Tuesday, Nov 30, 2021
-->
chunky pandey supports sajid khan for metoo Allegations

Metoo के एक साल बाद चंकी ने किया साजिद खान का सपोर्ट, कहा- हुई थी गलतफहमी!

  • Updated on 9/13/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बॉलीवुड में तनुश्री दत्ता (Tanushree dutta) के मीटू (Metoo) के अभियान के चलते यौन शोषण पर आवाज उठाने के बाद ऐसी कई महिलाएं सामने आईं जो इस उत्पीड़न को लंबे समय से झेलती आ रही थीं। वहीं Metoo के तहत इंडस्ट्री के कई बड़े सितारों के नाम आरोपियों की लिस्ट में शामिल थे। उन्हीं में से एक नाम सामने आया था मशहूर डायरेक्टर साजिद खान (Sajid khan) का। कई महिलाओं ने साजिद पर यौन उत्पीड़ के आरोप लगाए थे जिसके बाद उन्हें बैन कर दिया गया। वहीं अब एक्टर चंकी पांडे (chunky pandey) साजिद खान के सपोर्ट में आए हैं।

SOTY 2: बेटी अनन्या का डेब्यू देख भावुक हुए चंकी पांडे

Metoo के एक साल बाद चंकी ने किया दोस्त का सपोर्ट
पिछले साल मीटू अभियान ने पूरे देश में तहलका मचाया हुआ था। वहीं अब इसके पूरे एक साल बाद साजिद के बचपन के दोस्त चंकी पांडे ने उनका सपोर्ट किया है। हाल में एक इंटरव्यू के दौरान चंकी ने बताया कि, "जब उन्हें इस पूरे मामले के बारे में पता लगा तो वो काफी हैरान थे"।

यौन शोषण के आरोपों के बाद पहली बार पब्लिक में नजर आए साजिद खान

साजिद के बिंदास बोलने पर लोग उन्हें गलत समझ लेते हैं
उन्होंने कहा कि "साजिद काफी बिंदास बोलने वाले इंसान हैं शायद इसलिए लोग उन्हें गलत समझ लेते हैं। लेकिन उनकी बातों का कोई गलत मतलब नहीं होता। मैं साजिद को बचपन से जानता हूं। उस वक्त मीटू काफी गर्माया हुआ था और इसी के चलते सभी एक्सपोस हो रहे थे"।

क्या फिर से रिलेशनशिप में वापस आए जैकलीन फर्नांडीस और साजिद खान!

हासफुल 4 से निकाले जाने पर हुआ था काफी दुख
चंकी ने आगे बताया, "उस समय साजिद पर लगे ये आरोप हम सभी को चौंकाने वाले थे। वहीं 'हाउसफुल 4' के प्रोड्यूसर पर काफी दवाब डाला गया साजिद को फिल्म से निकालने के लिए। इसलिए प्रोड्यूसर ने साजिद को फिल्म से निकालने का फैसला लिया"।

#MeToo Effect: बॉलीवुड की इस भाई-बहन जोड़ी के बीच कोल्ड वॉर, बढ़ी दूरियां

इस काम के लिए की साजिद की तारीफ
"मुझे पता है साजिद के लिए ये सब देखना काफी मुश्किल रहा है, लेकिन मैं उनकी तारीफ करूंगा कि उन्होंने सब अच्छे से हैंडल किया। फिल्म से साजिद का जाना हम सभी के लिए दुख की बात थी"।

 

comments

.
.
.
.
.