Saturday, Dec 03, 2022
-->
bollywood actors who leaves films industry for their religion jsrwnt

बॉलीवुड के इन सुपरस्टार्स ने धर्म के लिए छोड़ी इंडस्ट्री, कोई बना नन तो कोई योग गुरु

  • Updated on 10/10/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बॉलीवुड (bollywood) की चकाचौंध से एक्टर्स की जिंदगी बदल जाती है। जिस तरह वे सफलता हासिल करके सांतवे आसमान पर पहुंच जाते हैं उसी तरह कुछ सितारे ऐसे भी हैं जिन्हें फिल्म इंडस्ट्री की ये रंगीन दुनिया रास नहीं आती और वे इसे छोड़ने का फैसला कर लेते हैं। आइए हम आपको कुछ ऐसे ही सितारों से मिलवाते हैं,जो सुपरहिट होने के बाद भी इंडस्ट्री छोड़कर नन, योग गुरु और सन्यासी बन गए। 

सना खान (sana khan)

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

Yeh last hai 🌹 . . . . #sanakhan #eiduladha #eidmubarak #2020

A post shared by Sana Khan (@sanakhaan21) on Aug 1, 2020 at 8:23am PDT

बिग बॉस फेम (bigg boss fame) ऐक्ट्रेस सना खान (sana khan) कई रियलिटी शो और वेब सीरीज में नजर आ चुकीं हैं। सना मुंबई के धारावी में पैदा हुई वहीं उनके पिता केरल के रहने वाले हैं। सना ने टॉइलेट-एक प्रेम कथा (toilet- ek prem katha), हल्ला बोल (halla bol), जय हो (jai ho), वजह तुम हो (vagah tum ho) जैसी कई बड़ी फिल्मों में काम किया है।

SPL: सिर्फ अक्षय नहीं, इन सुपर स्टार्स ने भी साड़ी पहन बड़े पर्दे पर मचाया था धमाल

हाल ही में सना ने सोशल मीडिया पर बॉलीवुड छोड़ने का ऐलान करते हुए उसका कारण अपना मजहब बताया। सना ने इंस्टाग्राम पर एक लंबा मैसेज लिखा-  मैं अपने पैदा करने वाले के हुक्म पर फिल्म इंडस्ट्री को छोड़ रही हूं। मुझे यहां अपने चाहने वालो से शोहरत, इज्जत और दौलत सब कुछ मिला जिसके लिए मैं अहसानमंद हूं। मैं अरसे से दो सवालों का जवाब ढूंढ रही हूं। पहला ये कि क्या इंसान को यह नहीं सोचना चाहिए कि उसे किसी भी वक्त मौत आ सकती है और दूसरा ये कि मरने के बाद उसका क्या बनने वाला है?

अपनों के जाने का गम नहीं भुला पा रहे हैं दिलीप कुमार-सायरा बानो, लिया यह बड़ा फैसला

इन सवालों का जवाब खुद ही लिखते हुए उन्होंने बताया कि जब मैंने अपने मजहब में तलाश किया तो मुझे अहसास हुआ कि ये जिंदगी असल में मरने के बाद की जिंदगी को अच्छा बनाने के लिए है और वो इसी शर्त पर बेहतर होगी, जब मैं अल्लाह के हुक्म पर चलूंगी ये तभी होगा जब मैं दौलत-शोहरत को अपना मकसद ना बनाऊं।

विनोद खन्ना (vinod khanna)

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

One of the best actors

A post shared by vinod khanna (@real_vinod_khanna) on Jul 15, 2018 at 7:57am PDT

सुपरस्टार विनोद खन्ना को किसी परिचय की जरूरत नहीं है। विनोद को ब्लड कैंसर था और इसी वजह से उन्होंने 27 अप्रैल 2017 को मुंबई में अंतीम सांस ली। 

एक इंटरव्यू में विनोद ने बताया था कि 'भले ही उनके पास दौलत-शोहरत है लेकिन उन्हें एक कमी सी लगती है' इसी वजह से संन्यास का फैसला लिया और अमेरिका में आध्यात्मिक गुरु ओशो के आश्रम चले गए। वहां विनोद ने पेड़-पौधों की रखवाली करनी शुरु की। वो काफी समय तक भारत नहीं आए तो मीडिया में भी उनकी खबरें आनी बंद हो गईं। फिर 1985 में एक खबर आई और वो भी उनके तलाक की। 5 साल के बाद वह भारत लौटे। फिर उन्होंने बॉलीवुड में हाथ आजमाया और फिल्म 'इंसाफ' की। 

ममता कुलकर्णी (mamta kulkarni)

अपने समय की बोल्ड अभिनेत्री ममता कुलकर्णी का करियर जितना सफल रहा उतना ही विवादो से भी घिरा रहा। ममता ने सलमान खान, आमिर खान, गोविंदा सभी के साथ काम किया। 20 अप्रैल 1972 को मुंबई में जन्मीं ममता कुलकर्णी ने 1992 में रिलीज हुई फिल्म 'तिरंगा' से अपने करियर की शुरुआत की इस फिल्म में उनका छोटा सा रोल था। साल 1993 में आई फिल्म 'आशिक आवारा' ममता की पहली हिट फिल्म रही। उन्होंने 'करण अर्जुन', 'क्रांतिवीर', 'वक्त हमारा है', 'बाजी' जैसी कई हिट फिल्में दीं।

इसके अलावा ममता कुलकर्णी का अफेयर अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन के साथ रहा। छोटा राजन ने राजकुमार संतोषी जैसे बड़े डायरेक्टर्स को धमकाकर कई बार ममता कुलकर्णी को उनके पसंद के किरदार दिलवाए। फिल्मी करियर को अलविदा कहने के बाद ममता ने ड्रग स्मग्लर विक्की (विक्रम गोस्वामी) से शादी कर ली। जिसके बाद ममता दुबई चली गई और करीब 10 साल वहां विक्रम के साथ रही। इन दोनो को केन्या में गिरफ्तार किया गया था। ड्रग स्मग्लिंग में नाम आने के बाद ममता कुलकर्णी का करियर खत्म हो गया। अब ममता सन्यासिनी का जीवन जी रही हैं।

जायरा वसीम (zaira wasim)

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

#zairawasim

A post shared by zaira wasim official🌀 (@zairawasim._officiall) on Jul 23, 2020 at 10:25am PDT

फिल्म 'दंगल' (Dangal) से अपनी एक अलग पहचान बनाने वाली जायरा वसीम (Zaira Wasim) ने भी बॉलीवुड को अलविदा कह दिया था। इस बात का ऐलान जायरा ने अपने सोशल मीडिया पर 6 पेज की पोस्ट लिखकर किया था। उन्होंने इस फैसले के पीछे अपने ईमान को वजह बताया है। उनका मानना था कि बॉलीवुड में फिट होते-होते वो अपने ईमान से दूर होते जा रही थीं।

सोशल मीडिया पर अपनी इस पोस्ट में जायरा ने लिखा था कि पांच साल पहले उन्होंने बॉलीवुड में कदम रखने का फैसला लिया था जिससे उनकी जिंदगी बदल गई। उन्हें लोगों का प्यार मिला, सपोर्ट मिला, अलग पहचान मिली जिससे वो बहुत ही खुश थी। इन पांच सालों में उन्हें काफी शोहरत भी मिली जो उन्हें कभी नहीं चाहिए था। इसके आगे जायरा लिखती हैं कि 'मैं बॉलीवुड में फिट हो रही हूं लेकिन ये मेरी जगह नहीं है, इसकी वजह से मैं अपने ईमान से दूर होती जा रही हूं।' 

अनु अग्रवाल (anu aggarwal)

21 साल की उम्र में इंडस्ट्री में कदम रखने वाली अनु ने 'आशिकी' में अपने शानदार अभिनय से दर्शकों का मन मोह लिया। फिल्‍म के गाने आज भी चर्चित हैं। इसके बाद भी उनकी 'गजब तमाशा', 'खलनायिका', 'कन्‍यादान' और 'किंग अंकल' जैसी कई फिल्‍में आई और चली गई, पता ही नहीं चला।

उन्‍होंने एक तमिल फिल्‍म 'थिरुदा थिरुदा' में भी काम किया। वे 1995 में शॉर्ट फिल्‍म 'द क्‍लाउड डोर' में दिखीं जिससे एकबार फिर वे चर्चा में आईं। 1996 में वे आखिरी बार फिल्‍म 'रिटर्न ऑफ ज्‍वेल थीफ' में नजर आई। 1996 में अनु ने इस चकाचौंध भरी दुनिया को अलविदा कह योग और अध्‍यात्म को अपना लिया।

comments

.
.
.
.
.