Monday, Mar 01, 2021
-->
kangana ranaut gifts a puppy named gappu chandel to her sister

कंगना ने बहन के बर्थडे पर दिया अनमोल तोहफा, रंगोली बोली- मेरी जिंदगी में हमेशा तुम्हीं लाई हो खुशिया

  • Updated on 12/3/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (kangana ranaut) की बहन रंगोली चंदेल (Rangoli Chandel) का कल यानी 2 दिसंबर को जन्मदिन था। जन्मदिन के मौके पर कंगना ने अपनी बहन रंगोली को अनमोल तोहफा दिया है। ये ऐसा गिफ्ट है जिसे रंगोली हमेशा याद रखेंगी। इसके अलावा कंगना ने शूटिंग के दौरान सेट पर भी अपनी बहन का जन्मदिन मनाया। कंगना ने सोशल मीडिया पर कुछ फोटोज शेयर करके इसकी जानकारी दी। इन फोटोज को देखकर आप भी समझ जाएंगे कि दोनों बहनों में कितना प्यार है।

कंगना ने फोटो शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा-  'मेरी एकलौती बहन को जन्मदिन की शुभकामनाएं। वैसे तो रंगोली हमेशा ही खुश और चुलबुली रहती हैं पर मुझे पता है कि वे एक मां हैं। इसलिए उनके परिवार के लिए एक और सदस्य....दोस्तों मिलें गप्पू चंदेल से' 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Kangana Ranaut (@kanganaranaut)

इसके अलावा कंगना शुटिंग के सेट से समय निकाल कर भी अपनी बहन के जन्मदिन को मनाना नहीं भूली। उन्होंने फोटो शेयर करते हुए लिखा- मेरे डायरेक्टर ने कल मुझे ब्रेक दिया तो हमने रंगोली का जन्मदिन मनाया। 

फोटोज में रंगोली और कंगना के साथ प्यारा सा पपी नजर आ रहा हैं। रंगोली ने भी इंस्टा पोस्ट में कंगना को धन्यवाद करते हुए लिखा, 'मुझे हमेशा से एक पपी चाहिए था, लेकिन सिर्फ तुमसे.... मेरी जिंदगी में जितनी भी खूबसूरत चीजें हुई हैं वो तुम्हारी जरिए आई हैं।

 

बता दें कि कंगना और उनकी बहन रंगोली चंदेल ने बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दायर कर अपने खिलाफ मुंबई पुलिस (Mumbai Police) की एफआईआर रद्द करने की गुजारिश की थी। ये एफआईआर सोशल मीडिया पर किए गए पोस्ट के जरिए समाज में नफरत और सांप्रदायिक तनाव पैदा करने के आरोप में दर्ज की गई थी।

साथ ही कंगना को आठ जनवरी को मुंबई पुलिस के समक्ष उपस्थित होने का भी निर्देश दिया। सोशल मीडिया पर पोस्ट के जरिए कथित रूप से ‘‘घृणा और साम्प्रदायिक तनाव’’ फैलाने का आरोप लगाते हुए रंगोली और चंदेल के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई थी। इस पर बांद्रा की मजिस्ट्रेट अदालत ने पुलिस को मामला दर्ज कर जांच करने का आदेश दिया था। 

जस्टिस एस. एस. शिंदे और जस्टिस एम. एस. कार्णिक की खंडपीठ ने रनौत और चंदेल द्वारा दायर याचिका पर सुनवाई की जिसमें दोनों ने उनके खिलाफ दर्ज प्राथमिकी और 17 अक्टूबर के मजिस्ट्रेट अदालत के फैसले को रद्द करने का अनुरोध किया है। अदालत ने कहा कि पुलिस ने तीन सम्मन जारी किए हैं और उनका सम्मान किया जाना चाहिए। 

comments

.
.
.
.
.