Monday, Oct 03, 2022
-->
after many rejection akshay kumar look finalised in bachchan pandey sosnnt

'बच्चन पांडे' में अक्षय के लुक को फाइनल करने के लिए साजिद, फरहाद ने की थी कड़ी मेहनत

  • Updated on 3/4/2022

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। बॉलीवुड के खिलाड़ी यानी अक्षय कुमार की आने वाली फिल्म 'बच्चन पांडे' के निर्माताओं ने फिल्म से उनका रॉ और हटकर दिखने वाले अवतार से हाल ही में पर्दा उठाया था। फिल्म में अभिनेता का अवतार बेहद रफ़ है, उनकी भूमिका के मुताबिक उनके चहरे पर निशान, दाढ़ी और मूंछ और गले में भारी सोने की चैन के साथ किरदार में जान डालने के लिए काले शर्ट के साथ नीली डेनिम पहने हुए दिखाया गया है। आपको बता दें कि इस अवतार को फिल्म के लिए मेकर्स ने कुल 8 अन्य अवतारों को ख़ारिज करने के बाद खास तौर पर चुना है।

ऐसे में अब फिल्म के विकास से जुड़े एक सूत्र ने खुलासा किया है कि "अक्षय और साजिद, बच्चन पांडे के लुक के लिए कुछ अलग आजमाने की कोशिश करने को लेकर बेहद उत्साहित थे, जिसकी वजह से वह क्रिएटिव टीम के साथ ब्रेन स्टॉर्म के लिए बैठे थे, ताकि वह अपने कल्पनाओं को असलियत का आइना दिखा सकें। इस तरह से टीम ने काफी समय तक खलनायक बच्चन पांडे के लिए सही लुक की तलाश की। कम से कम 8 तरह के परिवर्तन और संयोजनों की कोशिश करने के बाद, उन्होंने अक्षय के लिए इस लुक को चुना और इसके साथ आगे बढ़े।"

निर्माताओं ने बच्चन पांडे के रूप में अक्षय कुमार के अब तक कुल 3 पोस्टर जारी किए हैं, जो उनके खतरनाक रूप की एक झलक देते हैं। हालांकि, हर बार की तरह इस बार भी अक्षय का नया अंदाज और लुक दर्शकों को भा रहा है और वह इसे दिल खोलकर प्यार दे रहे हैं।

फरहाद सामजी द्वारा निर्देशित, 'बच्चन पांडे', जिसका ट्रेलर और हाल ही में जारी हुए गाने को जबरदस्त प्रतिक्रिया मिली है, में अक्षय के साथ कृति सनोन, अरशद वारसी, पंकज त्रिपाठी, संजय मिश्रा, अभिमन्यु सिंह और जैकलीन फर्नांडीज के साथ एक प्रतिभाशाली कलाकारों की टुकड़ी भी शामिल है।

ऐसे में इस 'होली पे गोली' के लिए तैयार हो जाइए क्योंकि नाडियाडवाला ग्रैंडसन एंटरटेनमेंट 'बच्चन पांडे' 18 मार्च, 2022 को सिनेमाघरों में रिलीज होने के लिए तैयार है!

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.