B'day Spl: काफी मनाने के बाद पटौदी खानदान की बहू बनीं थीं शर्मिला, कुछ एेसी थी 'Love Story'

  • Updated on 12/7/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। वो मासूम सी लड़की जो अभीनेत्री बनना भी नहीं चाहती थी पर जब अभिनय की दुनिया में कदम रखा तो अपनी एक अलग पहचान बना ही ली। हम बात कर रहे हैं बॉलीवुड की जानी-मानी अभीनेत्री शर्मिला टैगोर की। 8 दिसंबर को शर्मिला 74 साल की हो जाएंगी। शर्मिला का जन्म हैदराबाद में हुआ था। उनके पिता गितेन्द्रनाथ टैगोर 'टैगोर एल्गिन मिल्स' के ब्रिटिश इंडिया कंपनी के महाप्रबंधक थे।

sharmila tagore and husband के लिए इमेज परिणाम

शर्मिला ने अपनी खूबसूरती और अदाकारी से सबका दिल जीत लिया थी। अपने करियर में कई कामयाब फिल्में देखर शर्मीला ने अपने चाहने वालों को काफी इंप्रेस किया लेकिन जो इंसान शार्मिला से सबसे ज्यादा प्रभावित हुए वो थे उनके पति मंसूर अली खान पटौदी। 

संबंधित इमेज

शर्मिला और मंसूर की लव स्टोरी किसी फिल्म से कम नहीं है। एक दोस्त के जरिए मंसूर और शर्मिला की पहली मुलाकात किसी कार्यक्रम में हुई थी। शर्मिला जहां इस डैशिंग नवाब को देखते ही फिदा हो गई थीं वहीं पटौदी शर्मिला की मुस्कान के कायल थे। देखते ही देखते दोनों एक-दूसरे काफी करीब आ गए थे। 

संबंधित इमेज

दिलचस्प बात यह है कि शर्मिला को तो थोड़ी बहुत क्रिकेट की नॉलेज तो थी लेकिन मंसूर को फिल्मों के बारे में कुछ भी नहीं पहता था फिर भी दोनों का रिश्ता हर तरह से कामयाब रहा।

मंसूर शर्मिला को प्रपोज तो कर चुके थे लेकिन शर्मिला ने अभी हां नही कहा था। फिर मंसूर ने शर्मिला को मनाने के लिए फ्रिज गिफ्ट कर दिया। उस समय उपहार के रूप में फ्रिज देना बड़ी बात होती थी। इतना ही नहीं मंसूर शर्मिला को समय-समय पर फूल और खत भी भेजते रहते थे।

sharmila tagore and mansoor ali khan pataudi के लिए इमेज परिणाम

उसी दौरान मंसूर का मैच था तब शर्मिला ने मैच के दौरान शर्त रखी कि अगर वो लगातार तीन सिक्सर लगाकर मैच जिता देते हैं तो वो उनसे शादी कर लेंगी। मैच जीतने के लिए 18 रनों की जरूरत थी। फिर क्या था टाइगर ने भी जोर लगाया और शर्मिला को पाने के लिए उन्‍होंने लगातार तीन सिक्सर जड़ भारत को मैच जिता दिया था।

संबंधित इमेज

तीन साल के इंतजार के बाद आखिरकार शर्मिला ने पटौदी को शादी के लिए हां बोल दिया। 1 मार्च 1967 में उनकी मंगनी हुई और 27 दिसंबर, 1969 को बाल्व डेर स्टेट कोलकाता में शादी हुई थी। दोनों ने एक लंबा समय एक दूसरे को दिया और इसके तीन बच्चे भी हुए।

संबंधित इमेज

एक समया एेसा आया जब मंसूर ने शर्मिला का साथ छोड़ दुनिया को अलविदा कर दिया। 22 सितंबर 2011 को उनकी मृत्यु हो गई लेकिन शर्मिला ने अपने आपको को संभाला और बच्चों-परिवार को अकेले संभाला। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.