Monday, May 10, 2021
-->
delh high court asked news channels to not telecast defamatory content jsrwnt

दिल्ली हाई कोर्ट ने न्यूज चैनल्स को अपमानजनक कंटेंट न टेलीकास्ट करने की दी चेतावनी

  • Updated on 11/10/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। दिल्ली उच्च न्यायालय (Delhi High Court) ने सुशांत सिंह राजपूत डेथ केस (Sushant Singh Rajput) की कवरेज को लेकर मीडिया हाउस और पत्रकारों को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। कोर्ट ने न्यूज चैनल्स को अपमानजनक कंटेंट टेलीकास्ट न करने और साथ ही सोशल मीडिया पर भी सोच समझकर पोस्ट करने की चेतावनी दी है।

बता दें कि कुछ दिनों पहले 4 फिल्म एसोसिएशन और 34 फिल्म निर्माताओं ने दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी,  जिसमें कुछ न्यूज चैनल्स और पत्रकारों पर बॉलीवुड को बदनाम करने का आरोप लगाया था। कोर्ट ने सोमवार को यह नोटिस उन 34 फिल्म प्रोड्यूसर्स की याचिका पर सुनवाई के बाद जारी किया। मामले की अगली सुनवाई 14 दिसंबर को होगी।

फिल्म Laxmii को देखने के बाद ‘लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी’ ने बांधे अक्षय के तारीफों के पुल

बता दें कि प्रोड्यूर्स गिल्ड ऑफ इंडिया (Producers Guild of India) ने बॉलीवुड को सपोर्ट करते हुए एक ओपन लेटर लिखा था। इस लेटर में प्रोड्यूर्स गिल्ड ऑफ इंडिया ने लिखा है कि पिछले कुछ समय से बॉलीवुड पर लगातार हमले हो रहे हैं जिससे इसकी छवि बुरी तरह से बिगड़ रही है जो कि गलत है। अक्टूबर में 4 फिल्म एसोसिएशन और 34 फिल्म निर्माताओं ने भी दिल्ली हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी।

ओपल लेटर में लिखी गई ये बात
इस ओपन लेटर में प्रोड्यूर्स गिल्ड ऑफ इंडिया ने लिखा था 'एक युवा एक्टर की मौत को कुछ लोगों द्वारा फिल्म इंडस्ट्री और इससे जुड़े लोगों को बदनाम करने के लिए किया जा रहा है। फिल्म इंडस्ट्री को आउटसाइडर्स के लिए एक बहुत ही भयावह जगह के रूप में पेश किया जा रहा है। ऐसा दिखाया जा रहा है कि बाहर से आने वाले लोगों को बॉलीवुड में भेदभाव किया जाता है और उन्हें बिना समझौता किए और बिना शर्तों के आगे नहीं बढ़ने दिया जाता है। ऐसी बातों को मीडिया द्वारा अपनी रेटिंग्स बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है लेकिन ये सारी बातें गलत हैं।'

खत्म हुआ इंतजार यहां होगा अक्षय की LAXMII का दीदार, यहां क्लीक कर देखें

इसके आगे लेटर में लिखा गया है कि 'बाकी सेक्टरों की तरह फिल्म इंडस्ट्री में कई सारी कमियां हैं लेकिन पूरी इंडस्ट्री को एक ही चश्मे से देखने से वास्तविकता का पता नहीं चलेगा। कमियों से सीखकर और बरी चीजों को हटाकर उसे और भी बेहतर बनाने की कोशिश की जाती है। फिल्म इंडस्ट्री ने लाखों लोगों को रोजगार दिया है और दुनियाभर के कलाकारों को एक प्लेटफॉर्म देती आई है। इतना ही नहीं, इस इंडस्ट्री ने टूरिज्म को भी खूब बढ़ावा दिया है। 100 सालों से ज्यादा समय से फिल्म इंडस्ट्री लोगों का मनोरंजन करते आई है। जरूरत पड़ने पर फिल्म इंडस्ट्री हमेशा लोगों की मदद के लिए आगे आई है।

comments

.
.
.
.
.