Friday, Dec 03, 2021
-->
bollywood celebrities who started their careers as child artistes jsrwnt

बचपन से पचपन तक, पढ़ें इन बॉलीवुड सुपरस्टार्स का सफर जो आज भी करते हैं दिलों पर राज

  • Updated on 5/25/2021
  • Author : Jyotsna Rawat

नई दिल्ली/ ज्योत्सना रावत। हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में बहुत से सितारे आए और गए या बहुत से ऐसे भी हैं जिन्होंने कई यादगार फिल्में इंडस्ट्री को दी जिन्हें ताउम्र नहीं भुलाया जा सकता। लेकिन ऐसे सितारे जिनका जलवा बचपन से लेकर पचपन तक इंडस्ट्री में बरकरार है। जी हां हम उन सितारों की बात कर रहे हैं जो फिल्मों में बचपन से अबतक कायम हैं और अभी भी उनका स्टारडम कम नहीं हुआ। आज भी लोग उनकी एक झलक पाने के लिए बेकरार रहते हैं। चलिए आज आपको ऐसे ही कुछ सितारों के बारे में बताते हैं जिन्होंने लगातार कई सालों से अपने पैर इंडस्ट्री में जमा रखे हैं। 

आमिर खान (Aamir khan)

मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान 56 साल के हो चुके हैं और उनके स्टारडम में कोई कमी नहीं आई बल्कि पहले से भी ज्यादा लोग उन्हें प्यार करने लगे हैं। आमिर ने बतौर चाइल्ड एक्टर अपने करियर की शुरुआत की थी फिल्म 'यादों की बारात' (1973) से। लेकिन उन्हें 'कयामत से कयामत तक' से पहचान मिली थी। इंडस्ट्री में लागभग 27 सालों से ज्यादा समय से राज कर रहे आमिर का विदेशों में भी बहुत क्रेज है।आमिर खान फिल्में कम करते हैं लेकिन उनकी एक फिल्म कई फिल्मों के बराबर होती है। 

संजय दत्त (sanjay dutt)

संजय दत्त की जिंदगी भले ही उतार- चढ़ाव से भरी रही लेकिन उन्होंने कभी हार नहीं मानी। स्टारडम के मामने में मुन्नाभाई किसी से कम नहीं हैं। खलनायक' से लेकर 'मुन्ना भाई एमबीबीएस' तक संजय दत्त ने करोड़ों फैन्स के दिलों पर राज किया है। 61 साल के संजय ने बाल कलाकार के रूप में शुरुआत की थी। उन्होंने अपने पिता द्वारा निर्मित फिल्म 'रेशमा और शेरा' में काम किया था और एक कवाली गायक के रूप में दिखाई दिए थे। 

रेखा (Rekha) 

रेखा 66 की उम्र में भी 30 या 35 की लगती हैं। आज भी लोग उनसे बेहद प्यार करते हैं और उनकी एक झलक पाने के लिए बेकरार रहते हैं। रेखा ने करियर की शुरूआत 1966 में बाल कलाकार के तौर पर तेलगु फिल्म 'रंगुला रतलाम' सेे की थी। मुख्य अभिनेत्री के तौर पर उनका डेब्यू चार साल बाद फिल्म 'सावन भादो' से हुआ था।

नीतू सिंह (Neetu Singh)

एक जमाना था जब नीतू सिंह के सब दीवाने हुआ करते थे। ऋषि कपूर और नीतू सिंह की जोड़ी स्क्रीन पर आते ही लोगों के दिलों पर इस कदर छा गई की वो एक साथ 12 फिल्मों में नजर आए थे। नीतू 62 साल की हो गईं हैंस लेकिन आज भी उनमें उतनी ही एनर्जी देखने को मिलती है। नीतू के फिल्मी करियर की शुरुआत मात्र 8 साल की उम्र में हुई थी। 60 के दशक में उन्होंने दो कलियां, पवित्र पापी और वारिस जैसी फिल्में चाइल्ड आर्टिस्ट के रूप में की थी और उन दिनों इनका स्क्रीन नेम बेबी नीतू या बेबी सोनिया हुआ करता था।

इस लिस्ट में इन दो कलाकारों का नाम शामिल न करें तो ये अधूरी रहेगी। हम बात कर रहे हैं ऋषि कपूर (rishi kapoorऔर श्री देवी (sridevi) की। जिनके योगदान के बिना हमारा हिंदी सिनेमा ही अधूरा रह जाता। हालांकि दोनों ही अब हमारे बीच नहीं है, इस दुनिया को अलविदा कह चुके हैं। 

ऋषि कपूर (rishi kapoor)

बॉलीवुड के चॉकलेटी बॉय रहे ऋषि कपूर (rishi kapoor) करीब दो साल तक कैंसर से जंग लड़ने के बाद 30 अप्रैल 2020 को इस दुनिया से अलविदा कह गए थे। ऋषि कपूर ने बतौर बाल कलाकर फिल्मों में कदम रखा। उन्होनें अपने पिता राज कपूर (Raj kapoor) की फिल्म 'श्री 420' के एक गाने, प्यार हुआ इकरार हुआ में उनकी एक झलक नजर आई थी। 80 से 90 के दशक में ऋषि को सबसे ज्यादा फेम हासिल हुआ। उस जमाने में ऋषि बेहद खूबसूरत एक्टर में गिने जाते थे। अपनी पहली फिल्म 'बॉबी' से ही उन्होंने ये साबित कर दिया की वह लंबे रेस के घोड़े हैं। 

श्री देवी (sridevi) 

चांदनी यानि श्रीदेवी ने भले ही 24 फरवरी 2018 में दुनिया से अलविदा कह दिया था, लेकिन वह आज भी लोगों के दिलों में बरकरार हैं। खास बात यह है कि बॉलीवुड के बहुत से गानों को श्रीदेवी ने अपने डांस की वजह से सुपरहिट बनाया।श्रीदेवी ने बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट 'बाला भरतम', 'प्रार्थनाइ', 'नाम नाडू', 'बाबू', 'भक्त कुमबारा' जैसी फिल्मों में काम किया।इसके अलावा श्रीदेवी को 'मिस्टर इंडिया', 'सदमा', 'चालबाज', 'चांदनी' जैसी कई बेहतरीन फिल्मों के लिए जाना जाता है। पद्मश्री से सम्मानित अभिनेत्री की आखिरी फिल्म 2017 में आई 'मॉम' थी।

comments

.
.
.
.
.