Tuesday, Dec 06, 2022
-->
brilliant performance of starcast in jalsa sosnnt

’जलसा' में विधात्री बंदी, सूर्या काशीभटला और शफीन पटेल ने छोड़ी है कभी न भूलने वाली छाप

  • Updated on 3/26/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। अमेजन ओरिजिनल 'जलसा' को रिलीज के बाद से ही दर्शकों से शानदार रिव्यूज मिल रहे है। एक स्टेलर स्टार कास्ट के साथ, फिल्म अपनी अद्भुत कहानी और कुछ शानदार प्रदर्शनों से सभी का दिल जीत रही है। विद्या बालन और शेफाली शाह जैसे दमदार एक्टर्स की उपस्थिति के अलावा, 'जलसा' तीन स्टार कलाकारों- विधात्री बंदी, सूर्या काशीभटला और शफीन पटेल को साथ लेकर आई, जिन्होंने विश्व स्तर पर दर्शकों पर अपनी छाप छोड़ी।

कहा जा रहा है कि 'जलसा' को उसके एक्टर्स द्वारा अच्छी तरह से परोसा गया है, जहां विद्या ने माया के रूप में एक टॉप जर्नलिस्ट की भूमिका निभाई, जबकि रुखसाना के रूप में शेफाली को इस ड्रामा थ्रिलर में माया के रसोइए की भूमिका में देखा गया था। इसके अलावा, विधात्री बंदी, सूर्या काशीभटला और शफीन पटेल की उपस्थिति के साथ फिल्म की इंटेंसिटी को बरकरार रखा गया -फिल्म में उनके बारीक प्रदर्शन को देख सिर्फ यही कहा जा सकता है कि सुरेश एक्टर्स के रूप में ट्रेजर मिल गया हो।

दरअसल "जलसा" में सेरेब्रल पाल्सी से पीड़ित एक बच्चे की भूमिका है, जिसे एक्टर ने सेम डिसेबिलिटी के साथ निभाया है, इसे फिल्म के निर्देशक और कलाकार दुनिया के सबसे बड़े फिल्म इंडस्ट्री में से एक में समावेशिता का एक रेयर साइन मानते हैं। फिल्म में मां और बेटे के रिश्ते के बीच की गहराई दिखाई गई है और भारतीय मूल के टेक्सास में रहने वाले 14 साल के  सूर्य काशिभटला, जिन्हें सेरेब्रल पाल्सी है, ने विद्या बालन के बेटे की भूमिका निभाई हैं, जिसे हर तरफ सराहा जा रहा है। विधात्री बंदी एक ऐसी अभिनेत्री है जो पहले कुछ प्रोजेक्ट्स में अभिनय कर चुकी है, और इसमें उन्हें रोहिनी की भूमिका निभाते देखा गया है, एक ट्रेनी रिपोर्टर जिसने अपने किरदार को बाखूबी निभाया है, और फिर शफीन पटेल, जिन्होंने कई फिल्मों में अपनी मौजूदगी दर्ज कराई है, ने शरद की भूमिका निभाई, साथ ही रुक्साना के बेटे ने भी फिल्म में यादगार प्रदर्शन किया है।  

तीनों के बारे में बोलते हुए, निर्देशक सुरेश त्रिवेणी ने साझा किया, "सबसे पहले, मैं बेहद उत्साहित होता हूं जब मेरे अभिनेता और तकनीशियन ... सभी को ड्यू मिलता है। इन तीन पवित्र आत्माओं के बारे में, विधात्री बंदी, सूर्य काशिभटला, और शफीन पटेल- एक कहानी में क्या होता है, जबकि कहानी का नेतृत्व करने वाले कप्तान होते हैं, खासकर जब कलाकारों की बात आती है ... दो टॉप क्लास एक्टर्स हैं जो इसका नेतृत्व करते हैं लेकिन इसके अलावा कहानी को आगे बढ़ने की जरूरत है और जहां भी कहानी थोड़ी कमजोर होती है, वह अभिनेता हैं जो आगे का रास्ता तय करते हैं। मेरे लिए, विधात्री वह है जो शुरू में मेरी प्राथमिकताओं में सबसे ऊपर नहीं थी, लेकिन अचानक एक दिन मैंने उसका ऑडिशन देखा, और तभी धमाका हुआ, वह मेरे लिए काम करती है। क्योंकि एक धोखेबाज़ ट्रेनी के रूप में वह छा गई। उन्होंने अपने रोल के साथ न्याय किया है। इसलिए, मैं भविष्य में उससे बहुत उम्मीद कर रहा हूं क्योंकि वह निश्चित रूप से एक रेवेलेशन है। सूर्या को लेकर पहले भी काफी बातचीत हो चुकी है। यह कभी नहीं सोचा गया था कि हमें एक समावेशी फिल्म बनाने की जरूरत है, यह एक स्पष्ट विकल्प था। मैं किसी ऐसे व्यक्ति को बहुत करीब से जानता हूं जिसे सेरेब्रल पाल्सी है, इसलिए मेरे लिए यह ऐसा कुछ नहीं था जिसे कहानी में जबरदस्ती डाला गया हो, यह बहुत नेचुरल थाय़।"
 
उन्होंने आगे बात करतें हुए कहा, “शफीन के बारे में, वह बहुत खुश थे। वह कोई है जिसे मैं युवा शरीर में बूढ़ी आत्मा कहता हूं। वह कहानी में एक ऑब्जर्वर की तरह थे और मुझे लगता है कि उनके पास कुछ 5 से 6 डायलॉग हैं, लेकिन फिर भी जिस तरह से वह सीन्स को समझते हैं, वह किसी सीनियर अभिनेता से कम नहीं है। वह कोई है जो ऑब्जर्वेंट है। मुझे एक दिन याद है जब वह विद्या और शेफाली को परफॉर्म करते हुए देख रहे थे और वह हैरान थे कि वे इतने स्वाभाविक रूप से उनकी आंखों में आंसू कैसे ला सकती हैं और उन्होंने मुझसे पूछा, "यह कैसे करें?" और उसने उस से पूछा, क्या तुम मेरे शॉट के लिए ऐसा करोगे, और उस ने कहा, हां! तो वह मेरे लिए ऑब्जर्रवर के रूप में आ गया ... वह कोई है जो लगातार दोनों तरफ एक जागरूक के रूप में कार्य कर रहा है। और मैं बहुत खुश हूं कि वह इतना नेचुरल लड़का है। उनका कोई एक्टिंग बैकग्राउंड नहीं है। इससे पहले उन्होंने एक खूबसूरत फिल्म की है। इन दोनों लड़कों के बीच की केमिस्ट्री ने सब कुछ कहा और किया,  मैंने ऐसे बच्चों के साथ कभी काम नहीं किया। यह एक चुनौती हो सकती है लेकिन मुझे लगता है कि विधात्री के साथ ये दो बच्चे एक डिलाइट और रेवेलेशन हैं। ”

मंत्रमुग्ध कर देने वाले प्रदर्शनों और एक दिलचस्प स्टोरीलाइन से भरपूर, जलसा आपको अपनी सीटों से चिपके रहने के लिए मजबूर कर देगी साथ ही कहानी में आगे क्या होगा, ये जानने की उत्सुक्ता को भी बढ़ा देगी। बता दें, विद्या और शेफाली के अलावा, फिल्म में मानव कौल, रोहिणी हट्टंगड़ी, इकबाल खान, विधात्री बंदी, श्रीकांत मोहन यादव, शफीन पटेल और सूर्या काशिभटला जैसे कलाकार महत्वपूर्ण भूमिका में हैं। जलसा' का ग्लोबल प्रीमियर 18 मार्च, 2022 को अमेजन प्राइम वीडियो पर भारत और दुनिया भर के 240 देशों और क्षेत्रों में हुआ था।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.