Tuesday, Sep 28, 2021
-->
4-employees-of-kundras-company-turn-key-witness

राज कुंद्रा की बढ़ी मुश्किलें, साथ काम करने वाले 4 कर्मचारी बने चश्मदीद गवाह

  • Updated on 7/25/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। पोर्न फिल्में बनाने और उसे अलग-अलग ऐप पर अपलोड करने के जुर्म में गिरफ्तार हुए राज कुंद्रा को कोर्ट ने 27 जुलाई तक पुलिस हिरासत में रखने का आदेश दिया है। ऐसे में इस केस पर मुंबई क्राइम ब्रांच की जांच जारी है। ऐसे में राज कुंद्रा को लेकर रोजाना कई बड़े खुलासे सामने आ रहे हैं। वहीं अब जो बड़ी खबर सामने आई है, उससे राज कुंद्रा की परेशानी और भी बढ़ सकती है। 

पोर्न को लेकर राज कुंद्रा का Mega Plan, फिल्म के ट्रेलर से न्यूड सीन तक पर की थी बात

राज कुंद्रा के चार कर्मचारी सरकारी गवाह बनने को तैयार
ताजा मिली जानकारी के मुताबिक, राज कुंद्रा के कंपनी के चार कर्मचारी अब चश्मदीद गवाह बनकर आगे आए हैं, जो इस केस में बड़ी भूमिका निभा रहे हैं। सूत्रों के अनुसार, इन चारों ने पुलिस के सामने कई चौंका देने वाले खुलासे किए हैं। इन लोगों ने बताया कि किस तरह से उनका यह गंदा धंधा चलता था। 

मुंबई क्राइम ब्रांच की पूछताछ में राज कुंद्रा के कर्मचारियों ने बताया है कि महज डेढ़ साल में राज कुंद्रा ने अश्लील वीडियोज के जरिए करीब 25 करोड़ रुपये कमाए हैं. उन्होंने बताया कि अश्लील फिल्मों के जरिए जो कमाई होती थी, वह पहले केनेरिन कंपनी को भेजी जाती थी और फिर दूसरे रास्ते के जरिए राज कुंद्रा तक पहुंचती थी। अब क्राइम ब्रांच को शक है कि यह दूसरा रास्ता क्रिप्टो करेंसी का हो सकता है। पुलिस अब इसकी जांच कर रही है कि किस रास्ते के जरिए पैसे राज कुंद्रा तक पहुंचते था। 

Pornography case: राज कुंद्रा के वियान और जेएल स्ट्रीम ऑफिस से क्राइम ब्रांच को मिली खुफिया अलमारी

पोर्न फिल्म रैकेट मामले में अब प्रवर्तन निदेशालय एंट्री संभव
बताया जा रहा है कि पोर्न फिल्म रैकेट मामले में अब प्रवर्तन निदेशालय (ED) की एंट्री भी हो सकती है। राज कुंद्रा को क्राइम ब्रांच द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद कुछ ऐसे सबूत सामने आए हैं जिनके आधार पर अब ईडी इस मामले की जांच को अपने हाथ में ले सकती है।

ईडी सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि कुछ ही वक्त में यह जांच एजेंसी मुंबई पुलिस से पूरे प्रकरण से जुड़ी एफ आई आर की कॉपी मांग सकती है। एफ आई आर की कॉपी हासिल होते ही ईडी द्वारा जल्द ही मामला दर्ज किया जा सकता है। संदेह है कि पोर्नोग्राफी द्वारा कमाया गया पैसा ऑनलाइन बैटिंग के लिए इस्तेमाल किया जाता था।

comments

.
.
.
.
.