Saturday, Oct 01, 2022
-->
happy-birthday-to-bollywood-melodious-singer-asha-bhosle-read-some-unknown-facts

B'day Special: जब आरडी बर्मन ने आशा ताई को गुलदस्ते में रख कर दिया था झाड़ू

  • Updated on 9/8/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। संगीत की मल्लिका जिन्होनें, 'पिया तू अब तो आजा', 'दम मारो दम', 'चुरा लिया है तुमने जो दिल को', 'जरा सा झूम लूं मैं' जैसे कई गानें गाए हैं। जिनके बोल जुबां पर आते ही दिल सचुमच में झूमने लगता है। इसके पीछे वजह है आशा भोसले की सुरीली आवाज। 12 हजार से ज्यादा गानों में अपनी आवाज देने वाली आशा भोसले का 8 सितंबर को जन्मदिन है। इसी के साथ ही आशा ताई 85 साल की हो जाएंगी। आशा ने अपने सिंगिग करियर की शुरुआत 10 साल की उम्र में की थी। आशा ताई के जन्मदिन के मौके पर जानते हैं उनकी जिदंगी से जुड़ी कुछ ऐसी ही दिलचस्प बातें।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

Thank you for the love Bangalore🙏🏻

A post shared by Asha Bhosle (@asha.bhosle) on Jun 10, 2018 at 4:08am PDT

16 साल की उम्र में आशा ने फिल्म ‘रात की रानी’ में पहला सोलो गाना गाया। आशा ने अपने करियर की शुरुआत सिंगर के रूप में की थी वहीं वह एक्टिंग मे भी इंट्रेस्टिड थी। वहीं वह एक बेहतरीन मिमिक्री आर्टिस्ट भी हैं।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

Recently did a radio show🎧

A post shared by Asha Bhosle (@asha.bhosle) on May 24, 2018 at 2:56am PDT

आशा भोसले की उम्र 16 साल की उम्र में गणपतराव भोसले से शादी हुई जो उन्होंने घरवालों के खिलाफ जाकर कर ली थी। उस समय गणपतराव की 31 साल के थे। गणपतराव और आशा भोसले के तीन बच्चे हैं। शादी के 2 साल बाद ही आशा को पति का घर छोड़ना पड़ा।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

Unveiling My Madame Tussaud’s Wax Figure

A post shared by Asha Bhosle (@asha.bhosle) on Oct 5, 2017 at 5:31am PDT

इसके बाद आशा की जिंदगी में आए आरडी बर्मन। आशा भोसले ने आरडी बर्मन से साल 1980 में शादी की। आशा ताई को साफ-सफाई का बहुत ज्यादा ख्साल था, हर चीजें सलीके से रखी जानी चाहिए थी और इस बात से आरडी बर्मन बहुत परेशान होते थे। एक बार आरडी बर्मन ने आशा ताई के जन्मदिन पर फूलों का गुलदस्ता भेंट किया और उसके बीच में एक झाडू रख दिया। 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

You are missed 💕

A post shared by Asha Bhosle (@asha.bhosle) on Jun 27, 2018 at 4:27am PDT

इसके अलावा एक बार सोने का ब्रेसलेट भी गिफ्ट किया उसमें भी नीचे एक छोटा सा झाडू लटका हुआ था। बार-बार यह जताने के लिए की साफ-सफाई वाली झाडू हमेशा अपने साथ ही रखो। 

लेकिन आशा ताई की ये खुशहाल जिंदगी भी ज्यादा दिन चल नही पाई और 14 साल बाद ही पंचम दा आशा भोंसले को अकेले छोड़कर 54 साल की उम्र में इस दुनिया से चले गए। 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

I recently received Banga Bibhushan Award by Chief Minister Mamata Banerjee.. It was an honour

A post shared by Asha Bhosle (@asha.bhosle) on May 26, 2018 at 8:12am PDT

आशा ताई ने कुल 20 भाषाओं में 1000 से ज्यादा फिल्मों में काम किया। 1997 में आशा भोसले पहली भारतीय सिंगर बनी जिनको 'ग्रैमी अवॉर्ड्स' के लिए नॉमिनेट किया गया था। 2012 में आशा ताई का नाम सबसे अधिक गाने के मामले में 'गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स' में दर्ज हुआ। 1947 से लेकर अब तक 20 भारतीय भाषाओं में सोलो, डुएट और कोरस गानों के कारण मिला है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.