Thursday, Dec 02, 2021
-->
kangana ranaut called rihanna a fool when she tweet on farmer protest sosnnt

Rihanna ने किसान आंदोलन का किया समर्थन, कंगना ने कहा- चुप रहो, हम तुम्हारी तरह बेवकूफ...

  • Updated on 2/3/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। पिछले लंबे समय से किसाना आंदोलन (farmer protest) कर रहे हैं और अपनी बात पर अड़े हुए हैं। ऐसे में किसान और केंद्र सरकार के बीच जमकर तानाशाही देखने को मिल रही है। एक तरह जहां किसना अपने हक के लिए लगातार लड़ रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ सरकार अपने फैसलों पर अडिग है। 26 जनवरी को दिल्ली (delhi) में किसानों द्वारा की गई ट्रैक्टर रैली (tractor rally) के बाद पूरे देश में हंगामा मच गया है। 

बड़े पर्दे पर अब Indira Gandhi का किरदार निभाएंगी कंगना, लोगों ने बनाया मजाक

आम जनता के लेकर बॉलीवुड सेलेब्स, सभी इन मामलों पर अपनी अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। इसी बीच हॉलीवुड की पॉप सिंगर रिहाना (Rihanna) ने भी इस मुद्दे पर अपनी राय रखी है। रियाना ने हाल रही में अपने ट्विटर हैंडल पर एक खबर शेयर की है जिसमें लिखा है कि किसान आंदोलन की वजह से हरियाणा की कई जिलों में और दिल्ली के आसपास के इलाकों में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है। इसपर रिहाना ने लिखा कि हम इस विषय पर बात क्यों नहीं कर रहे हैं। 

वहीं कंगना (kangana ranaut) ने रिहाना के इस ट्वीट पर अपना रिएक्शन दिया है। कंगना ने रिहाना के ट्वीट को रीट्वीट 'इसके बारे में कोई भी बात इसलिए नहीं कर रहा है, क्योंकि ये किसान नहीं हैं बल्कि आतंकवादी हैं, जो भारत को बांटना चाह रहे हैं। ताकि चीन जैसे देश हमारे राष्ट्र पर कब्जा जमा ले और यूएसए जैसी चाइनीज कॉलोनी बना दें. तुम शांत बैठो बेवकूफ। हम लोग तुम्हारे जैसे बेवकूफ नहीं हैं जो अपने देश को बेच दें'। 

ग्रेटा और रिहाना के ट्वीट को किया गया रिट्वीट
वहीं रिहाना के बाद अब अब स्‍वीडन की पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग (Greta Thunberg) भी आ गई हैं। 18 साल की ग्रेटा ने ट्वीट करके कहा कि हम भारत में चल रहे किसानों के प्रदर्शन के साथ पूरी एकजुटता के साथ खड़े हैं। वहीं बता दें कि नए कृषि कानूनों (New Farm Law) के विरोध में किसान संगठन दो महीने से अधिक समय से दिल्ली के बॉर्डर (Delhi Border) पर प्रदर्शन कर रहे हैं। इस आंदोलन की चर्चा विदेशों तक पहुंच गया है। 

ग्रेटा और रिहाना दोनों ने ही किसानों के हिंसक प्रदर्शन को देखते हुए दिल्‍ली से सटे इलाकों में इंटरनेट बैन करने की खबर को शेयर किया है। उनके ट्वीट को अब तक करीब 30 हजार लोग रिट्वीट कर चुके हैं। वहीं कई लोग ऐसे हैं जो उन्‍हें किसानों की हिंसा की याद दिला रहे हैं। मिस्‍टर सिन्‍हा ने लिखा, बच्‍ची पहले अपने पैरों पर चलना सीखो और पढ़ाई पूरी करो।

यूजर ने किया Tweet- 'किसानों का प्रदर्शन दिलजीत के चेहरे पर थप्पड़', कंगना का आया रिएक्शन

महिनों से चल रहा है आंदोलन
गौरतलब है कि पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों से हजारों की संख्या में किसान पिछले करीब दो महीने से विवादास्पद तीन नये कृषि कानूनों को रद्द करने और न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारंटी देने की मांग करते हुए प्रदर्शन रहे हैं। तोमर ने लोकसभा में कहा, सरकार किसानों से जुड़े मुद्दों पर संसद के अंदर और बाहर चर्चा करने को तैयार है।

दूसरी ओर, एक प्रश्न के लिखित उत्तर में तोमर ने कहा, मुद्दे के समाधान के लिये सरकार एवं आंदोलनकारी किसान संगठनों के बीच 11 दौर की वार्ता हुई है और सरकार ने कृषि कानूनों में संशोधन के बारे में एक के बाद एक कई प्रस्ताव रखे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि उच्चतम न्यायालय ने हाल ही में कृषि सुधार कानूनों के कार्यान्वयन पर रोक लगा दी है।

यहां पढ़े बॉलीवुड से जुड़ी बड़ी खबरें... 

Farmer Protest: किसानों के प्रदर्शन के समर्थन में आईं पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग, कहीं ये बात 

सरकार किसानों से जुड़े मुद्दों पर संसद के अंदर और बाहर चर्चा करने को तैयार : तोमर 

सुप्रीम कोर्ट गणतंत्र दिवस ट्रैक्टर परेड में हिंसा से जुड़ी याचिकाओं पर करेगी सुनवाई 

किसान आंदोलन: प्रदर्शन स्थल किले में तब्दील, सड़कों पर लोहे की कीलें, विपक्ष ने उठाए सवाल 

सर्वदलीय बैठक में कृषि कानूनों को वापस लिए जाने की मांग, भाजपा का बॉयकॉट 

कृषि कानूनों के मुद्दे पर विपक्ष का भारी हंगामा, नहीं चल सकी लोकसभा की कार्यवाही 

बिजनौर महापंचायत : दिल्ली की सीमाओं पर चल रहा आंदोलन सिर्फ किसानों का

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.