Wednesday, Jan 26, 2022
-->
film-uri-hightest-collection

हिंदी सिनेमा के सारे रिकॉर्ड तोड़ 'उरी' ने हासिल किया ये मुकाम

  • Updated on 4/1/2019

नई दिल्ली/टीम डिडिटल। सर्जिकल स्ट्राइक पर आधारित फिल्म 'उरी' को सिनेमाघरों में रिलीज हुए काफी समय हो गया है लेकिन अब भी फिल्म दर्शकों के बीच धूम मचा रही है। जी हां, ट्रेड एनालिस्ट तरण आदर्श ने हाल ही में 'उरी' से जुड़ी एक खास जानकारी दी है। उन्होंने ट्वीट कर ये ऐलान किया है कि 'उरी' इतिहास की अब तक की 10वीं सबसे ज्यादा ग्रॉस कलेक्शन करने वाली हिंदी फिल्म बन गई है। 

तरण आदर्श ने ट्वीट कर ये भी बताया है कि 'उरी' ने 'धूम-3', 'सुल्तान', 'पद्मावत', 'बजरंगी भाईजान', 'टाइगर जिंदा है', 'पीके', 'संजू', 'दंगल' और 'बाहुबली-2' से पीछे है। आपको बता दें कि 'बाहुबली-2' हिंदी सिनेमा की अब तक की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म साबित हुई है। फिल्म ने बॉक्स आफिस पर कुल मिलाकर 244 करोड़ 06 लाख का बिजनेस किया है।

 कंगना का ये funny video देखकर हंसते-हसंते हो जाएंगे पागल

वहीं कुछ 26 को जब भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान को उसी के घर में घुसकर पुलवामा आतंकी हमले का जवाब दिया था, तब भारत में खुशी की लहर दौड़ गई थी। सोशल मीडिया पर हर दूसरा इंसान विक्की कौशल की फिल्म 'उरी' का मशहूर डायलॉग Hows the Josh का नारा लगाते हुए नजर आ रहा था। इसी बीच खबर आई कि महज दो दिनों में सर्ज‍िकल स्ट्राइक पर आधारित फिल्म उरी की ऑनाइन डॉउनलोड‍िंग सर्च तेजी से बढ़ गई है।

जी हां, 26 फरवरी को भारतीय वायुसेना द्वारा हुई दूसरी सर्ज‍िकल स्ट्राइक के बाद लोगों में उत्साह पैदा हो गया है कि सर्ज‍िकल स्ट्राइक वाकई में होती कैसे है। जिस वजह से सभी फिल्म 'उरी' को डाउनलोड कर रहे हैं। जी हां, र‍िपोर्ट के मुताब‍िक देश में सर्ज‍िकल स्ट्राइक को देखने के लिए लोग फिल्म को डाउनलोड‍िंग वेबसाइट टॉरेंट पर तेजी से डाउनलोड कर रहे हैं। 

इंदौर पहुंचते ही सलमान को याद आया अपना बचपन, भाई अरबाज के साथ किया ये Video शेयर

बता दें कि 'उरी' की टीम ने भारतीय वायुसेना को सलाम करते हुए कहा था कि 'भारतीय वायुसेना और इंटेलीजेंस डिपार्टमेंट को सलाम। भारत पलट कर जवाब देगा। जय हिंद।'

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.