसी भी तरह के पंगे से बचना चाहिए; 15 जून से कामकाजी दशा बेहतर बनेगी, 17 से 24 जुलाई के बीच कारोबारी कामों में लाभ, फैमिली लाइफ में तालमेल बढ़ेगा। बीच में 16 जुलाई से सेहत खराब होने तथा पांव फिसलने का डर रहेगा। यत्न करने पर 16 अगस्त से कोई उद्देश्य पूर्ण होगा; 6 सितम्बर से 15 नवम्बर तक समय आमदन वाला, मगर बीच में 2 अक्तूबर से 1 नवम्बर तक किसी सरकारी काम में कोई पेचीदगी हट सकती है, फिर 16 नवम्बर से 15 दिसम्बर तक हर फ्रंट पर सचेत रहना सही रहेगा।

Shubh Vivah Muhurat 2021: नए साल में फरवरी-मार्च में नहीं बजेगी शहनाई, जानिए आखिर क्या है वजह

मकर (भो, ज, जी, जु, जे, जो, ख, खी, खू, खे, खो, ग, गी)
चूंकि नए वर्ष में कारोबारी तथा जायदादी कामों के लिए ग्रह अच्छा है, इसलिए दोनों क्षेत्रों में आपकी प्लाङ्क्षनग बेहतर बनेगी, मगर संतान की तरफ से पैदा होने वाली किसी समस्या, झमेले को समझदारी के साथ निपटाना सही रहेगा। साढ़ेसाती भी मानसिक परेशानी रखने वाली है, इसलिए एहतियात बरतनी जरूरी होगी।शुरू वर्ष से समय विपरीत हालात वाला होगा, 14 जनवरी से कामकाजी दशा सुधरेगी, फिर 22 फरवरी से संतान के असहयोगी रुख के कारण मन परेशान सा रह सकता है; 15 मार्च से कामकाजी भागदौड़ करने की क्षमता बढ़ेगी, फिर 17 मार्च से 9 अप्रैल तक की अवधि में मित्र, सज्जन-साथी तथा बड़े लोग जरूरत के हर मौके पर आपकी मदद के लिए हाजिर रहा करेंगे। बीच में 6 अप्रैल से कामकाजी तथा 14 अप्रैल से प्रापर्टी तथा कोर्ट-कचहरी के कामों के लिए समय बेहतर बनेगा।

4 मई से 28 मई तक मन पर सकारात्मक तथा सहयोगात्मक सोच बनी रहेगी। 29 मई से 14 जून तक के दौरान शत्रुओं से दूरी रखें, क्योंकि वे आपकी टांग खींचने का कोई मौका हाथ से न जाने देंगे; 15 जून से 6 जुलाई तक शत्रु अपने आपको कमजोर महसूस करेंगे, किन्तु 7 से 24 जुलाई तक वे टकराव से बाज न आएंगे। तदुपरांत हालात सामान्य से रहेंगे। फिर 17 अगस्त से 16 सितम्बर तक सेहत का ध्यान रखें, पांव फिसलने का डर भी रहेगा। बीच में 6 सितम्बर से 1 अक्तूबर तक सरकारी कामों में आपकी पैठ तथा बोलबाला बना रहेगा; 17 अक्तूबर से 15 नवम्बर के बीच न तो कोई सरकारी काम हाथ में लें और न ही किसी अफसर के समक्ष तैयारी के बगैर जाएं। फिर 16 नवम्बर से 15 दिसम्बर तक कारोबारी कामों में कदम बढ़त की तरफ।

कुंभ (गू, गे, गो, स / श, सी / शी, सू/ शू, से / शे, सो/शो, द)
प्रापर्टी, कोर्ट-कचहरी तथा राजकीय कामों के लिए आपकी भागदौड़ चल रही साढ़ेसाती के कारण कोई खास नतीजा शायद न दे सकेगी, मगर आमदन, धन लाभ तथा कारोबारी कामों में आपको अच्छी कामयाबी मिलेगी। शुरू वर्ष से सितारा धन लाभ के लिए बेहतर, मान-यश की प्राप्ति, 14 जनवरी से किसी बनतेे काम में किसी बाधा मुश्किल के उभरने की आशंका, इसलिए हर काम सावधानीपूर्वक करें; 13 फरवरी से ग्रह सुदृढ़ बनेगा, कामकाजी कामों में सुधार होगा; 22 फरवरी से जायदादी कामों के लिए आपकी भागदौड़ शायद ज्यादा नतीजा न दे; 17 मार्च से 9 अप्रैल तक समय धन लाभ वाला, किसी पेचीदा बने कामकाजी को हाथ में लेने पर बेहतर नतीजा मिलने की आशा।

Shubh Vivah Muhurat 2021: नए साल में फरवरी-मार्च में नहीं बजेगी शहनाई, जानिए आखिर क्या है वजह

6 अप्रैल से सकारात्मक सोच के कारण आपको हर काम आसान दिखाई देगा, फिर 14 अप्रैल से मित्र, सज्जन-साथी आपकी मदद के लिए तैयार दिखा करेंगे; 4 से 28 मई के बीच कोई जायदादी प्रोग्राम सिरे चढ़ेगा, तदुपरांत सामान्य हालात भी पहले की तरह बेहतर बने रहेंग; 17 से 24 जुलाई तक संतान साथ देगी तथा उसकी मदद से आपकी कोई समस्या सुलझने के करीब पहुंचेगी। बीच में 16 जुलाई से सितारा दुश्मनों को कमजोर बनाएगा, 21 जुलाई से 16 सितम्बर तक की अवधि में कामकाजी दशा बेहतर, पारिवारिक मोर्चे पर तालमेल और सहयोग बढ़ेगा; 17 सितम्बर से 16 अक्टूबर तक सेहत का ध्यान रखें, गिरने-फिसलने का डर रहेगा। फिर 17 अक्तूबर से 15 नवम्बर तक कामकाजी भागदौड़ बेनतीजा रहेगी, वैसे भी समय बाधाओं वाला है मगर 21 नवंबर से समय पुन: बेहतर बनने लगेगा।

मीन (दी, दू, थ, झ, दे, दो, च, ची) 
वर्ष के दौरान आम सितारा मजबूत रहेगा। राजकीय कामों में जहां सफलता मिलेगी वहां बड़े लोग भी आपके प्रति अनुकूल रहेंगे, कामकाजी कामों के लिए यत्न भी अच्छा नतीजा देंगे, मगर हल्की सोच तथा स्वभाव वाले लोग आपकी टांग खींचने एवं बाधाओं-मुश्किलों को जाग्रत करने में लगे रहेंगे, इसलिए उनसे सचेत रहना जरूरी होगा।शुरू वर्ष से समय कामयाबी वाला; 14 जनवरी से सितारा कारोबारी कामों में आपको काफी एक्टिव रखेगा, किन्तु 13  फरवरी से समय कमजोर बनेगा, उलझनें-समस्याएं भी सिर उठाएंगी, नुक्सान की आशंका भी रहेगी, 14 मार्च के उपरांत ग्रह पुन: कामयाबी देने तथा कदम को बढ़त की तरफ रखने वाला बन जाएगा।

इन 5 राशियों के लिए शानदार रहेगा ये New Year, होगी पैसों की बरसात

17 मार्च से 9 अप्रैल तक का समय कारोबारी कामों के लिए बेहतर होगा, मूड तथा तबीयत में स्वच्छंदता बढ़ेगी, घूमने-फिरने तथा सैर-सफर की इच्छा जाग्रत रहेगी, फिर 14 अप्रैल से समय धन लाभ वाला बनेगा, 4 से 28 मई तक मित्रों, सज्जन-साथियों के रुख में सहयोग और अनुकूलता बनी रहेगी, फिर 29 मई से  कामयाबी देने वाला ग्रह मजबूत बन जाएगा; 7 से 24 जुलाई तक कोर्ट-कचहरी, प्रापर्टी के कामों के लिए आपकी भागदौड़ अच्छा नतीजा देगी, अफसर तथा बड़े लोग आपकी बात ध्यान से सुनेंगे; 25 जुलाई से 16 सितंबर तक शत्रुओं की उछल-कूद व्यर्थ रहेगी, बीच में 26 अगस्त से पारिवारिक मोर्चे पर मेल-सहयोग बढ़ेगा, मन पर सात्विक सोच प्रभावी रहेगी, फिर बीच में 6 सितम्बर से 21 अक्तूबर तक की अवधि में पति-पत्नी के लिए ग्रह कष्टकारी रहेंगे; 17 अक्तूबर से सितारा सेहत को बिगाड़ने और पांव फिसलाने वाला बन जाएगा, ध्यान रखें; 15 नवंबर के बाद समय बेहतर बनेगा तथा हर क्षेत्र में कामयाबी साथ देगी।

comments

.
.
.
.
.