Thursday, Sep 23, 2021
-->
bobby deol starrer ashram web series review jsrwnt

आश्रम 2 Review: पहले जैसा ही है निराला बाबा का 'आश्रम'

  • Updated on 11/11/2020

वेब सीरीज रिव्यू : आश्रम चैप्टर 2- द डार्क साइड (Aashram 2)
स्टारकास्टबॉबी देओल (Bobby Deol) , चंदन रॉय सान्याल (chandan rai sanyal), अदिति पोहनकर (aditi pohankar), तुषार पांडे (tushar pandey), विक्रम कोचर (vikram kochar), राजीव सिद्धार्थ (rajiv siddharth), अनुप्रिया गोयनका (anupriya goyanka) और दर्शन कुमार (darshan kumar) 
निर्देशक:
प्रकाश झा (prakash jha)
ओटीटी: एमएक्स प्लेयर
रेटिंग: 2 स्टार/5*

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। आश्रम चैप्टर 2- द डार्क साइड  (Aashram 2) की अपार सफलता के बाद निर्माता-निर्देशक प्रकाश झा (prakash jha) इसका दूसरा अध्याय ले आए है। आश्रम 2 (Aashram 2) के फैंस का इंतजार खत्म हो गया है।बॉबी देओल (Bobby Deol) यानी काशीपुर वाले बाबा निराला MX Player पर मनोरंजन के लिए तैयार हैं। 

आश्रम-2 रिलीज होते ही फैन्स को इसका द डार्क साइड काफी पसंद आ रहा है। साथ ही आश्रम चैप्टर 3 का इंतजार भी शुरू हो गया है। सोशल मीडिया पर आश्रम 3 बाकी ट्रेंड भी कर रहा है। 

कहानी

जो दर्शक इसका पहला पार्ट देख चुके हैं। उनके लिए एक्साइटमेंट बनी रहेगी। कहानी बाबा निराला काशीपुर वाले बाबा के आश्रम में आगे बढ़ती है। बाबा के भक्तों का अंध विश्वास इसमें बहुत अच्छे से दिखाया गया है। इस सीजन में बाबा के आश्रम में पहले से ज्यादा अपराध बढ़ रहे हैं और सभी गलत काम हो रहे हैं। इसके अलावा बाबा भी पहले से ज्यादा पापी होता जा रहा है। बाबा अपने आश्रम के अलावा राजनीति में भी कैसे चाले चलता है और बड़े बड़े लोग उसके आगे माथा टेकते हैं उसके सारे काले कारनामे इसमें दिखाए गए हैं। इसमें निराला की अंधेरी दुनिया के विभिन्न पक्षों को दर्शाया गया है जिसमें उसके राजनीति और अवैध गतिविधियों को दिखाया गया। कहानी धीमी गति से चलती है। और जहां थी वहीं रह जाती है। 

एक्टिंग

एक्टिंग की बात करें तो सभी ने काम पहले की तरह अच्छा किया है। सबके किरदार तो पहले जैसे ही हैं। उनमें से कुछ ही बदले हैं। इस बार राजीव सिद्धार्थ ने अक्की के किरदार में पहले से ज्यादा काम किया है। वहीं भोपा का किरदार इस बार पहले से कम दमदार है। इसके अलावा त्रिधा चौधरी ने बबीता के किरदार को वास्विकता देने में कमी छोड़ दी। 

सबसे बड़ी कमी

इसकी सबसे बड़ी कमी ये है कि इसके सभी एपिसोड लंबे लगते हैं और यह इसी पर खत्म होने कि बजाए इसके तीसरे अध्याय पर छोड़ देती है। गौरतलब है कि कहानी यही खत्म नहीं होती अभी तीसरा अध्याय भी आएगा। 

अदिति पोहनकर यानि 'पम्मी' अपने और अपने परिवार का बदला लेना चाहती है, लेकिन क्या वह इसमें सफल होगी? यह देखने के लिए आपको आश्रम-2 की पूरी सीरीज देखनी होगी।

comments

.
.
.
.
.