Monday, Aug 15, 2022
-->
FIR against Ram Gopal Varma sosnnt

द्रौपदी मुर्मू पर टिप्पणी करना Ram Gopal Varma को पड़ा महंगा, BJP नेताओं ने दर्ज की शिकायत

  • Updated on 6/28/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बॉलीवुड के मशहूर डायेक्टर राम गोपाल वर्मा अकसर अपने विवादित ट्वीट और बयानों को लेकर खबरों में बने रहते हैं। वहीं एक बार फिर फिल्ममेकर अपने एक ट्वीट की वजह से खुर्खियों में आ गए हैं। दरअसल, उन्होंने हाल ही में एनडीए की राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू (Draupadi Murmu) पर एक विवादित ट्वीट किया था, जिसकी वजह से अब वह कानूनी पचड़े में फंसे गए हैं।

राम गोपाल वर्मा के खिलाफ मुकदमा दर्ज
बता दें कि राम गोपाल वर्मा के खिलाफ लखनऊ की हजरतगंज कोलवाली में आईटी एक्ट सहित कई धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ है। यह मुकदमा मनोज सिंह ने हजरतगंज कोलवाली में दर्ज कराया है।

ट्वीट में फिल्ममेकर ने लिखा था कि 'अगर द्रौपदी राष्ट्रपति है, तो पांडव कौन है? उससे भी जरूरी यह है कि कौरव कौन है?' राम गोपाल वर्मा ने अपने ट्वीट के जरिए द्रौपदी मुर्मु के नाम को महाभारत से जोड़ने की कोशिश की है। ऐसी टिप्पणी की वजह से बीजेपी नेताओं ने नाराजगी जाहिर की है और रोम गोपाल वर्मा को गिरफ्तार करने की मांग की है। उनका आरोप है कि फिल्ममेकर ने अपने ट्वीट से धार्मिक भावनाओं को चोट पहुंचाते हुए कौरवों और पांडवों को गलत ढंग से प्रस्तुत किया है। वहीं ट्विटर पर कई लोगों ने फिल्ममेकर की निंदा की थी। ऐसे में विवाद बढ़ता देख शुक्रवार को राम गोपाल वर्मा ने इस पूरे मामले में अपनी सफाई दी।

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में लिखा, "यह पुरी ईमानदारी से विडंबना के तौर पर कहा गया है और इसका कोई अन्य मकसद नहीं है। द्रौपदी महाभारत में मेरा पंसदीदा किरदार है लेकिन चूंकि यह नाम बहुत रेयर है, मुझे इससे जुड़े किरदार याद आ गए और मैंने यही जताया। मेरा इदारा किसी की भी भावनाओं को आहत करने का नहीं है।"

comments

.
.
.
.
.