punjab-ed-has-prohibited-the-use-of-mobile-by-government-teachers-in-the-classes

पंजाब शिक्षा विभाग ने लगाई सरकारी अध्यापकों के कक्षाओं में मोबाइल उपयोग पर रोक

  • Updated on 5/3/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। मोबाइल फोन इस शताब्दी का अभूतपूर्व चमत्कार है जिसके अनेक लाभों के साथ-साथ इसकी कई हानियां भी हैं। विशेष रूप से सडक़ दुर्घटनाओं में मोबाइल फोन का बहुत योगदान है और इनके माध्यम से अश्लीलता का प्रसार भी हो रहा है लेकिन स्कूलों में मोबाइल फोन का जिस प्रकार दुरुपयोग हो रहा है उस पर भी तुरंत ध्यान देने की जरूरत थी।

दफ्तरों में काम के दौरान कर्मचारियों द्वारा और स्कूलों में बच्चों को पढ़ाने के दौरान अनेक अध्यापकों द्वारा क्लासों में पढ़ाई से ध्यान हटाकर मोबाइल पर चैटिंग आदि करने से छात्रों की पढ़ाई का नुक्सान भी हो रहा है।

पंजाब शिक्षा विभाग के पास ऐसे मामले पहुंचे थे कि अध्यापक कक्षाओं में पढ़ाने की बजाय फेसबुक तथा व्हाट्सएप चलाने में अधिक व्यस्त रहते हैं। इसी को देखते हुए पंजाब शिक्षा विभाग के सचिव श्री कृष्ण कुमार ने 1 मई को जारी आदेश द्वारा राज्य के सरकारी स्कूलों के अध्यापकों के क्लास रूमों में मोबाइल फोनों के इस्तेमाल पर रोक लगा दी है।

राज्य के सभी स्कूलों के प्रमुखों को इस बारे अध्यापकों को निर्देश जारी करने के लिए कहा गया है कि कक्षाओं के दौरान वे मोबाइल फोनों का इस्तेमाल करने से संकोच करें ताकि छात्रों की पढ़ाई का नुक्सान न हो।

यही नहीं विभागीय सूत्रों के अनुसार स्कूलों के पिं्रसीपलों से भी विभाग ने इस बारे में गुप्त रिपोर्ट मांगी है कि कौन से अध्यापक नियमित रूप से कक्षा में पढ़ाई के दौरान मोबाइल पर सोशल मीडिया की एप्स चलाते हैं।

पढ़ाई के दौरान मोबाइल फोन के इस्तेमाल से संकोच करने का निर्देश  उचित एवं सराहनीय है जिसे कठोरतापूर्वक लागू किया जाना चाहिए। इससे राज्य के सरकारी स्कूलों में शिक्षा का स्तर सुधारने में कुछ सहायता अवश्य मिल सकती है।           —विजय कुमार

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.