happiness-is-important-for-every-children-delhi-deputy-cm-said

अच्छे प्रदर्शन के लिए जरूरी है बच्चों का खुश रहना, दिल्ली के उप मुख्यमंत्री ने दिया मंत्र

  • Updated on 7/30/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली (Delhi) के सरकारी स्कूलों (Government Schools) में हैप्पीनेस कैरिकुलम (Happiness Curriculam) शुरू हुए एक साल बीत गया है। एक साल पूरा होने पर स्कूलों में हैप्पीनेस उत्सव (Happiness Festival) मनाया जा रहा है।

AFCAT के एडमिट कार्ड जल्द होंगे जारी, ये हैं परीक्षा के नियम

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने हैप्पीनेस क्लास को नजदिक से समझा

सोमवार को इंजीनियर (Engineering) से शिक्षा सुधारक बने सोनम वांगचुक (Sonam Vangchuk) और उड़ीसा के शिक्षा मंत्री समीर रंजन (Education Minister Sameer Ranjan) दास इस उत्सव में वेस्ट विनोद नगर के सर्वोदय कन्या विद्यालय में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Delhi Deputy CM Manish Sisodia) के साथ शामिल हुए और उन्होंने हैप्पीनेस क्लास (Happiness Class) को नजदीक से जाना।

दिल्ली विश्वविद्यालय में आज से दाखिले के लिए शुरु की जाएंगी स्पेशल ड्राइव

हैप्पीनेस कैरिकुलम नर्सरी से लेकर कक्षा 8 तक के बच्चों के लिए उपल्ब्ध

यहां दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि हैप्पीनेस कैरिकुलम की ये क्लास नर्सरी (Class Nursury) से लेकर कक्षा 8 तक के बच्चों के लिए है। दिल्ली के सरकारी स्कूलों में प्रतिदिन 45 मिनट की हैप्पीनेस क्लास (Happiness Class) लगाई जाती है। इससे बच्चों में आत्मविश्वास (Self Confidence) को बढ़ाने और खुश रहने के साथ भावनात्मक रूप से मजबूत बनने की कला (Art) सिखाई जाती है।

छत्तीसगढ़ PCS एग्जाम में छाया यह कपल, पति को पहला और पत्नी को दूसरा स्थान मिला

माइंडफुलनेस से लेकर बच्चों को कहानियों के जरिए किया जाता है प्रेरित 

इस क्लास को माइंडफुलनेस (Mindfulness) से शुरू किया जाता है। फिर कहानियों (Stories) आदि के जरिए बच्चों को जीवन मूल्यों का पाठ सिखाया जाता है। सोनम वांगचुक हैप्पीनेस क्लास से काफी प्रभावित हुए और उन्होंने देश के हर राज्य को इस तरह के कदम उठाने की बात कही।

रिसर्च में विदेशी छात्रों की संख्या बढ़ाने पर IIT दिल्ली ने आयोजित की कांफ्रेंस

वांगचुक के जीवन से प्रेरित होकर बनाई गई है थ्री इडियट्स

आमिर खान (Amir Khan) की मशहूर फिल्म थ्री इडियट्स (3 Idiots) वांगचुक के जीवन से प्रेरित होकर बनाई गई थी। वांगचुक (Vangchuk) से पहले सुपर 30 आनंद कुमार भी दिल्ली के सरकारी स्कूलों (Government School) में चलाए जा रहे हैप्पीनेस कैरिकुलम क्लासेस (Happiness Curriculam Classes) में शामिल हो चुके हैं। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.