Wednesday, Sep 28, 2022
-->
increased seizure of illegal weapons from pak backed terrorists and indian smugglers aljwnt

‘पाक समर्थित आतंकियों और भारतीय तस्करों से अवैध हथियारों की बढ़ रही बरामदगी’

  • Updated on 2/20/2021

आज एक ओर पाकिस्तान (Pakistan) अपने पाले हुए आतंकवादियों के माध्यम से भारत में हिंसा और हथियारों की तस्करी करवा रहा है तो दूसरी ओर उसके साथ मिले हुए समाज विरोधी तत्वों ने भारत में अवैध हथियारों का निर्माण और तस्करी शुरू कर रखी है। यह स्थिति कितना गंभीर रूप धारण कर चुकी है यह मात्र इसी महीने के दौरान पाकिस्तान समॢथत आतंकवादियों तथा भारतीय तस्करों से जब्त अवैध हथियारों के निम्र उदाहरणों से स्पष्ट है : 

* 1 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के राजौरी और रियासी जिलों में तलाशी अभियान के दौरान 1 ए.के. 47 राइफल, इसके 3 मैगजीन, 2 चीनी पिस्तौल और इसके मैगजीन, 5 यू.बी.जी.एल. ग्रेनेड, एक रेडियो सैट और तीन रेडियो सैट के एंटीना जब्त किए गए।
* 2 फरवरी को बिहार के मुंगेर में अवैध हथियारों के 6 मिनी कारखानों में हथियार बनाने के सामान सहित अनेक बने और अधबने हथियार पकड़े गए। 
* 3 फरवरी को आगरा में अवैध हथियारों के तस्करों से 27 तमंचे, 3 पिस्तौल, एक कट्टा और 24 कारतूस पकड़े गए। 
* 5 फरवरी को बिहार के गया जिले में 2 हथियार तस्करों से 5 पिस्तौल जब्त किए गए। 

उत्तर प्रदेश बना अपराध प्रदेश, हत्याएं, बलात्कार, अपहरण जोरों पर

* 7 फरवरी को भोपाल की क्राइम ब्रांच टीम ने हथियार तस्करों के एक गिरोह से 30 देसी कट्टे, पिस्तौल और 100 कारतूत बरामद किए। 
* 10 फरवरी को राजस्थान में जयपुर रेंज के आई.जी. हवा सिंह घुमरिया द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार ‘पपला गैंग’ के सदस्य महिपाल गुर्जर के हरियाणा में कसोल स्थित एक खंडहरनुमा मकान से रूस निर्मित ए.के. 47 राइफल, 2 पिस्तौल और 30 कारतूस बरामद किए गए। 

* 13 फरवरी को उत्तर प्रदेश के कासगंज में पुलिस ने दिल्ली के रहने वाले 3 कार सवार तस्करों को गिरफ्तार करके उनसे 5 देसी पिस्तौल, 7 अवैध तमंचे और 6 कारतूस बरामद किए। 
* 14 फरवरी को सुरक्षा बलों ने जम्मू के बस स्टैंड इलाके से साढ़े 6 किलो विस्फोटक के साथ ‘अलबदर’ के एक आतंकवादी ‘सोहेल बशीर शाह’ को गिरफ्तार करके जम्मू को दहलाने का षड्यंत्र नाकाम किया।

सस्ते ऋण के लालच में ऐप्स के ‘मायाजाल में फंस रहे लोग’ 

* 14 फरवरी को उत्तर प्रदेश के इटावा में थाना ‘इकदिल’ की पुलिस ने  ‘निगोह’ गांव में अवैध हथियार बनाने वाली फैक्टरी से बने और अधबने दर्जनों अवैध हथियार, कारतूस और हथियार बनाने के उपकरण पकड़े। 
* 15 फरवरी को पश्चिम बंगाल के मालदा जिले के ‘माणिक चक’ में  3 व्यक्तियों से 7 एम.एम. के 5 पिस्तौल और 90 कारतूस जब्त किए गए। 
* 16 फरवरी को लखनऊ में उत्तर प्रदेश की स्पैशल टास्क फोर्स के सदस्यों ने आतंकी संगठन ‘पापुलर फ्रंट आफ इंडिया’ के 2 सदस्यों के कब्जे से 16 हाई एक्सप्लोसिव डिवाइस (बैटरी व डैटोनेटर सहित) तथा 32 बोर का एक पिस्तौल कब्जे में लिया। 

* 17 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले के त्राल में ‘ददसरा’ स्थित मकान से 8 इलैक्ट्रिक डैटोनेटर, 7 एंटी मैकेनिज्म स्विच, एक एंटी माइन वायरलैस एंटीना तथा अन्य आपत्तिजनक सामग्री पकड़ी गई।
* 17 फरवरी को ही मध्य प्रदेश में ‘बड़वानी’ जिले के ‘सेंधवा’ में 2 तस्करों को 4 देसी पिस्तौलों और 19 कारतूसों के साथ पकड़ा गया।  
* 17-18 फरवरी की दरम्यानी रात को जम्मू-कश्मीर पुलिस के संयुक्त दल ने रियासी जिले के घने ‘मक्खीधार’ जंगल में आतंकवादियों द्वारा छिपा कर रखी गई युद्ध सामग्री के साथ भारी मात्रा में हथियार बरामद किए। 

हिंसा और राजनीतिक टकराव’ ‘यह क्या कर रहे हो’ : ‘यह क्या हो रहा है’

इनमें एक ए.के. 47 राइफल, 1 सैल्फ लोडिंग राइफल (एस.एल.आर),  303 बोर की 1 राइफल, 2 चीनी पिस्तौल और गोला बारूद के अलावा 1 पिस्तौल एम.ए.जी., एंटीना वाले दो रेडियो सैट, गोला-बारूद का सीलबंद डिब्बा, मैगजीन और चार यू.बी.एल. ग्रेनेड आदि शामिल हैं।

इन दिनों बंगाल में, जहां चुनाव होने वाले हैं, अत्यंत कम कीमत पर पिस्तौल बनाकर बेचे जा रहे हैं। मंत्री का आवास तक क्षतिग्रस्त करने में सक्षम शक्तिशाली देसी बम तक सस्ती कीमत पर बिक रहे हैं। बिहार का मुंगेर आज अवैध हथियारों के निर्माण और सप्लाई का बड़ा केंद्र बन चुका है। मुम्बई की डी. कम्पनी से लेकर माओवादियों तक के साथ मुंगेर के अवैध हथियार निर्माताओं के संपर्कों का भी पता चला है। 

उक्त उदाहरणों से स्पष्ट है कि आज पाक समर्थित आतंकवादी और  भारत में अवैध हथियारों के निर्माता देश की सुरक्षा और कानून-व्यवस्था के लिए भारी खतरा बनते जा रहे हैं अत: इस समस्या को समाप्त करने के लिए सरकारों को सोच-विचार कर अधिक कठोर कदम उठाने चाहिएं क्योंकि यदि यह बुराई और बढ़ती गई तो इस पर नियंत्रण पाना कठिन हो जाएगा।

—विजय कुमार

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.